घर बुलाएं माखनचोर !    बच्चों को ऐसे बनाएं राधा-कृष्ण !    करोगे याद तो ... !    घटता दबदबा  नायिकाओं का !    हेलो हाॅलीवुड !    चैनल चर्चा !     हिंदी फीचर फिल्म : फेरी !    सिल्वर स्क्रीन !    अनुष्का की फोटो पर बवाल !    हेयर कलर और कट से गॉर्जियस लुक !    

30 वर्ष बाद पूरी हुई सीवरेज बिछाने की मांग

Posted On August - 14 - 2019

यमुनानगर के कांसापुर में जल-मल पंपिंग प्लांट का उद्घाटन करते विधायक श्याम सिंह राणा, मेयर मदन चौहान व पार्षद अभिषेक मौदगिल। -हप्र

यमुनानगर,13 अगस्त (हप्र)
पिछले 30 वर्षों से सीवरेज बिछाने की मांग कर रहे यमुनानगर के कांसापुर की डेढ़ दर्जन कॉलोनियों के लिए राहत भरी खबर हैं। 5 करोड़ 90 लाख रुपये की लागत से कांसापुर के साथ लगती नगर निगम की विभिन्न कॉलोनियों के लिए सीवरेज लाइन बिछाने का काम पूरा हो चुका है और इसका विधिवत उद्घाटन विधायक श्याम सिंह राणा, मेयर मदन चौहान, पार्षद अभिषेक मौदगिल द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।
इस अवसर पर भारी संख्या में लोगों ने पार्षद व विधायक का धन्यवाद करते हुए कहा कि वह लंबे समय से इस मांग को
लेकर अधिकारियों, मंत्रियों से अनेक बार गुहार लगा चुके थे, लेकिन उनकी कही सुनवाई नहीं हुई। अब भाजपा सरकार ने उनकी सुुनी है।
इलाके के पार्षद अभिषेक मौदगिल ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के तहत डेेेढ़ दर्जन कॉलोनियों में 32000 मीटर की सीवरेज लाइन बिछाई गई है। इससे शिवपुरी ए, मायापुरी, अग्रसेन कालोनी,बैंक कॉलोनी, गोल्डनपुरी कालोनी, मोतीबाग, रामनगर, रामेश्वरनगर, भगवती कालोनी, राजीव गार्डन,गीता कॉलोनी, भूरिया कालोनी, अशोक विहार, सहित साथ लगती अन्य कॉलोनियों के हजारों परिवारों को फायदा होगा। उन्होंने बताया कि कांसापुर में जो जल-मल पंपिंग सेट लगाया गया है, उसकी क्षमता 50 लाख लीटर प्रतिदिन होगी। पार्षद अभिषेक मोदगिल ने लोगों से अपील की कि वह अधिकृत पलंबर से ही सीवरेज का कनेक्शन करवाए ताकि उचित मापदंडों के अनुसार कार्य हो।
चौटाला सरकार ने दिए थे 1 करोड़ रुपये
जानकारी के मुताबिक आज से करीब 20 वर्ष पूर्व भी जब सीवरेज की मांग उठी तत्कालीन मुख्य-मंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने इसके लिए एक करोड़ की राशि मंजूर की थी और यह राशि जब यमुनानगर पहुंची तो सीवर लाइन बिछाने के बजाय नालियों का निर्माण कर दिया गया, लेकिन इलाके का पानी जाने का कोई साधन न होने के चलते इसका लाभ इलाका वासियों को नहीं मिला।
कॉलोनियों के लोग दूषित जल पीने को मजबूर थे
बताया जाता है कि इन ज्यादातर कॉलोनियों में सीवरेज लाइनें न होने के कारण लोगों ने अपने घरों व घरों के बाहर सीवरेज के सेफ्टी टैंक बनाए हुए थे और कुछ ऐसे लोग थे, जिन्होंने कच्चे सेफ्टी टैंक बनाए हुए थे, जिससे भूमिगत जल भी मल के साथ मिलकर लोगों के स्वास्थ्य बिगाड़ रहा था।


Comments Off on 30 वर्ष बाद पूरी हुई सीवरेज बिछाने की मांग
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.