मां भद्रकाली मंदिर में नड्डा ने की पूजा-अर्चना !    अब कैथल भी चटाएगा सुरजेवाला को धूल : दिग्विजय !    मानेसर जमीन घोटाला : हुड्डा नहीं हुए पेश, चार्ज पर बहस जारी !    प. बंगाल सचिवालय पहुंची सीबीआई !    कोलंबिया विमान हादसे में 7 की मौत !    विरोध के बीच पार्किंग दरों का एजेंडा पारित !    एकदा !    कांग्रेस करेगी मौजूदा न्यायाधीश से जांच की मांग !    ‘कमलनाथ के खिलाफ मामला सज्जन कुमार से ज्यादा मजबूत’ !    मोहाली मैच के लिये पहुंचीं भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें !    

चिन्मयानंद ने एक साल उत्पीड़न किया, पुलिस दर्ज नहीं कर रही केस

Posted On September - 10 - 2019

शाहजहांपुर, 9 सितंबर (एजेंसी)
पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली एलएलएम की छात्रा ने सोमवार को उन पर दुष्कर्म और एक साल तक शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाते हुए पुलिस द्वारा इस मामले में मुकदमा नहीं दर्ज करने का दावा किया। पिछले महीने एक वायरल वीडियो में चिन्मयानंद पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाने छात्रा सोमवार को पहली बार मीडिया के सामने आयी। उसने चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाते हुए कहा कि वह मामले की जांच कर रही एसआईटी को भी यह बात बता चुकी है। एसआईटी ने रविवार को करीब 11 घंटे तक उससे पूछताछ की थी। युवती ने दावा किया कि यह रिपोर्ट दिल्ली के लोधी रोड थाने में जीरो क्राइम नंबर पर दर्ज करके शाहजहांपुर भेज दी गई है, लेकिन स्थानीय पुलिस बलात्कार और शारीरिक शोषण की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है। लड़की ने कहा कि जांच दल को सारी बातें बताने के बाद भी चिन्मयानंद को गिरफ्तार नहीं किया गया है। उसने बताया कि इससे पहले जब उसके पिता ने चिन्मयानंद के खिलाफ शारीरिक शोषण के आरोप में केस की शिकायत दी थी तो, जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने उसके पिता को धमकी देते हुए चिन्मयानंद के रसूख का हवाला दिया और बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने को कहा।
सबूतों का वीडियो भी दिखाऊंगी
छात्रा ने कहा कि उसके पास सारे साक्ष्य मौजूद हैं। वह कॉलेज हॉस्टल के जिस कमरे में रहती थी, उसे सील कर दिया गया है। उसे मीडिया के सामने खोला जाए। सही समय आने पर साक्ष्य (वीडियो क्लिप) भी पेश की जाएगी।


Comments Off on चिन्मयानंद ने एक साल उत्पीड़न किया, पुलिस दर्ज नहीं कर रही केस
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.