दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन !    5 मिनट में फिट !    बीमारियां भी लाता है मानसून !    तापसी की 'सस्ती पब्लिसिटी' !    सिल्वर स्क्रीन !    फ्लैशबैक !    सर्वश्रेष्ठ देने के लिए तैयार !    खबर है !    हेलो हाॅलीवुड !    हरप्रीत सिद्धू फिर एसटीएफ प्रमुख नियुक्त !    

राशि न मिलने पर किसानों का फूटा गुस्सा

Posted On July - 14 - 2019

कैथल, 13 जुलाई (हप्र)

राजौंद में शनिवार को प्रधानमंत्री फसल बीमा की राशि जारी न होने पर रोष प्रकट करते किसान। -हप्र

अखिल भारतीय किसान सभा के जिला प्रधान महेंद्र सिंह की अध्यक्षता में राजौंद में बैठक का आयोजन हुआ। बैठक में किसानों को 2018 की खरीफ फसल के प्रधानमंत्री फ सल बीमा योजना की राशि न मिलने पर रोष जताया। किसान सभा के जिला प्रधान महेंद्र सिंह ने बताया कि राजौंद ब्लाक के सैकड़ों किसानों को अभी तक खरीफ 2018 की खराब फसलों की बीमा राशि जारी नहीं की गई। इसे लेकर किसानों में रोष है।
उन्होंने बताया कि खरीफ 2018 की बीमा राशि के लिए किसानों को 30 जून तक का टाइम दिया गया था, लेकिन 14 दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक राजौंद ब्लाक इन किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की राशि जारी नहीं की गई। उन्होंने बताया कि किसानों के बैंक खाते से हर बार फसल पर बीमा राशि के पैसे कट रहे हैं। उसके बाद भी किसानों की खराब फसलों पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की राशि के पैसे नहीं मिल रहे। इस दौरान किसान सभा के सदस्य सुखपाल सिंह, रामकुमार नंबरदार, हजूर सिंह सौगरी, सुरजीत तारागढ़, राजेश, ईश्वर किठाना, चुडि़या सिंह किछाना, बलविद्र सिंह मंडवाल सहित सैकड़ों किसान मौजूद थे।

सही मुआवजे की मांग को लेकर डीसी से मिले किसान
असन्ध (करनाल) (हप्र) : राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन का प्रतिनिधिमंडल शनिवार को डीसी कैंप कार्यालय में उपायुक्त से मिला। प्रतिनिधिमंडल ने डीसी को असंध-जींद मार्ग पर गंगाटेहड़ी गांव में चल रहे किसानों के धरने से अवगत करवाया और किसानों की मांगों को उनके समक्ष उठाया। डीसी ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया कि वह किसानों की मांगों को 15 जुलाई को चंडीगढ़ में उच्चाधिकारियों के समक्ष रखेंगे। प्रतिनिधिमंडल में असंध ब्लाक के 9 गांव, जिनमें गंगाटेहड़ी, पोपड़ा, झिमरीखेड़ा, बस्सी, राहड़ा, शर्फअली खेड़ी, थल, बाहरी व बिलौना शामिल हैं, के प्रभावित किसान शामिल रहे। इस मौके पर किसान नेता राजेंद्र आर्य दादूपुर ने बताया कि ट्रांस हरियाणा ग्रीन फिल्ड परियोजना के तहत नवसृजित राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 152-डी, जिसके लिए न्यू इस्माइलाबाद (गंगहेड़ी) से नारनौल बाईपास तक सड़क बनाने के लिए असंध ब्लाक के 9 गांवों की 434 एकड़ जमीन को अधिगृहीत किया गया है। उनका सरकार से आग्रह है कि इस अधिगृहीत जमीन का मुआवजा मार्केट वेल्यू के आधार पर दिया जाए न कि कलेक्टर रेट के आधार पर। प्रतिनिधमंडल में मास्टर मनीराम शर्मा बाहरी, चंदा सिंह टूर्ण गंगाटेहड़ी, मास्टर बग्गा सिंह आदि शामिल रहे।

 


Comments Off on राशि न मिलने पर किसानों का फूटा गुस्सा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.