प्लांट से बाहर हुए हड़ताली अस्थाई कर्मचारी !    दूसरे की जगह परीक्षा दिलाने वाले 2 और काबू !    पाकिस्तान में 2 भारतीय गिरफ्तार !    लता मंगेशकर के स्वास्थ्य में अच्छा सुधार !    खादी ग्रामोद्योग घोटाले को लेकर सीबीआई केस दर्ज !    कंधे की चोट, पाक के खिलाफ डेविस कप मैच से हटे बोपन्ना !    एकदा !    जनजातीय क्षेत्रों में खून जमा देने वाली ठंड !    रामपुर बुशहर नगर परिषद उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी की जीत !    राम रहीम से हो सकती है हनीप्रीत की मुलाकात ! !    

वेतन के लिए किया प्रदर्शन

Posted On July - 12 - 2019

जींद, 11 जुलाई (हप्र)

जींद में बृहस्पतिवार को अपनी मांगों के समर्थन में नारेबाजी करते आउटसोर्सिंग कर्मी। -हप्र

आउटसोर्सिंग पर लगे कर्मियों ने बृहस्पतिवार को अपनी विभिन्न मांगों के समर्थन में प्रदर्शन किया और लेबर इंस्पेक्टर को ज्ञापन सौंपा। आउटसोर्सिंग कर्मियों ने कहा कि सिविल अस्पताल में कंपनी का ठेका पूरा होने के बाद वेतन न मिलने से उनके सामने आर्थिक समस्या पैदा हो गई है। अस्पताल प्रशासन ठेके पर लगे कर्मचारियों के वेतन की तरफ कोई ध्यान नहीं देता।
उन्होंने कहा कि ठेके पर लगे कर्मचारियों को हर महीने की 7 तारीख तक वेतन दे देना चाहिये, लेकिन यहां स्थिति यह है कि कर्मचारियों को पिछले 5 महीने का वेतन नहीं दिया गया। प्रशासन की तरफ से कभी बजट का बहाना तो कभी टैक्निकल फाल्ट बताया जाता है। कर्मचारियों ने कहा कि उनके ईपीएफ व ईएसआई की राशि जमा नहीं कराई जाती। ईएसआई का लाभ नागरिक अस्पताल के एक भी कर्मचारी को नहीं दिया जाता। उन्होंने कहा कि अगर ईएसआई का लाभ ही नहीं दिया जाता तो उनके वेतन से ईएसआई के नाम पर रुपये क्यों काटे जाते हैं। यह कर्मचारियों के आर्थिक व स्वास्थ्य के नाम पर शोषण है। उन्होंने कहा कि लेबर वेलफेयर फंड के नाम पर भी रुपये काटे जाते हैं, लेकिन उसका लाभ किसी भी कर्मचारी को नहीं मिला। कर्मचारियों ने मांग की है कि उन्हें बकाया वेतन दिया जाए और उनका आर्थिक शोषण रोका जाये।  प्रदर्शनकारियों में जयवीर, सुनील, भजनलाल, नीलम, मंगलसिंह, प्रवीन, रीना, सुमन, वीनू, कर्मजीत, रामबिलास, राजवंती, सरोज और बीरपाल  मौजूद थे।


Comments Off on वेतन के लिए किया प्रदर्शन
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.