मौन के वृक्ष पर शांति के फल !    शांति रसायन बनाने का विज्ञान योग !    पांडवों के अज्ञातवास का साक्षी पचोवन !    प्रशंसा का इंद्रजाल !    व्रत-पर्व !    129 नये मामले, ठीक होने की दर कम !    रिसर्च से पुष्टि, पशुओं में नहीं फैलता कोरोना !    हल्दीयुक्त दूध कोरोना रोकने में कारगर !    ऑनलाइन पाठशाला में मुक्केबाजों के अभिभावक भी शामिल !    फेसबुक ने घृणा फैलाने वाले 200 अकाउंट हटाए !    

कालका-शिमला रेल सेक्शन पर बढ़ेगी ट्रेनों की संख्या

Posted On November - 29 - 2019

कालका रेलवे स्टेशन पर बृहस्पतिवार को यात्री सुविधा समिति चेयरमैन पीके कृष्णा दास को जानकारी देते स्टेशन अधीक्षक गोकुल सिंह। -निस

पिंजौर, 28 नवंबर (निस)
यूनेस्को द्वारा घोषित वर्ल्ड हेरिटेज कालका-शिमला रेल सेक्शन पर रेलवे विभाग ट्रेनों की संख्या बढ़ाएगा। टूरिस्ट सीजन के दौरान आधुनिक सुविधाओं से लैस अतिरिक्त ट्रेनें चलेंगी। विंटर, समर और फेस्टिवल सीजन के दौरान सैलानियों की सुविधा के लिए ट्रेनों की संख्या बढ़ाने के आदेश गत वर्ष रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने कालका दौरे के दौरान दिए थे। इसी विषय में कालका रेलवे स्टेशन से लेकर शिमला तक के सभी स्टेशनों का निरीक्षण करने के लिए रेलवे बोर्ड यात्री सुविधा समिति पैसेंजर एमेनिटीज कमेटी चेयरमैन पीके कृष्णा दास, सदस्य अमरीश राय ने कालका रेलवे स्टेशन का दौरा किया।
रेलवे स्टेशन अधीक्षक गोकुल सिंह ने हेरिटेज से जुड़ी हुई जानकारी दी और यात्रियों को दी जा रही सुविधा के विषय में भी बताया। कमेटी सदस्यों के अनुसार मौजूदा खिलौना गाड़ियों को अपग्रेड करने और सुविधाएं बढ़ाने का मामला रेलवे बोर्ड की अगामी कमेटी में उठाया जाएगा।
विस्टाडोम खिलौना गाड़ी चलाने का निर्णय
बता दें कि रेलवे विभाग ने दिसंबर से जनवरी महीने के दौरान 7 डिब्बों वाली विस्टाडोम टॉय ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है, जिसके डिब्बे वडोदरा की एक प्राइवेट कंपनी द्वारा तैयार किए गए हैं। इसी विषय में रेलवे जनरल मैनेजर दिल्ली से शनिवार को कालका रेलवे स्टेशन और रेलवे वर्कशॉप का निरीक्षण करने आएंगे।
चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर बृहस्पतिवार को उत्तर रेलवे के मंडल प्रबंधक गुरिंदर मोहन सिंह ब्रेल टैक्टाइल मैप का उद्घाटन करते हुए।

दिव्यांगों के लिए लगाया ‘ब्रेल टैक्टाइल मैप’

चंडीगढ़/पंचकूला, 28 नवंबर (नस)
रेलवे स्टेशन पर अब से दिव्यांगजनों को टिकट बुकिंग के लिए इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। उत्तर रेलवे ने चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर दिव्यांगों के लिए देश का पहला ब्रेल टैक्टाइल मैप लगाया है। इससे नेत्रहीन यात्रियों को स्टेशन पर सुविधाओं के बारे में भी आसानी से पता लग जाएगा। उत्तर रेलवे के मंडल प्रबंधक गुरिंदर मोहन सिंह ने बृहस्पतिवार को चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर ब्रेल टैक्टाइल मैप का उदघाटन किया। ब्रेल टैक्टाइल मैप को बुकिंग काउंटरों के पास लगाया गया है ताकि अक्षर का पता लगा कर दिव्यांग काउंटर पर कर्मचारी को जानकारी दे सकें। उन्होंने कहा कि मैप से उपलब्ध यात्री सुविधाओं जैसे प्लेटफार्म, लिफ्ट के साथ-साथ आसानी से बुकिंग, आरक्षण काउंटर, वेटिंग रूम, रिटायरिंग रूम, कैटरिंग और वेंडिंग इकाइयों के बारे में जानकारी ले सकेंगे। गुरिंदर मोहन सिंह ने कहा कि अंबाला डिवीजन के अन्य महत्वपूर्ण स्टेशनों पर ब्रेल टैक्टाइल मैप भी उपलब्ध होगा। यह सुविधा पहली बार उत्तर रेलवे को दी गई है। डीआरएम अंबाला ने कहा कि राजपुरा-बठिंडा सेक्शन का दोहरीकरण और विद्युतीकरण का काम अगले दो साल के भीतर पूरा हो जाएगा और उसके बाद और अधिक ट्रेनों को चलाया जा सकेगा।


Comments Off on कालका-शिमला रेल सेक्शन पर बढ़ेगी ट्रेनों की संख्या
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.