बीरेंद्र सिंह का इस्तीफा मंजूर, हरियाणा से राज्यसभा के लिए खाली हुई दो सीटें !    हरियाणा में अब 12वीं तक के विद्यार्थियों को मिलेंगी मुफ्त किताबें !    जेबीटी टीचर ने तैयार की पराली साफ करने की मशीन !    स्केनिंग मशीन से शवों की पहचान का प्रयास !    चीन से मशीन मंगवाने के नाम पर ठगे 6 लाख !    शिवसेना के जिला अध्यक्ष को फोन पर मारने की धमकी !    घर में घुसकर किसान को मारी गोली, गंभीर !    गोदाम से चोरी करने वाला मैनेजर गिरफ्तार !    पेशेवर कैदियों से अलग रखे जाएंगे सामान्य कैदी !    टीजीटी मेडिकल का नतीजा सिर्फ 5.12 फीसदी !    

हूडा अधिकारियों के समर्थन में उतरी एचएसवीपी यूनियन

Posted On August - 14 - 2019

हिसार, 13 अगस्त (हप्र)
सिंचाई विभाग व हूडा विभाग के अधिकारियों के बीच विवाद में अब एचएसवीपी वर्कर्स यूनियन भी उतर आई है।
यूनियन ने चेतावनी दी कि अगर हूडा विभाग के खिलाफ किसी भी प्रकार की कार्रवाई की गई तो हूडा कर्मचारी आंदोलन करने पर मजबूर हो जाएंगे और सभी सेक्टरों की वाटर एवं सीवरेज व्यवस्था को ठप कर देंगे।
इसी मुद्दे को लेकर एचएसवीपी वर्कर्स यूनियन की एक महत्वपूर्ण बैठक मंगलवार को सेक्टर 13 स्थित हूडा कांप्लेक्स में आयोजित की गई। इसकी अध्यक्षता सर्कल प्रधान शमशेर सिंह धानिया ने की। संचालन जिला सचिव राजबीर सिंह अग्रोहा ने किया। बैठक में जिलाध्यक्ष कृष्ण भट्टी और सर्कल सचिव सतीश सरोहा ने कहा कि
हुडा विभाग के अधिकारी सेक्टरवासियों की समस्याओं को देखते हुए कानूनी दायरे में रहकर अपनी ड्यूटी कर रहे थे। नहरी विभाग के अधिकारियों की वजह से ही शहर में पेयजल को लेकर त्राहि-त्राहि मचती है, लेकिन जब हूडा विभाग के अधिकारी कोई कदम उठाते हैं तो नहरी विभाग के अधिकारी उन पर आरोप लगाते हुए झूठे केस बना देते हैं।
उन्होंने कहा कि उक्त प्रकरण में नहरी विभाग के अधिकारियों ने न केवल हूडा विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ हाथापाई की, साथ ही जेई व 5-6 अन्य के खिलाफ केस भी दर्ज करवा दिया।
उन्होंने प्रशासन को 16 अगस्त का अल्टीमेटम देते हुए मामले का निष्पक्ष निपटारा करने की गुहार लगाई।मौके पर रमेश धानिया, रमेश मुवाल, रणधीर सिंह सहित कई कर्मचारी मौजूद थे।


Comments Off on हूडा अधिकारियों के समर्थन में उतरी एचएसवीपी यूनियन
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.