उन्नाव पीड़िता के लिए निकाला कैंडल मार्च !    श्रमिकों के शवों का पुलिस ने करवाया पोस्टमार्टम !    पेंशनर्स की मांगों की होगी पैरवी : भाटिया !    धोखाधड़ी से उड़ाया 20 लाख से भरा बैग !    सुभाष कुहाड़ बने जाट सभा के प्रधान !    ट्रक चालक को बंधक बनाकर लूटा !    10 माह बाद भी पुलिस हाथ खाली !    ट्रक-कार में भीषण टक्कर, एक मरा !    हसला ने डिप्टी सीएम के सामने रखी समस्याएं !    ‘वास्तविक जीडीपी वृद्धि दर 5% से कम रहेगी’ !    

छिटपुट घटनाओं को छोड़ शांति से निपटा बंद, जनजीवन प्रभावित

Posted On August - 14 - 2019

चंडीगढ़, 13 अगस्त (एजेंसी)

जालंधर के फिल्लौर में मंगलवार को विरोध प्रदर्शन के दौरान हाईवे पर उमड़ी भीड़। -मलकीत सिंह

नयी दिल्ली के तुगलकाबाद में गुरु रविदास का मंदिर गिराए जाने के विरोध के दलित समुदाय के लोगों के विरोध और धरना-प्रदर्शन के कारण पंजाब में आम जनजीवन बाधित हुआ। अधिकारियों ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने जालंधर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग सहित कुछ मार्गों को बाधित किया जिसके कारण भारी जाम लग गया। प्रदर्शनकारियों ने ‘गुरु रविदास जयंती समारोह समिति’ के बैनर तले 13 अगस्त को बंद का आह्वान किया था साथ ही स्वतंत्रता दिवस को ‘काला दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की थी। राष्ट्रीय राजधानी के तुगलकाबाद वनक्षेत्र स्थित इस मंदिर को शनिवार सुबह तोड़ दिया गया था।
राज्य में पिछले कुछ दिनों से प्रदर्शन चल रहे हैं। दलित समुदाय के लोगों ने मंगलवार को जालंधर सहित अनेक स्थानों पर विरोध रैलियां निकालीं। यहां शिक्षण संस्थान बंद हैं। इसके अलावा लुधियाना, फगवाड़ा, नवांशहर, बरनाला, फिरोजपुर, बठिंडा, अमृतसर, मोगा और फाजिल्का में भी रैलियां निकाली गईं। जालंधर में एक प्रदर्शनकारी ने कहा, ‘अगर हमारी मांगें नहीं मांनी गईं तो हम अपना प्रदर्शन तेज करेंगे। हम रेल मार्ग भी बाधित करने के लिए बाध्य हो जाएंगे।’
प्रदर्शनों को देखते हुए राज्य भर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इस बीच कांग्रेस, भाजपा और आकाली दल के नेताओं ने कहा है कि वे मुद्दे को हल करने में मदद करेंगे। माना जाता है जिस मंदिर को ढहाया गया है उस स्थान पर 1509 में गुरु रविदास गए थे। पंजाब कांग्रेस प्रमुख सुनील जाखड़ ने रविदास समुदाय के प्रति पार्टी का समर्थन व्यक्त किया है। जाखड़ ने प्रदर्शनकारियों से अपील की कि उनके प्रदर्शनों से आम आदमी पर विपरीत असर नहीं पड़ना चाहिए।
वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री सोम प्रकाश ने मंदिर ढहाए जाने की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। उन्होंने कहा कि वह मामले को सुलझाने के लिए और मंदिर के लिए दोबारा भूमि आवंटित किए जाने के लिए दिल्ली के उपराज्यपाल से और जरूरत पड़ने पर प्रधानमंत्री से मुलाकात करेंगे। शिरोमणि आकाली दल के अध्यक्ष एवं लोकसभा सांसद सुखबीर सिंह बादल ने भी मंदिर ढहाए जाने की आलोचना की और कहा कि उनकी पार्टी अपने खर्च पर मंदिर का दोबारा निर्माण कराने के लिए तैयार है।

होशियारपुर में प्रभावी रहा बंद, फैक्टरियों पर पत्थरबाजी, वाहनों की तोड़फोड़

होशियारपुर में मंगलवार को बंद के दौरान वाहनों के साथ की गई तोड़फोड़। -निस

होशियारपुर (निस) : समूह रविदास नामलेवा एवं सहयोगी जत्थेबंदियों और बसपा द्वारा दिए बंद के आह्वान पर मंगलवार को होशियारपुर शहर और आसपास के क्षेत्र में पूर्ण बंद रहा। शहर में अधिकतर स्थानों पर यह भी देखने को मिला कि प्रदर्शनकारी खतरनाक तेजधार हथियारों से लैस थे। शहर में सरकारी बसों के साथ साथ निजी बसों को भी रोक दिया गया और रेल गाड़ियों की आवाजाही भी प्रभावित रही। लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। निजी वाहनों पर जरूरी कामों या अस्पतालों में आने वाले मरीजों को भी जगह-जगह रोका गया जिसके चलते लोग परेशान हुए। बैकों शिक्षण संस्थानों में भी बंद का प्रभाव देखने को मिला। बाजारों में सन्नाटा छाया रहा। शहर में पुलिस की मौजूदगी में दुकानों को बंद करवाया गया। इसके साथ ही पेट्रोल पंप भी बंद रहे। सुबह से ही शुरू हुए इस बंद के सिलसिले कारन लोगों में भय का माहौल बना रहा। होशियारपुर फगवाड़ा मार्ग पर स्थित महांवीर स्पिनिंग मिल और हाकिंस प्रेशर कुकर फैक्टरी पर कुछ प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी की। जिस कारण फैक्टरी के गेट पर बने सिक्योरिटी रूमों को नुकसान पहुंचा। डी.एस.पी सिटी जगदीश अत्री ने बताया कि छुट्टी होने के चलते स्टाफ फैक्टरी में मौजूद नहीं था जिस कारन किसी का जानी नुकसान नहीं हुआ।

बंद समर्थकों पर दुकानदार से लूट का आरोप, पुलिस ने की हवाई फायरिंग
होशियारपुर (निस)

होशियारपुर में मंगलवार को दुकानदार और बंद समर्थकों के बीच मामले की सुलझाने की कोशिश करती पुलिस। -दैनिक ट्रिब्यून

जालंधर पठानकोट राष्ट्रीय मार्ग पर स्थित गांव हरसा मनसर में मंगलवार को बंद समर्थकों को रोकने के लिए पुलिस को हवाई फायर करने पड़े। तकरार इतनी बढ़ की नौबत मारपीट तक आ गई और बंद समर्थकों व गांव निवासियों में पत्थरबाजी शुरू हो गई। एसपी बलबीर भट्टी ने बताया कि बंद समर्थक कुछ लोग जब गांव हरसा मानसर में पहुंचे तो वहां पर एक दुकान गनपति कॉन्फेक्शरी खुली हुई देख कर भड़क गए। जिस कारण दुकानदार और बंद समर्थकों में कहा सुनी हो गई। दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। दुकानदार कुलदेव सिंह ने आरोप लगाया कि बंद समर्थक उसकी दुकान से लगभग 2 लाख रुपये लूट कर ले गए हैं। एसपी भट्टी के अनुसार पुलिस ने दोनों पक्षों को समझा कर मामला शांत करने का प्रयास किया। दोनों पक्षों को तितर-बितर करने के लिए हवाई फायर भी करने पड़े।

रकार समाधान के लिए प्रतिबद्ध : हरदीप पुरी

नयी दिल्ली (एजेंसी) : तुगलकाबाद वनक्षेत्र में गुरु रविदास का मंदिर गिराए जाने से उत्पन्न विवाद के बीच केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने मंगलवार को कहा कि केंद्र कोई समाधान निकालने और इसे ‘पुनर्स्थापित’ करने के लिए संभवत: किसी वैकल्पिक स्थल की पहचान करने को प्रतिबद्ध है। आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से भी मुलाकात की और गुरु रविदास मंदिर की जगह खाली कराने के उच्चतम न्यायालय के आदेश सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। पुरी ने ट्वीट किया, ‘हम, दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के उपाध्यक्ष के साथ कोई समाधान ढूंढ़ने और एक ऐसे स्थल की पहचान करने को प्रतिबद्ध हैं जहां मंदिर पुनर्स्थापित किया जा सके।’ उन्होंने कहा, ‘हमने प्रभावित पक्षों को इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी करने के लिए माननीय न्यायालय में अपील दायर करने का भी सुझाव दिया है।”

2 घंटे स्टेशन पर खड़ी रही शान-ए-पंजाब

लुधियाना में मंगलवार को टायर जलाकर प्रदर्शन करते प्रदर्शनकारी। -हिमांशु महाजन

लुधियाना (निस) : विभिन्न दलित संगठनों के आह्वान पर मंगलवार को लुधियाना में शांति बनी रही। जिला में सभी सरकारी, गैरसरकारी स्कूल और कालेज सरकार ने सुरक्षा की दृष्टि से बंद रखने के आदेश सरकार ने जारी किये थे। लुधियाना के पुलिस आयुक्त डॉ. सुखचैन सिंह गिल ने दावा किया है कि शहर में स्थिति तनावपूर्ण होने के बावजूद कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। प्रशासन ने किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए शहर में 3 हजार पुलिस कर्मियों को शहर में ड्यूटी पर तैनात कर रखा था । खन्ना रेलवे स्टेशन पर रोष प्रदर्शन करने वालों ने शान-ए-पंजाब को स्टेशन पर 2 घंटे रोके रखा। इस बीच रेल मंत्रालय ने दिल्ली से अमृतसर और दिल्ली से फिरोजपुर वाया लुधियाना चलने वाली दोनों शताब्दी ट्रेनों को लुधियाना में ही रद्द करके दिल्ली वापस भेज दिया। भारी बर्षा के बावजूद प्रदर्शनकारी सुबह ही लाडूवाल, मेट्रो चौक, सलेम टाबरी, समराला चौक, ढंडारी, फिरोजपुर रोड और गिल चौक आदि पर धरने पर बैठ गये थे। प्रदर्शनकारी छोटे छोटे जलूसो के रूप में शहर के मुख्य बाजारों में नारे लगाते हुए देखे गये। कांग्रेस के दलित नेता रमणजीत लाली ने कहा कि शाम 5 बजे सभी स्थानों से धरने समाप्त करके स्थिति समान्य बनाने को कह दिया गया था। केंद्र सरकार को 21 अगस्त तक का समय दिया गया है कि वह समस्या का समाधान करें बड़े संघर्ष के लिए दिल्ली के लिए कूच करेंगे।

बठिंडा में रोष प्रदर्शन
बठिंडा (निस) : बठिंडा के रामपुरा में बंद का मिला जुला असर दिखा। गांव घुद्दा में वामपंथी दलों और दलित संगठनों के सदस्यों ने रोष प्रदर्शन किया। गुरु रविदास संघर्ष कमेटी ने सदभावना चौक में रोष प्रदर्शन किया। जिस कारण कुछ दुकानदारों ने अपनी दुकानें कुछ समय के लिये बंद कर दीं। इसके बाद प्रदर्शनकारी बस स्टैंड पहुंचे इसमें महिलायें भी शामिल हुईं। बस स्टैंड जाकर रोष प्रदर्शन समाप्त कर दिया। डेरा पीपल दास के बाबा कर्म चंद, देस राज छतरी वाला, मोहन लाल, राम किशन, लाला राम सहित अन्य सदस्यों ने मांग की कि आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जाये व मंदिर का फिर से निर्माण करवाया जाये। उन्होंने कहाकि जब तक मंदिर का पुनर्निर्माण नहीं होता तब तक संघर्ष जारी रहेगा। देस राज छतरी वाला ने कहा कि 21 अगस्त को गुरु रवि दास के भक्त दिल्ली जायेंगे।

गुरदासपुर में 12 बजे तक बंद रहे बाजार, फूंका पुतला
गुरदासपुर (निस) : गुरदासपुर में बंद को भारी समर्थन मिला। हालांकि त्योहारों का सीजन होने के चलते प्रदर्शनकारियों ने केवल दोपहर 12 बजे तक ही बंद करने की घोषणा की थी। 12 बजे के बाद बाजार रोजमर्रा की भांति खुले परन्तु दुकानों पर ग्राहकों की भींड़ देखने को नही मिली। प्रदर्शनकारियों ने शहर में रोष मार्च निकालने के उपरांत परशुराम चौक में मोदी सरकार का पुतला जलाया गया। इसके बाद मटका फोड़ने की रस्म भी अदा की गई। प्रदर्शन के दौरान बाटा चौक गुरदासपुर में दुकानदारों व प्रदर्शनकारियों के बीच हल्की काहासुनी हुई। जबकि शेष प्रदर्शन शांतिमय तरीके से चलता रहा। उधर प्रदर्शन के दौरान बैंक, पेट्रोल पंप, बस सुविधाएं, मेडिकल स्टोर सामान्य रूप से चलते रहे। कैबिनेट मंत्री अरुणा चौधरी ने बंद का समर्थन करते हुए प्रदर्शन में हिस्सा लिया। वहीं बटाला में लोगों ने ट्रेन भी रोकी।

फगवाड़ा में सुबह 9 बजे जाम कर दिया था हाईवे, शाम 7 बजे खुला
जालंधर (ट्रिन्यू)

पटियाला में मंगलवार को बंद के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर तैनात पुलिस। -राजेश सच्चर

जालंधर में बंद के दौरान ट्रेन और सड़क मार्ग से सफर करने वाले यात्रियों को खासी परेशानियों का सामना उठना पड़ा। प्रदर्शनकारियों के सामने पुलिस मूक दर्शक बनी रही। फगवाड़ा में सुबह 9 बजे ही राष्ट्रीय राजमार्ग एक को जाम कर दिया गया था जोकि शाम को 7 बजे खुला। दलित समुदाय के युवक सड़कों पर खुलेआम तलवार, लाठियां, लोहे की रॉड आदि लेकर घूमते देखे गये। होशियारपुर में युवक हिंसक हो गये। हाकिंस की फैक्टरी में और मुकेरियां में फैक्टरी में तोड़फोड़ की गई। पुलिस के अनुसार दोनों ही मामलों में पुलिस एफआईआर दर्ज करने की कोशिश कर रही है। इसके लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाल जा रही है। राजनीतिक दलों के नेताओं ने इस विरोध प्रदर्शन में भाग लिया।


Comments Off on छिटपुट घटनाओं को छोड़ शांति से निपटा बंद, जनजीवन प्रभावित
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.