मां भद्रकाली मंदिर में नड्डा ने की पूजा-अर्चना !    अब कैथल भी चटाएगा सुरजेवाला को धूल : दिग्विजय !    मानेसर जमीन घोटाला : हुड्डा नहीं हुए पेश, चार्ज पर बहस जारी !    प. बंगाल सचिवालय पहुंची सीबीआई !    कोलंबिया विमान हादसे में 7 की मौत !    विरोध के बीच पार्किंग दरों का एजेंडा पारित !    एकदा !    कांग्रेस करेगी मौजूदा न्यायाधीश से जांच की मांग !    ‘कमलनाथ के खिलाफ मामला सज्जन कुमार से ज्यादा मजबूत’ !    मोहाली मैच के लिये पहुंचीं भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें !    

दादी मां और नानी

Posted On September - 8 - 2019

बाल कविता
दादी मां
और नानी बच्चों
नहीं गंवाती पानी बच्चों!
बूंद-बूंद पर
जान छिड़कतीं
जो नहीं माने,
उन्हें झिड़कतीं,
जल पर कहें, कहानी बच्चों !
दादी मां और नानी बच्चों !!
उमड़ घुमड़ जब
बादल आयें,
पानी पर पानी बरसायें !
संवर्धन हो इस अमृत का ,
जीवन के पावनतम रस का!
कहीं ना हो नादानी बच्चों ,
सभी बचाओ पानी बच्चों!
जल जीवन है सुनो बालको,
इस को नहीं गंवाना तुम !
बच्चे हों या बड़े हों सबको ,
यह मूल मंत्र बतलाना तुम!
दादी मां का और नानी का ,
यह पाठ भूल न जाना तुम!

-जय भारद्वाज ‘तरावड़ी’


Comments Off on दादी मां और नानी
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.