आयुष्मान कार्ड बनाने के बहाने 90 हजार की ठगी !    चुनाव के दृष्टिगत कानून व्यवस्था की स्थिति पर की गई चर्चा !    पंप कारिंदों के मोबाइल चुराए, किशोर काबू !    कपूरथला के गांव में 50 ग्रामीण डेंगू की चपेट में !    उमस से अभी राहत नहीं, 5 दिन में लौटने लगेगा मानसून !    गोदावरी नदी में नौका डूबने से 12 लोगों की मौत !    शताब्दी, राजधानी ट्रेनों में दिखेंगे गुरु नानक के संदेश !    ड्रोन हमले के बाद सऊदी अरब से तेल की आपूर्ति हुई आधी !    सरकार मैसेज का स्रोत जानने की मांग पर अडिग !    अर्थशास्त्र का अच्छा जानकार ही उबार सकता है अर्थव्यवस्था : स्वामी !    

दोबारा गिनती में नहीं बदला नतीजा, तेगबीर ही विजेता

Posted On September - 11 - 2019

जोगिंद्र सिंह/ट्रिन्यू
चंडीगढ़, 10 सितंबर
पंजाब विश्वविद्यालय में पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस स्टूडेंट्स काउंसिल (पीयूसीएससी) चुनाव में सचिव पद के लिये वोटों की मंगलवार को दोबारा गिनती हुई जिसमें चुनाव नतीजे में तो कोई बदलाव नहीं हुआ लेकिन विजेता रहे एनएसयूआई के तेगबीर सिंह और हारे एबीवीपी-इनसो उम्मीदवार गौरव दूहन के पहले की अपेक्षा 3-3 वोट बढ़ गये।
एनएसयूआई के तेगबीर सिंह को कुल 3,191 मत मिले जबकि इनसो के गौरव दूहन को 3,181 वोट मिले। 6 सितंबर को आये नतीजों में तेगबीर सिंह को 3,188 मत बताये गये थे जबकि गौरव को 3,178 वोट मिले थे। दोनों में अंतर तब भी 10 वोट का ही था और आज भी यह अंतर 10 वोट का ही रहा। रोचक बात ये है कि सोई-पुसू के उम्मीदवार गगन सिद्धू को पहले 2394 वोट मिले थे अब दोबारा गिनती में उसे 2389 वोट मिले। निर्दलीय उम्मीदवार सहजप्रीत का भी एक वोट बढ़ गया पहले उसे 256 मत मिले थे अब 257 वोट मिले हैं। इसी तरह नोटा को मिले वोटों में भी इजाफा हो गया। पहले नोटा के खाते में 821 मत थे अब 825 वोट बताये जा रहे हैं। 8 घंटे चली गिनती चली। इनसो चेयरमैन रजत नैन ने कहा कि उन्हें चुनाव नतीजा और जनादेश दोनों स्वीकार हैं। इस नतीजे से डीएसडब्ल्यू प्रो. इमानुअल नाहर को बड़ी राहत मिली है। प्रो. नाहर का डीएसडब्ल्यू को लेकर कोर्ट में केस चल रहा है अगर कोई चुनाव नतीजे में कोई बदलाव होता तो उन पर एनएसयूआई को लाभ पहुंचाने के आरोप लगता और केस में उनको नुकसान हो सकता था।


Comments Off on दोबारा गिनती में नहीं बदला नतीजा, तेगबीर ही विजेता
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.