पराली से धुआं नहीं अब बिजली बनेगी !    विवाद : पत्नी को पीट कर मार डाला !    हरियाणा : कांग्रेस पहुंची चुनाव आयोग !    बाबर की ऐतिहासिक भूल सुधारने की जरूरत : हिन्दू पक्ष !    आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तान !    आस्ट्रेलियाई महिला टी20 टीम को पुरुष टीम के बराबर मिलेगी इनामी राशि !    पनामा लीक : दिल्ली हाईकोर्ट ने मांगी स्टेटस रिपोर्ट !    हादसे में परिवार के 3 सदस्यों समेत 5 की मौत !    पुलिस स्टेट नहीं बन रहा हांगकांग : कैरी लैम !    प्रदर्शन के बाद खाताधारक की हार्ट अटैक से मौत !    

अंतिम-4 में पहुंची मैरी कॉम, 8वां पदक पक्का

Posted On October - 11 - 2019

उलान उदे में बृहस्पतिवार को कोलंबिया की वैलेंशिया विक्टोरिया को हराने के बाद खुशी जाहिर करती मैरी कॉम। -प्रेट्र

उलान उदे, 10 अक्तूबर (एजेंसी
6 बार की चैम्पियन एमसी मैरी कॉम (51 किलो) महिला विश्व चैम्पियनशिप के इतिहास में सबसे सफल मुक्केबाज बन गई। उन्होंने सेमीफाइनल में पहुंचकर 8वां पदक पक्का कर लिया जबकि पहली बार खेल रही मंजू रानी (48 किलो) और जमुना बोरो (54 किलो) भी सेमीफाइनल में पहुंच गई।
तीसरी वरीयता प्राप्त मैरी कॉम ने कोलंबिया की वालेंशिया विक्टोरिया को 5-0 से हराकर अंतिम 4 में जगह बनाई। जीत के बाद मैरी कॉम ने कहा, ‘पदक सुरक्षित करके मैं बहुत खुश हूं लेकिन फाइनल में पहुंचने से और खुशी होगी।’ उन्होंने कहा, ‘यह मेरे लिये अच्छा मुकाबला था और अब मैं सेमीफाइनल में बेहतर प्रदर्शन करना चाहूंगी।’
सेमीफाइनल में शनिवार को उनका सामना दूसरी वरीयता प्राप्त तुर्की की बुसेनाज साकिरोग्लू से होगा जो यूरोपीय चैम्पियनशिप और यूरोपीय खेलों की स्वर्ण पदक विजेता है। उन्होंने चीन की केइ जोंग्जू को क्वार्टर फाइनल में हराया।

मैरी कॉम की उपलब्धियां

मैरी कॉम के नाम अभी तक 6 स्वर्ण और एक रजत पदक है लेकिन वह 51 किलोवर्ग में पहली बार पदक जीतेगी। पिछली बार वह क्वार्टर फाइनल में हार गई थी। मैरी कॉम ने ओलंपिक कांस्य पदक (2012), 5 एशियाई खिताब, एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण भी जीता है। इस साल उन्होंने गुवाहाटी में इंडिया ओपन और इंडोनेशिया में प्रेसिडेंट ओपन में स्वर्ण पदक जीता। वह राज्यसभा सदस्य भी है। 3 बार की एशियाई पदक विजेता चहल का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा। उनके समूह में कम प्रतियोगी होने के कारण उन्हें सीधे क्वार्टर फाइनल में प्रवेश मिला था।

उलान उदे में मैच के दौरान कोरिया की खिलाड़ी को पंच जड़ती मंजू रानी। -प्रेट्र

हरियाणा की मंजू ने पिछली कांस्य विजेता को पछाड़ा

हरियाणा की मंजू रानी ने शीर्ष वरीयता प्राप्त और पिछले बार की कांस्य पदक विजेता दक्षिण कोरिया की किम हयांग मि को 4-1 से मात दी। वहीं असम राइफल्स की बोरो ने जर्मनी की उर्सुला गोटलोब को इसी अंतर से हराया। मंजू रानी का सामना अब थाईलैंड की सी रकसात से होगा जिसने पांचवीं वरीयता प्राप्त यूलियानोवा असेनोवा से होगा। वहीं बोरो शीर्ष वरीयता प्राप्त एशियाई खेलेां की पूर्व कांस्य पदक विजेता हुआंग सियाओ वेन से होगा।


Comments Off on अंतिम-4 में पहुंची मैरी कॉम, 8वां पदक पक्का
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.