पराली से धुआं नहीं अब बिजली बनेगी !    विवाद : पत्नी को पीट कर मार डाला !    हरियाणा : कांग्रेस पहुंची चुनाव आयोग !    बाबर की ऐतिहासिक भूल सुधारने की जरूरत : हिन्दू पक्ष !    आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तान !    आस्ट्रेलियाई महिला टी20 टीम को पुरुष टीम के बराबर मिलेगी इनामी राशि !    पनामा लीक : दिल्ली हाईकोर्ट ने मांगी स्टेटस रिपोर्ट !    हादसे में परिवार के 3 सदस्यों समेत 5 की मौत !    पुलिस स्टेट नहीं बन रहा हांगकांग : कैरी लैम !    प्रदर्शन के बाद खाताधारक की हार्ट अटैक से मौत !    

धरोहरों के बीच भविष्य की बात

Posted On October - 12 - 2019

मामल्लापुरम (तमिलनाडु), 11 अक्तूबर (एजेंसी)


मामल्लापुरम में शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग।
– प्रेट्र

शुक्रवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भारत पहुंचे। परंरागत तमिल परिधान-धोती, सफेद कमीज और अंगवस्त्रम पहने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनका स्वागत किया। कश्मीर मामले पर तनावपूर्ण हुए द्विपक्षीय संबंधों को सहज बनाते हुए शी और मोदी ने अनौपचारिक बातचीत की।
मोदी ने अच्छे मेजबान की भूमिका निभाते हुए शी को विश्व प्रसिद्ध धरोहरों अर्जुन तपस्या स्मारक, नवनीत पिंड (कृष्णाज बटरबॉल), पंच रथ और शोर मंदिर के दर्शन कराए। चीन के फुजियांग प्रांत के साथ ऐतिहासिक रूप से जुड़े पल्लव वंश के दौरान निर्मित सातवीं सदी के इन स्मारकों में जिनपिंग काफी रुचि लेते प्रतीत हुए। मोदी और शी के साथ एक-एक अनुवादक भी थे। तस्वीरों में दो उभरती अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं के बीच गर्मजोशी और तालमेल दिखा। दोनों ने भविष्य की बात की।
इससे पहले हवाईअड्डे पर तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित, मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम और चीन में भारत के राजदूत विक्रम मिस्री ने जिनपिंग का स्वागत किया। सूत्रों ने बताया कि दोनों नेता शनिवार को शिखर वार्ता के समापन के बाद कुछ निर्देश जारी कर सकते हैं। दोनों नेताओं के बीच करीब छह घंटे बातचीत होगी। इसके बाद प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता होगी।

तमिल सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से हुआ स्वागत
चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का मामल्लापुरम में लोक नर्तकों और भरतनाट्यम कलाकारों ने तमिल सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ स्वागत किया और बड़ी संख्या में बच्चों ने भारतीय और चीनी झंडे लहराकर उनका अभिवादन किया। मुस्कराते हुए शी ने कलाकारों की ओर हाथ हिलाकर उनका अभिवादन स्वीकार किया। उधर, मुलाकातों के दौरान दोनों नेताओं ने नारियल पानी पिया और डिनर में सांभर-बड़ा भी चखा।
रात्रि भोज के दौरान हुआ कश्मीर का जिक्र!
मोदी और जिनपिंग ने शुक्रवार को रात्रिभोज के दौरान ढाई घंटे बातचीत की। उन्होंने द्विपक्षीय विकास साझेदारी को नई ऊर्जा देने और विवादास्पद मामलों पर मतभेदों से संपूर्ण संबंधों को अलग रखने का संकल्प लिया। हालांकि इस बात की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई कि मोदी और शी ने कश्मीर मुद्दे पर बातचीत की या नहीं, लेकिन अटकलें लगाई जा रही है कि रात्रिभोज में दोनों देशों के बीच हुई बातचीत के दौरान इसका जिक्र हुआ था। सूत्रों ने बताया कि शी और मोदी ने द्विपक्षीय विकास साझेदारी को नई ऊर्जा देने एवं विवादास्पद मामलों पर मतभेदों से समग्र संबंधों को अलग करने का संकल्प लिया।


Comments Off on धरोहरों के बीच भविष्य की बात
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.