गुस्साये डीएसपी ने पत्नी पर चलायी गोली !    गांवों में विकास कार्यों के एस्टीमेट बनाने में जुटे अधिकारी !    जो गलत करेगा परिणाम उसी को भुगतने पड़ेंगे : शिक्षा मंत्री !    आस्ट्रेलिया भेजने के नाम पर 9.50 लाख हड़पे !    लख्मीचंद पाठशाला से 2 बच्चे लापता !    वास्तविक खरीदार को ही मिलेगी रजिस्ट्री की अपाइंटमेंट !    वायरल वीडियो ने 48 साल बाद कराया मिलन !    ऊना में प्रसव के बाद महिला की मौत पर बवाल !    न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ शाॅ का शतक !    एकदा !    

प्यार में नहीं होती शेयरिंग

Posted On October - 19 - 2019

दीप्ति अंगरीश

रूबरू

डायना खान

टीवी पर एक नया शो ‘बहू बेगम’ दर्शकों को खूब भा रहा है। ‘दोस्ती के हक बड़े और मोहब्बत के फर्ज़ कड़े होते हैं’, की टैगलाइन वाला यह टीवी धारावाहिक एक सिंगल मदर के बेटे, उसकी दोस्त और उसके प्यार की कहानी है। सिंगल मदर के किरदार में सिमोन सिंह हैं।
कहानी कुछ ऐसे उलझी हुई है कि बेगम रजि़या मिर्जा ने जमाने से लड़कर अपने बेटे अजान अख्तर मिर्जा को पाला है। इसलिए वह अपनी मां के फैसले के विरुद्ध नहीं जा सकता। अजान को शायरा अनवर से प्यार है, लेकिन मां ने नूर से वायदा किया है कि वही उनके घर की बहू बनेगी। ऐसे में अजान, शायरा और नूर दोनों को ही साथ रखने के लिए मजबूर हो जाता है। आखिर क्या है पूरा ताना-बाना। हमने बात की शायरा का किरदार निभा रही डायना खान से। पेश है उस बातचीत के प्रमुख अंश—
डायना को क्या खास लगा इस शो में ?
कलर टीवी का शो बहू बेगम मुस्लिम परिवार के नवाबी प्यार की कहानी है। इसमें मुख्य किरदार निभाया है अरिजीत तनेजा, समीक्षा जायसवाल और मैंने। मैं चूंकि मुस्लिम परिवार से आती हूं तो शो के कॉन्सेप्ट को काफी जल्दी और अच्छे से समझ पाई हूं। शो में उर्दू भाषा में मुझे बोलना भी अच्छा लगता है। पूरे शो में अभिजात नवाबी संस्कृति का
माहौल है।
अपने किरदार के बारे में बताएं?
मैं इस शो में शायरा अनवर का किरदार निभा रही हूं। यह किरदार काफी दमदार और अनोखा है। शायरा प्यार, बदला और तपस्या के जाल में उलझी हुई है। आप देखिएगा कि शो में जटिल परिस्थितियाें में नूर (समीक्षा जायसवाल), मैं और अजान अली खान (अरिजीत तनेजा) दो निकाह में रहते हैं। शो में अजान की अम्मी का किरदार निभाया है सिमोन मैम ने। उनके साथ काम करना वाकई अच्छा है।
इस रोमांटिक त्रिकोण में नया क्या है ?
मेरा शायरा का किरदार है, जो अजान से बहुत प्यार करती है। और अजान भी करता है। यह कहानी प्यार और दोस्ती के बीच कशमकश को बयां करती है। नूर अजान की बेगम बनना चाहती है और प्यार मेरी जिंदगी है। बता दूं कि अजान का प्यार मैं हूं।
क्या शायरा का किरदार निभाना मुश्किल था?
हां भी और नहीं भी। हां इसलिए क्योंकि इस किरदार के लिए मैंने आॅडिशन दिया। 80 महिला कलाकारों के बाद मेरा सेलेक्शन हुआ। इसलिए क्योंकि मुस्लिम किरदार निभाना मेरे लिए अासान था। चूंकि मैं खुद मुस्लिम हूं। उर्दू भाषा में मेरी पकड़ पहले से है। शायरा मासूम है, सुंदर है और महिला सशक्तीरण में विश्वास करती है।
असल जिंदगी में डायना और शायरा कितनी अलग हैं?
बिल्कुल अलग हैं। असल जिंदगी में मैं मस्तमौला हूं, बेपरवाह होकर जीती हूं और टाॅब्वाय फ्रेंडली लड़की हूं। वहीं शायरा ऐसी नहीं है। शायरा हर पल सतर्क रहती है, तहजीब के प्रति जागरूक है। उसकी अलग ही नज़ाकत है। वह मानसिक रूप से मजबूूत है। मैं भी शायरा वाली नज़ाकत और नफ़ासत सीख रही हूं। असल जि़ंदगी में मैं किसी का प्यार शेयर नहीं कर सकती।
क्या घुड़सवारी के सीन के दौरान दुर्घटना हुई थी?
जी हां। शायद मेरी खूबसूरती देखकर घोड़ा चकरा गया होगा। काठी से उतरते समय, मैं ज़मीन पर थी। घोड़े ने अपना सिर पीछे से मेरे सिर पर मारा। ज़मीन पर गिरते-गिरते मैं लगभग पांच मिनट के लिए बेहोश हो गई थी।
रियल लाइफ में आप अपने लवर को दूसरी लड़की के साथ फ्रेंडली होने देंगी?
बिल्कुल नहीं। शो की बात और है लेकिन मेरा मानना है कि प्यार में शेयरिंग नहीं होती है। मैं प्यार नहीं, सच्चे प्यार में विश्वास करती हूं।
बॉलीवुड के बारे में क्या कहेंगी?
मैं अपना जन्मदिन (27 दिसंबर) सलमान खान सर के साथ साझा करती हूं और इससे मुझे गर्व महसूस होता है। बॉलीवुड में मुझे रणवीर सिंह बहुत पसंद हैं। उम्मीद करती हूं रणवीर जी के साथ काम करूंगी।
फिटनेस को लेकर आप कितनी सजग हैं?
देखिए मेरे हाथ, कितने लाल हैं। इससे मालूम चल जाएगा कि मैं कितना खाती हूं। सच यह है कि मैं दिल खोलकर खाती हूं। मैं खाने-पीने में ज्यादा चूज़ी नहीं हूं। वेज व नाॅनवेज मुझे दोनों पसंद हैं।
हां, खाने को पचाने के लिए शूटिंग की भागदौड़ मेरे लिए काफी है। मैं थोड़ी आलसी हूं। जिम जाने का रोज़ सोचती हूं, पर इसे टालती हूं। बस खाने में मैदा से बचती हूं और खूब चलती हूं। पैदल चलने से ढेर सारा पानी पीने से बॉडी मेंटेन रहती है।


Comments Off on प्यार में नहीं होती शेयरिंग
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.