मां भद्रकाली मंदिर में नड्डा ने की पूजा-अर्चना !    अब कैथल भी चटाएगा सुरजेवाला को धूल : दिग्विजय !    मानेसर जमीन घोटाला : हुड्डा नहीं हुए पेश, चार्ज पर बहस जारी !    प. बंगाल सचिवालय पहुंची सीबीआई !    कोलंबिया विमान हादसे में 7 की मौत !    विरोध के बीच पार्किंग दरों का एजेंडा पारित !    एकदा !    कांग्रेस करेगी मौजूदा न्यायाधीश से जांच की मांग !    ‘कमलनाथ के खिलाफ मामला सज्जन कुमार से ज्यादा मजबूत’ !    मोहाली मैच के लिये पहुंचीं भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें !    

आवारा पशुओं, कुत्तों से निपटने के लिए सरकार के पास पैसा नहीं

Posted On September - 10 - 2019

मोहाली में सोमवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह डिजिटल इन्वेस्टिगेशन ट्रेनिंग एंड एनालिसिस सेंटर का उद्घटान करते हुए। -निस

मोहाली, 9 सितंबर (निस)
पंजाब सरकार के पास लावारिस पशुओं व कुत्तों की समस्या का समाधान निकालने के लिए बजट ही नहीं है। लेकिन इसका हल निकालने के लिए सरकार ने फैसला किया है कि लावारिस पशुओं को मालवा के बीड़ में छोड़ कंटीली तार लगा दी जाए। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने सोमवार को मोहाली में पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान यह बात कही। इससे पहले मुख्यमंत्री ने फेज-4 में मोहाली डिजिटल इन्वेस्टिगेशन ट्रेनिंग एंड एनालिसिस सेंटर का उद्घटान किया।
अमरेंद्र ने कहा कि बीड़ में लावारिस पशुओं को छोड़ने से जहां सड़क दुघर्टनाओं में कमी आएगी वहीं किसानों की फसलों को भी खराब होने से बचाया जा सकेगा। कैप्टन ने माना कि लावारिस कुत्तों के काटने के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसका एक ही इलाज है कि कुत्तों की नसबंदी की जाए। इसके लिए सरकार अपने स्तर पर भरसक प्रयास कर रही है।
एसजीपीसी के साथ विवाद से इनकार : कैप्टन ने कहा कि एसजीपीसी के साथ कोई विवाद नहीं है। उन्होंने कहा कि ये सिर्फ बातें बनाते हैं। एक अन्य सवाल के जवाब में कैप्टन ने कहा कि एसवाईएल पर दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों के नेतृत्व में कमेटियों का गठन कर दिया गया है।
हां, मेरे आदेश पर दर्ज हुआ बैंस के खिलाफ मामला
एक सवाल के जवाब में कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कहा कि विधायक सिमरजीत सिंह बैंस के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए उन्होंने ही आदेश दिया है क्योंकि एक अधिकारी के खिलाफ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल बहुत निंदनीय है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मामला दर्ज करने का मतलब यह नहीं कि अधिकारी अपनी मनमर्जी करें बल्कि अधिकारियों को भी आम जनता और अपने जूनियर स्टॉफ से अदब से बात करनी चाहिए।


Comments Off on आवारा पशुओं, कुत्तों से निपटने के लिए सरकार के पास पैसा नहीं
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.