किशोर ने 6 वर्षीय बच्चे के साथ किया कुकर्म !    स्थानांतरण नीति को लेकर अध्यापक संघ का प्रदर्शन !    सड़क सुरक्षा समिति बैठक में छाया रहा पार्किंग का मुद्दा !    इनेलो, कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल !    शहीदों के जीवन पर प्रदर्शनी लगायेगी कांबोज सभा !    इंडिया कबड्डी टीम का कैप्टन बना अमरजीत !    एकदा !    खेड़ी गंडिया में 2 बच्चे अगवा! !    प्रशासन ने सुखना लेक को घोषित किया वैटलैंड !    सीबीआई कोर्ट का पंजाब सरकार को क्लोजर रिपोर्ट देने से इनकार !    

1190 मेगावाट सौर ऊर्जा के उत्पादन का लक्ष्य

Posted On July - 11 - 2019

पंचकूला में बुधवार को ऊर्जा सरंक्षण के लिये उल्लेखनीय कार्य करने वालों को सम्मानित करते राज्यमंत्री डा. बनवारी लाल।-ट्रिन्यू

पंचकूला,10 जुलाई (ट्रिन्यू)
हरियाणा के जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी, नवीनीकरण एवं नवीनीकरण ऊर्जा राज्यमंत्री डा. बनवारी लाल ने कहा कि प्रदेश में सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिये सरकार द्वारा बड़े स्तर पर प्रयास किये जा रहे हैं। चालू वित वर्ष में 1190 मेगावाट सौर उर्जा उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसे हासिल करने के लिये स्कूलों, आंगनवाड़ी केन्द्रों, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, गौशालाओं तथा सरकारी भवनों की छतों पर सौर ऊर्जा प्लांट लगाये जा रहे हैं। डा. बनवारी लाल आज यहां सेक्टर-1 के लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह में नवीन एवं नवीनीकरण ऊर्जा विभाग द्वारा आयोजित संगोष्ठी तथा राज्य स्तरीय पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। समारोह में विधायक एवं मुख्य सचेतक ज्ञानचंद गुप्ता तथा कालका की विधायक लतिका शर्मा विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहे।
राज्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 160 सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर सौर ऊर्जा प्लांट स्थापित किये जा चुके हैं। इस वर्ष 220 ऐसे स्वास्थ्य केन्द्रों में यह प्लांट स्थापित किये जायेंगे। इसके अलावा 1052 राजकीय विद्यालयों में सौर उर्जा प्लांट लगाने के लिये बजट जारी किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि 1995 से लेकर 2018 तक केवल 440 मेगावाट सौर ऊर्जा का उत्पादन हुआ। अब सरकार ने एक वर्ष में 1190 मेगावाट बिजली उत्पादन का संकल्प लिया है।
इन्हें किया सम्मानित
कार्यक्रम में राज्यमंत्री ने ऊर्जा संरक्षण में उल्लेखनीय कार्य करने वाले सस्थानों को नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया। एक मेगावाट से ऊपर उर्जा संरक्षण के लिये राज्य स्तर का प्रथम पुरस्कार गुड इयर इंडिया लिमिटेड फरीदाबाद, एक मेगावाट से कम ऊर्जा सरंक्षण के लिये सहकारी चीनी मिल शाहाबाद को, 500 किलोवाट क्षमता के लिये ऊर्जा संरक्षण के लिये बीएसएनएल मेन टेलीफोन एक्सचेंज तोशाम को सम्मानित किया गया। इसी प्रकार 30 किलोवाट क्षमता में ऊर्जा संरक्षण के लिये गीता विद्या मन्दिर गर्ल्स कालेज सोनीपत को प्रथम और राजकीय बहु तकनीकी संस्थान मोरनी को द्वितीय पुरस्कार दिया गया। आवासीय भवन की श्रेणी में ऊर्जा संरक्षण के लिये विलिंगटन एस्टेट कंडोमीनियम एसोशियेसन को पुरस्कृत किया गया। इस कार्यक्रम में वाद विवाद प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के जोनल और राज्य स्तर के पुरस्कार विजेता विद्यार्थियों को भी सम्मानित किया गया।


Comments Off on 1190 मेगावाट सौर ऊर्जा के उत्पादन का लक्ष्य
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.