मारे गये जवानों को मिले शहीद का दर्जा !    प्राइमरी स्कूल में बच्चों से कराया मजदूरों का काम !    युवा उम्र से नहीं बल्कि सपनों से होते हैं : अनिता कुंडू !    उत्तरी क्षेत्र में हरियाणा को प्रथम पुरस्कार !    हरियाणा के 9 कॉलेजों को मिला ‘ए-प्लस’ ग्रेड !    गोवा में आज से दुनियाभर की फिल्मों का मेला !    गौरीकुंड-केदारनाथ मार्ग पर मिलेगी मसाज सुविधा !    राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने मनीष की शहादत पर जताया शोक !    चिड़गांव में भीषण अग्निकांड, 3 मकान राख !    राज्यसभा : मार्शलों की नयी वर्दी की होगी समीक्षा !    

टी-20 क्रिकेट लॉटरी की तरह, मगर भारत प्रबल दावेदार : गिलक्रिस्ट

Posted On November - 7 - 2019

मुंबई, 6 नवंबर (भाषा)
आस्ट्रेलिया के महान क्रिकेटर एडम गिलक्रिस्ट ने बुधवार को कहा कि टी20 क्रिकेट थोड़ा लॉटरी की तरह है लेकिन उन्होंने कहा कि अगले साल उनके देश में होने वाले इस प्रारूप के आईसीसी विश्व कप में भारत प्रबल दावेदारों में से एक होगा। गिलक्रिस्ट ने भारत के अलावा इंगलैंड और अपने देश और न्यूजीलैंड को दौड़ में शामिल बताया। उन्होंने यहां एक कार्यक्रम के इतर कहा, ‘शायद वे (भारत) सेमीफाइनल और फाइनल में पहुंच सकते हैं। मैं भविष्यवाणी नहीं कर सकता कि कौन इस खिताब को जीतेगा लेकिन मुझे प्रबल दावेदारों में भारत, इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के लंबा सफर तय करने, निश्चित रूप से सेमीफाइनल तक पहुंचने की उम्मीद है।’

तीसरे अंपायर को ही देखनी चाहिए नो बाॅल
एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि तीसरे अंपायर को नो-बाल देखनी चाहिए लेकिन वह आईपीएल में चौथे अंपायर के यह फैसला करने के खिलाफ नहीं हैं, बशर्ते सही निर्णय लिया जाए। आईपीएल के दौरान अंपायरों के खराब फैसलों की संख्या में कमी लाने के लिए आईपीएल संचालन परिषद ने ‘नोबाल’ से जुड़े फैसले के लिए अलग अंपायर रखने का प्रस्ताव रखा है। गिलक्रिस्ट ने कहा, ‘मैदानी अंपायर के लिए पहले नीचे देखना, फिर ऊपर देखना और साथ ही इधर-उधर भी देखना काफी चुनौतीपूर्ण होता है। आखिर ऐसा क्यों न हो कि तीसरा अंपायर रीप्ले देखे और फैसला करे।’ िछले आईपीएल में काफी विवाद हुआ था जब आगे के पैर की नोबाल को लेकर कुछ विवादास्पद फैसले किए गए थे।


Comments Off on टी-20 क्रिकेट लॉटरी की तरह, मगर भारत प्रबल दावेदार : गिलक्रिस्ट
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.