दो गुरुओं के चरणों से पावन अमर यादगार !    व्रत-पर्व !    ऊंचा आशियाना... आएंगी ढेर सारी खुशियां !    आत्मज्ञान की डगर !    झूठ से कर लें तौबा !    इस समोसे में आलू नहीं !    पुस्तकों से करें प्रेम !    बिना पानी के स्प्रे से नहाएंगे अंतरिक्ष यात्री !    मास्टर जी की मुस्कान !    अविस्मरणीय सबक !    

आजाद प्रत्याशी के होर्डिंग उतारते 2 एसडीओ समेत 3 को पकड़ा

Posted On October - 16 - 2019

अंबाला छावनी में मंगलवार को चुनाव प्रचार के दौरान आजाद प्रत्याशी चित्रा सरवारा का स्वागत करते लोग। -प्रदीप मैनी

अंबाला, 15 अक्तूबर (निस)
अंबाला छावनी विधानसभा सीट से आजाद उम्मीदवार चित्रा सरवारा ने मंगलवार को चुनाव प्रचार के दौरान कैबिनेट मंत्री एवं अंबाला छावनी के विधायक अनिल विज पर निशाना साधते हुए कहा है कि चुनाव में हार सामने देखकर वे बौखला गए हैं। इसीलिए उनके होर्डिंग उतरवाने के लिए सरकारी अफसरों को लगाकर सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया जा रहा है।
उन्होंने खुलासा किया कि अंबाला कैंटोनमेंट बोर्ड के तोपखाना बाजार इलाके में बीती रात एक सरकारी गाड़ी में बैठकर आए 3 लोगों ने वहां लगे होर्डिंगों को उतारने की आड़ में न केवल उसे फाड़ा बल्कि उसे पैरों से रौंदा। यह देख उनके समर्थकों ने तीनों को घेर लिया। गुस्साये लोगों को देखकर नशे में धुत वर्दीधारी पुलिसकर्मी ने अपनी गलती के लिए माफी मांगनी शुरू कर दी जबकि गाड़ी में बैठे 2 अफसरों को जब भीड़ ने नीचे उतरने को कहा तो वे लडख़ड़ाते हुए कदमों से नीचे उतरे और नशे की हालत में पुलिसकर्मी की गलती पर माफी मांगने लगे। भीड़ ने जब इनकी गाड़ी की तलाशी ली तो उसमें से भाजपा के झंडे बरामद हुए। गुस्साए लोगों को शांत करने के लिए पुलिस ने डीडीआर काटकर तीनों का देर रात नागरिक अस्पताल में मेडिकल कराया।
अंबाला छावनी पुलिस स्टेशन के एसएचओ नरेन्द्र सिंह और पुलिस चौकी तोपखाना बाजार के इंचार्ज सब इंस्पेक्टर कृष्ण कुमार ने चौकी का घेराव करने वाले समर्थकों को आश्वासन दिया कि मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद इन तीनों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

सरवारा ने बताई तीनों की पहचान
चित्रा सरवारा ने कहा कि इन तीनों की पहचान हैरान करने वाली है। इनमें से एक तिलकराज पीडब्ल्यूडी विभाग में एसडीओ हैं, जबकि दूसरा सुधीर मोहन सिंचाई विभाग में एसडीओ हैं तथा तीसरा सुरेन्द्र सिंह पुलिस में एसपीओ है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग का इससे बड़ा उदाहरण और क्या हो सकता है कि एसडीओ रैंक के अधिकारियों को विरोधियों के पोस्टरों और होर्डिंग उतारने का जिम्मा सौंपा गया है और ये अधिकारी मंत्री के गुस्से से बचने के लिए नौकरी दांव पर लगाकर औछे हथकंडे अपना रहे हैं।


Comments Off on आजाद प्रत्याशी के होर्डिंग उतारते 2 एसडीओ समेत 3 को पकड़ा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.