भारत, ऑस्ट्रेलिया ने मोदी-मॉरिसन बैठक के बाद किये महत्वपूर्ण रक्षा समझौते !    कश्मीर में 2 ‘कार बम’ , तलाश के लिये बनाया विशेष दल !    वाशिंगटन में गांधी की प्रतिमा पर किया स्प्रे, भारत ने की शिकायत, अमेरिकी राजदूत ने मांगी माफी !    मोदी-मोरिसन आभासी शिखर सम्मेलन ‘समोसा-खिचड़ी’ डिप्लोमेसी !    श्रमिकों को पूरा मेहनताना देने में असमर्थ नियोक्ता कोर्ट में बैलेंस शीट करें पेश : केन्द्र !    राज्यसभा चुनाव से पहले हलचल शुरु, गुजरात में 2 कांग्रेस विधायकों का इस्तीफा !    विधानसभा कमेटियों पर सियासत हावी, नहीं बनी विशेषाधिकार हनन कमेटी !    चीन के प्राइमरी स्कूल में सुरक्षाकर्मी ने 40 छात्रों, शिक्षकों पर किया चाकू से हमला !    कठोर लॉकडाउन से जीडीपी गिरी औंधे मुंह, अर्थव्यवस्था तबाह !    ऑस्ट्रेलिया के साथ संबंध बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध : मोदी !    

दुनियाभर के 11,000 वैज्ञानिकों ने की जलवायु आपातकाल की घोषणा

Posted On November - 7 - 2019

नयी दिल्ली, 6 नवंबर (एजेंसी)
दुनियाभर के 153 देशों के 11,000 से अधिक वैज्ञानिकों ने वैश्विक जलवायु आपातकाल की घोषणा की है। वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि उन मानव गतिविधियों में व्यापक और स्थायी बदलाव के बिना बहुत बड़ा नुकसान होना तय है जिनका योगदान ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन और जलवायु परिवर्तन से संबंधित अन्य कारकों में होता है। ‘बायोसाइंस’ नामक पत्रिका में मंगलवार को प्रकाशित एक शोध-पत्र में, भारत से 69 सहित 11,258 हस्ताक्षरकर्ताओं ने जलवायु परिवर्तन के वर्तमान लक्षण को प्रस्तुत किया है और इससे निपटने के लिए उठाए जा सकने वाले प्रभावी कदमों का उल्लेख किया है।
जलवायु आपातकाल की घोषणा ऊर्जा उपयोग, पृथ्वाी के तापमान, जनसंख्या वृद्धि, भूमि क्षरण, पेड़ों की कटाई, ध्रुवीय बर्फ द्रव्यमान, उत्पादन दर, सकल घरेलू उत्पाद और कार्बन उत्सर्जन सहित एक व्यापक क्षेत्र को कवर करने वाले सार्वजनिक रूप से उपलब्ध डेटा के 40 से अधिक वर्षों के वैज्ञानिक विश्लेषण पर आधारित है।
अमेरिका के ओरेगन स्टेट यूनिवर्सिटी (ओएसयू) के कॉलेज ऑफ फॉरेस्ट्री में इकोलॉजी के एक प्रोफेसर विलियम जे रिप्पल ने कहा, ‘40 साल से चल रही प्रमुख वैश्विक वार्ताओं के बावजूद, हमने हमेशा की तरह व्यापार करना जारी रखा है और इस संकट को दूर करने में असफल रहे हैं।’ रिप्पल ने एक बयान में कहा, ‘जलवायु परिवर्तन आ गया है और कई वैज्ञानिकों की अपेक्षा से भी कहीं तेज गति से बढ़ रहा है।’


Comments Off on दुनियाभर के 11,000 वैज्ञानिकों ने की जलवायु आपातकाल की घोषणा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.