उड़ान भरते समय विमान में लगी आग, यात्री सुरक्षित !    वैध वीजा न होने की पुष्टि !    पाकिस्तानी सेना की पुंछ में गोलीबारी !    मदरसा ढहा, 4 बच्चों की मौत !    लुटेरों की सूचना देने वालों को 5 लाख के इनाम की घोषणा !    सरकार उठाएगी घायल छात्रों के इलाज का खर्च !    खाने के लिए मची भगदड़, 20 मरे !    शिमला में भूकंप के झटके, जान-माल का नुकसान नहीं !    रक्षा अध्ययन संस्थान को पर्रिकर का नाम !    पंजाब मंत्रियों ने कहा अफसर लगा रहे अड़ंगा !    

सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट चलाने के आदेश, 3 दिन में मांगी रिपोर्ट

Posted On October - 9 - 2019

कपूरथला, 8 अक्तूबर (निस)
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल(एनजीटी) की तरफ से पंजाब की नदियों और दरियाओं में प्रदूषण को रोकने के लिए गठित निगरानी कमेटी के नये चेयरमैन सेवामुक्त जस्टिस जसबीर सिंह ने पवित्र काली बेईं का दौरा किया। इसमें गिर रहे गंदे पानी को रोकने के लिए पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड (पीपीसीबी) और सबंधित विभागों को हिदायतें की कि कपूरथला के पवित्र बेईं में गिर रहे गंदे पानी के बारे तीन दिनों में एक्शन टेकन रिपोर्ट दें। वातावरण प्रेमी संत बलबीर सिंह सीचेवाल ने उनके साथ मीटिंग करके पवित्र बेईं में गिर रहे गंदे पानी से अवगत कराया। संत सीचेवाल ने बताया कि कपूरथला का सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) लंबे समय से बंद पड़ा है, जिस कारण शहर का सारा गंदा पानी पवित्र बेईं में गिर रहा है। गांव खेड़ा दोनां और सैदो भलाना की कलोनियों का पानी भी बेईं में पड़ रहा है। जस्टिस जसबीर सिंह को एनजीटी ने 1 अक्तूबर को निगरान कमेटी का नया प्रमुख लगाया है। इससे पहले इस कमेटी के चेयरमैन जस्टिस प्रीतम पाल थे। उन्होंने बताया कि इस मामले में अगले सप्ताह पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी मिलेंगे, जिनके पास वातावरण का विभाग भी है। वह मुख्यमंत्री पंजाब को प्रकाश पर्व से पहले-पहले बेईं में गिर रहे गंदे पानी को रोकने के लिए कहेंगे। जस्टिस जसबीर सिंह ने इस मौके डीसी से फ़ोन पर बातचीत की और बेईं में गिर रहे गंदे पानी के बारे में 15 अक्तूबर तक मीटिंग करके एक्शन टेकन रिपोर्ट भेजने के लिए कहा।

 


Comments Off on सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट चलाने के आदेश, 3 दिन में मांगी रिपोर्ट
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.