टालमटोल की आदत बुरी !    सच बोलने का इनाम !    बच्चों को भी बनाएं जागरूक !    आई दीवाली !    मन की भी हो मरम्मत !    इस दिवाली पुराने को नया बनाएं, खुशियां फैलाएं !    पर्सनल ट्रेनर का काम करेगा स्मार्ट मिरर !    मिठाई-फल डाल कर घर लायें नया बर्तन !    पढ़ाई में मददगार एप्स !    संतान की मंगलकामना का व्रत अहोई अष्टमी !    

विज्ञापन घोटाला रेलवे अफसरों पर सीबीआई का शिकंजा

Posted On July - 13 - 2019

नयी दिल्ली, 12 जुलाई (एजेंसी)
सीबीआई ने पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के एक वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी और कुछ अन्य कर्मियों के खिलाफ अखबारों में निविदा-प्रकाशन के लिए फर्जी बिलों के आधार पर भुगतान कर संगठन के साथ 100 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के आरोप में मामला दर्ज किया है।
अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। इन अधिकारियों पर आरोप है कि उन्होंने ऐसे अखबारों के नाम से बिल का भुगतान किया जिनका प्रसार ही नहीं होता था।
अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने इस संबंध में वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी दिलीप चंद्र बोरा, कार्यालय अधीक्षक हर्धन डे और बाबुल चंद्र मेधी , मुख्य प्रचार निरीक्षक एमएमवाई आलम , लेखा सहायक हितेश डेका और वरिष्ठ रोकड़िया प्रबीर दास पुरकायस्थ को नामजद किया है। कथित घोटाला 2014-18 के बीच का है। आरोप है कि उपरोक्त अधिकारियों ने निविदाएं आमंत्रित करने की सूचनाओं के प्रकाशन के संबंध में फर्जी बिलों के माध्यम से 157.40 करोड़ रुपये का भुगतान किया। इससे विभाग का 100 करोड़ का नुकसान हुआ और उसका एक हिस्सा अधिकारियों की जेब में गया।
अरुणाचल के पूर्व सीएम तुकी पर केस दर्ज
सीबीआई ने 2003 में एक सरकारी परियोजना का ठेका अपने भाई को देने के कथित भ्रष्टाचार में अरुणाचल प्रदेश के पूर्व सीएम नबाम तुकी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब तुकी राज्य में उपभोक्ता मामलों तथा नागरिक आपूर्ति के मंत्री थे तो नियमों का पालन किये बिना 3.20 करोड़ रुपये का ठेका दिया गया था। तुकी साल 2011 से 2016 तक मुख्यमंत्री रहे थे।


Comments Off on विज्ञापन घोटाला रेलवे अफसरों पर सीबीआई का शिकंजा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.