4 करोड़ की लागत से 16 जगह लगेंगे सीसीटीवी कैमरे !    इमीग्रेशन कंपनी में मिला महिला संचालक का शव !    हरियाणा में आर्गेनिक खेती की तैयारी, किसानों को देंगे प्रशिक्षण !    हरियाणा पुलिस में जल्द होगी जवानों की भर्ती : विज !    ट्रैवल एजेंट को 2 साल की कैद !    मनाली में होमगार्ड जवान पर कातिलाना हमला !    अंतरराज्यीय चोर गिरोह का सदस्य काबू !    एक दोषी की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई 17 को !    रूस के एकमात्र विमानवाहक पोत में आग !    पूर्वोत्तर के हिंसक प्रदर्शनों पर लोकसभा में हंगामा !    

केंद्र, राज्य सरकार के खिलाफ गरजे मजदूर

Posted On November - 16 - 2019

सोनीपत में शुक्रवार को श्रमिकों के साथ बैठक करते सीटू नेता आनंद शर्मा। -हप्र

सोनीपत, 15 नवंबर (हप्र)
सीटू के प्रदेश सचिव एवं प्रमुख श्रमिक नेता आनंद शर्मा ने केंद्र व राज्य सरकार पर मजदूरों की अनदेखी करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने मजदूरों के हितों की रक्षा करने वाले श्रम कानूनों को कॉरपोरेट जगत के पक्ष में बदल दिया है। केंद्र की गलत नीतियों के चलते उद्योग जगत, आटो सेंटर, टैक्सटाइल तथा चमड़ा उद्योग भारी मंदी के दौर से गुजर रहा है।
वह शुक्रवार को एटलस कंपनी के गेट पर मजदूरों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। नरेश कुमार ने बैठक की अध्यक्षता की, जबकि बिजेंद्र सिंह ने संचालन किया। आनंद शर्मा ने कहा कि मंदी की वजह से मजदूरों के रोजगार छीने जा रहे हैं तो कहीं छंटनी की जा रही है। वहीं, प्रदूषण के नाम पर उद्योगों को बंद करवाया जा रहा है। इससे पूरा बाजार और अर्थ व्यवस्था चौपट होती जा रही है।
हर रोज लूट, खसौट व बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही हैं। खेती घाटे का सौदा हो गई है। ठेकेदारी प्रथा को बढ़ावा दिया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार दिल्ली में न्यूनतम वेतन 15 हजार रुपए घोषित किया गया है। समान काम समान वेतन नीति को लागू करने के लिए किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने बताया कि विभिन्न ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर 8 जनवरी को भारत बंद होगा।


Comments Off on केंद्र, राज्य सरकार के खिलाफ गरजे मजदूर
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.