घर बुलाएं माखनचोर !    बच्चों को ऐसे बनाएं राधा-कृष्ण !    करोगे याद तो ... !    घटता दबदबा  नायिकाओं का !    हेलो हाॅलीवुड !    चैनल चर्चा !     हिंदी फीचर फिल्म : फेरी !    सिल्वर स्क्रीन !    अनुष्का की फोटो पर बवाल !    हेयर कलर और कट से गॉर्जियस लुक !    

इंटरनेट के भी शिष्टाचार

Posted On August - 4 - 2019

मोनिका अग्रवाल

वैसे तो इंटरनेट के कोई आधिकारिक नियम नहीं हैं, लेकिन कुछ नियम हैं जिन्हें जरूर फॉलो करना चाहिए जैसे बेसिक नेट शिष्टाचार, मेल भेजने का शिष्टाचार, मेल के जवाब का शिष्टाचार, मेल की गोपनीयता का शिष्टाचार। आइये, जानते हैं कुछ खास बातें।
सबसे खास बात यह है कि आप जिस शख्स से संपर्क कर रहे हैं उसके पद का ध्यान रखें। अशिष्ट भाषा, शॉर्ट फॉर्म व इमोटिकन्स से बचने का प्रयास करें। अपमानजनक भाषा का उपयोग न करें। कैपिटल शब्दों के इस्तेमाल से बचें क्योंकि यह ऐसा आभास देते हैं जैसे आप सामने वाले पर चिल्ला रहे हैं।

नये लोगों की मदद
नये लोगों की मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहें। उनके द्वारा भेजे गए ईमेल, कमेंट, सवाल पर ज़रूर अपनी उचित प्रतिक्रिया देना।

असभ्य शब्दों का इस्तेमाल नहीं
यदि आप सामने वाले की बात से सहमत नहीं हैं तो उसके बारे में अपशिष्ट शब्द, गाली-गलौज, असहनीय बात, कठोर शब्दों का उपयोग और बहस करने से बचना ज़रूरी है।

उपलब्ध टिप्पणियां
नेट फॉर्म, सवाल-जवाब में तथा नये सोशल मीडिया मंच पर मदद मांगने से पहले उपलब्ध टिप्पणियां ज़रूर पढ़ें।

गूगल सर्च
किसी से निजी तौर पर सहायता मांगने के लिए ईमेल या मैसेज भेजने से पहले गूगल सर्च करें।

उत्पाद/सेवा रूल पढ़ें
किसी खास उत्पाद, सेवा आदि के बारे कुछ शंका है या कोई सवाल है, तब पहले इस उत्पाद/सेवा से जुड़े हुए सामान्य सवाल-जवाब पढ़ें।

मानक लिपि
इंटरनेट पर आपके शब्द ही आपके बारे में बता रहे होते हैं, इसलिए लिखते समय मानक लिपि का ही उपयोग करें।

सम्मान करें
दूसरे लोगों का सम्मान करें जैसे माननीय, सम्माननीय, श्रीमान, जी, नमस्कार, नमस्ते आदि।

कृतज्ञ बनें
जब कोई आपकी मदद करे तो उन्हें थैंक्यू कहना न भूलें।

ब्रिवेशन
इंटरनेट पर बात करते समय ज्यादा प्रचलित लघुरूपों को ही अपने संदेश में शामिल करें।

छोटा संदेश
अगर आप ज्यादा बड़ा ईमेल लिखकर लोगों को भेजेंगे तो इसे वे अनदेखा कर देंगे।

विषयानुसार
विषय के अनुसार ही अपना संदेश तैयार करें। यदि आप मुद्दे से हटकर लिखेंगे तो आपकी बात का प्रभाव नहीं होगा।

छोटा अटैचमेंट
ईमेल अटैचमेंट का आकार कम से कम रखें और उचित फाइल फोरमेट में ही अपना दस्तावेज़ संलग्न करें।

हस्ताक्षर
ईमेल के अंत में अपना नाम और हस्ताक्षर जरूर करें।

नो पर्सनल मेल
अपने ऑफिस की ईमेल आईडी से कभी भी पर्सनल मेल न करें और जब कार्यालय की आईडी से कोई मेल कर रहे हों तो आवश्यक लोगों को सीसी और बीसीसी में शामिल करें। वक्त से रिप्लाई करें।
बिना पूछे किसी भी व्यक्ति की आइडी, फ़ोटोज, वीडियो या अन्य निजी जानकारी पब्लिक न करें।

मैसेज फॉरवर्ड
यदि आप किसी मैसेज को फॉरवर्ड करते हैं तो इसका मतलब है कि आप इस मेल में लिखें विचारों पर अपनी सहमति दे रहे हैं।

गोपनीयता
दूसरे के मैसेज को संपादित न करें। निजी मेल या मैसेज न पढ़ें।

निजता
अपनी निजता और दूसरे की निजता का ध्यान रखें। बिजनेस मेल को औपचारिक रखें। जब तक आपसे किसी भी सीसी का उत्तर न मांगा जाए तब तक कोई जवाब न दें।


Comments Off on इंटरनेट के भी शिष्टाचार
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.