अभी नहीं बताया-परिवार से कब मिलेंगे अंतिम बार !    भाजपा को सत्ता से बाहर चाहते थे अल्पसंख्यक : पवार !    सीएए समर्थक जुलूस पर पथराव, हिंसा !    टेरर फंडिंग : पाक के प्रयासों को चीन ने सराहा !    177 हथियारों के साथ 644 उग्रवादियों का आत्मसमर्पण !    चुनाव को कपिल मिश्र ने बताया भारत-पाक मुकाबला !    रोहिंग्या का जनसंहार रोके म्यांमार : आईसीजे !    डेमोक्रेट्स ने राष्ट्रपति ट्रम्प के खिलाफ रखा पक्ष !    आईएस से जुड़े होने के आरोप में 3 गिरफ्तार !    आग बुझाने में जुटा विमान क्रैश, 3 की मौत !    

तकनीकी प्लेटफॉर्म्स ताकाझांकी नहीं

Posted On November - 10 - 2019

मोनिका शर्मा

वर्चुअल दुनिया की फ्रेंडलिस्ट में रिश्तेदारों का होना यानी कि व्यक्तिगत जीवन में पहले से ही जुड़े लोगों को तकनीक के ज़रिये जुड़ाव का एक और माध्यम मिलना है। इसका सकारात्मक इस्तेमाल कीजिए। जान-पहचान के लोगों की हर अपडेट को सिर्फ इसलिए फ़ॉलो करना कि आप उनसे जुड़ीं सभी एक्टिविटीज़ को जान पायेंगें, अपना समय बर्बाद करना है। ढूंढ-ढूंढकर उनकी पोस्ट्स-तस्वीरों को पढ़ने-देखने की प्रवृत्ति न पालें। ऐसी ताकाझांकी करने से बचें। देखने में आता है कि भागदौड़ भरी ज़िंदगी में यहां भी एक दूसरे से जुड़े नाते-रिश्तेदार व्यक्तिगत पोस्ट्स में ताकाझांकी करने और मीनमेख निकालने का काम करते हैं। ऐसे में एक आम दोस्त की तरह अपनों की प्रोफाइल से जुड़ रहें। जब ज़रूरी हो सहजता से अपनी प्रतिक्रिया दें।

व्यक्तिगत बातों पर कमेंट नहीं
सोशल मीडिया में दिखने वाली तस्वीरों और विचारों को व्यक्तिगत जीवन से जोड़कर कमेंट्स करने से बचें।नाते-रिश्तेदार एक दूसरे को पर्सनली जानते हैं।इसीलिए व्यक्तिगत ज़िंदगी से जुडी बातों और हालातों से भी परिचित होते हैं। ख्याल रहे कि पब्लिक प्लेटफॉर्म्स पर इन व्यक्तिगत पहलुओं को लेकर बात न करें। किसी पर्सनल बात या हालात को रिश्तेदार का मजाक न उड़ायें। यह व्यवहार आपके रिश्तों में खटास ला सकता है।वर्चुअल मीडिया को पर्सनल बातों से अलग रखने की भरसक कोशिश करें।बहुत ज़रूरी हो तो अपनी बात कहते हुए हमेशा सम्मानजनक और सधी हुई भाषा का इस्तेमाल करें।

जजमेंटल ना बनें
कोई वाट्सएप स्टेटस आपको पढ़वाने के लिए अपडेट किया गया है या आपको दिखाने के लिए ही तस्वीरें साझा की गई हैं, ऐसा ना सोचें। सोशल मीडिया में हर बात को लेकर शक करने या जजमेन्टल होने से बचें। देखने में आता है कि ऐसे व्यवहार से तंग आकर लोग अपने फैमिली मेंबर्स और अन्य संबंधियों को ब्लॉक तक कर देते हैं। अपनी जो पोस्ट्स उन्हें नहीं दिखाना चाहते उन्हें वाट्सअप स्टेटस हो या फेसबुक पोस्ट उस सूची से ही बाहर रखते हैं। इसीलिए ऐसा व्यवहार ना अपनायें कि लोग वर्चुअल दुनिया में आपसे दूरी बनाने लगें।

प्राइवेसी का सम्मान
सोशल मीडिया में आपसे जुड़े लोग भले ही आपके रिश्तेदार हों, यहां बतौर यूज़र उनकी प्राइवेसी का सम्मान करना ना भूलें। जिन रूल्स को आप अनजाने दोस्तों के लिए फॉलो करते हैं, अपनों के मामले में भी उनका अनुसरण करें। प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए अपने नाते-रिश्तेदारों को हर पोस्ट में टैग ना करें। ओवरशेरिंग की आदत से भी बचें। रिश्तेदारों के तस्वीरों को अपनी वॉल पर आये दिन साझा करने की आदत से बचें। इतना ही नहीं किसी बच्चे की तस्वीरें उसके माता-पिता से पूछे बिना शेयर ना करें। भले ही वह आपके बेहद करीबी रिश्तेदार का बच्चा हो। बच्चों से लेकर बड़ों तक, इन तकनीकी प्लेटफॉर्म्स सभी की प्राइवेसी का सम्मान करें।


Comments Off on तकनीकी प्लेटफॉर्म्स ताकाझांकी नहीं
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.