पराली से धुआं नहीं अब बिजली बनेगी !    विवाद : पत्नी को पीट कर मार डाला !    हरियाणा : कांग्रेस पहुंची चुनाव आयोग !    बाबर की ऐतिहासिक भूल सुधारने की जरूरत : हिन्दू पक्ष !    आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तान !    आस्ट्रेलियाई महिला टी20 टीम को पुरुष टीम के बराबर मिलेगी इनामी राशि !    पनामा लीक : दिल्ली हाईकोर्ट ने मांगी स्टेटस रिपोर्ट !    हादसे में परिवार के 3 सदस्यों समेत 5 की मौत !    पुलिस स्टेट नहीं बन रहा हांगकांग : कैरी लैम !    प्रदर्शन के बाद खाताधारक की हार्ट अटैक से मौत !    

मालविंदर, शिविंदर को 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा

Posted On October - 12 - 2019

नयी दिल्ली, 11 अक्तूबर (एजेंसी)

नयी दिल्ली में शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा के अधिकारियों की घेरेबंदी में रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर शिविंदर सिंह और उनके छोटे भाई मालविंदर सिंह।
– मुकेश अग्रवाल

दिल्ली की एक अदालत ने रेलिगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (आरएफएल) गबन मामले में फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटरों मालविंदर सिंह, उनके भाई शिविंदर सिंह और तीन अन्य को शुक्रवार को 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। वहीं, मामले में दर्ज प्राथमिकी निरस्त करने के लिये दायर याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट बाद में सुनवाई करेगा। इन लोगों को आरएफएल के कोष का गबन करने और उसे 2,397 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। धन का अन्य मद में इस्तेमाल करने तथा दूसरी कंपनियों में निवेश करने के आरोपों में गिरफ्तार लोगों में मालविंदर (44) के अलावा उनका भाई शिविंदर (48), आरईएल के पूर्व अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक सुनील गोधवानी (58) तथा कवि अरोड़ा और अनिल सक्सेना शामिल हैं।
इस बीच, दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने सभी आरोपियों को मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया। उन्होंने आरोपियों को 4 दिन की पुलिस हिरासत में दे दिया। मालविंदर को बृहस्पतिवार रात लुधियाना से हिरासत में लिया गया और उन्हें सुबह औपचारिक रूप से गिरफ्तार किया गया, जबकि शिविंदर, गोधवानी, अरोड़ा और सक्सेना को बृहस्पतिवार को ही गिरफ्तार कर लिया गया था।

राधास्वामी सत्संग प्रमुख ने कहा-हमारा कोई बकाया नहीं : राधास्वामी सत्संग ब्यास के प्रमुख गुरिंदर सिंह ढिल्लों और परिजन ने दिल्ली हाईकोर्ट में कहा है कि उनके ऊपर मालविंदर और शिविंदर सिंह प्रवर्तित आरएचसी होल्डिंग्स का कोई पैसा बकाया नहीं है। जापान की फार्मा कंपनी दाइची सान्क्यो ने रैनबैक्सी लैबोरेटरीज के पूर्व प्रवर्तकों के खिलाफ 3,500 करोड़ रुपये का मध्यस्थता का मामला जीता था।


Comments Off on मालविंदर, शिविंदर को 4 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.