आधी आबादी में उत्साह घूंघट के साथ मतदान !    नाबालिग से रेप के मुख्य आरोपी को भेजा जेल !    कर्णी सिंह रेंज पर भिड़े निशानेबाज !    विवाहिता की मौत सास-ससुर और पति गिरफ्तार !    पंजाब में 70, हिमाचल में 69 फीसदी मतदान !    देश के लिए जेल गए थे सावरकर, मोदी की तारीफ !    संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से, हंगामे के आसार !    2 पर ढाई लाख का इनाम !    परिणामों पर विचार के बाद दें फैसला !    देशभर में बैंकों की आज हड़ताल !    

प्रदूषण नियंत्रण के लिए कड़ा रुख अपनाने के निर्देश

Posted On July - 12 - 2019

करनाल, 11 जुलाई (हप्र)

करनाल में बृहस्पतिवार को शेखपुरा स्थित सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट का दौरा करते जस्टिस प्रीतमपाल। -सईद अहमद

राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) की ओर से गठित मॉनीटरिंग कमेटी के अध्यक्ष तथा पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस प्रीतमपाल सिंह ने कहा कि जो लोग नियमों का उल्लंघन कर वातावरण को दूषित करते हैं, उनके चालान कर भारी जुर्माना लगाएं, इसके अच्छे परिणाम आएंगे।
जस्टिस प्रीतमपाल बृहस्पतिवार को अपने करनाल दौरे के दौरान लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित एक बैठक में जिला प्रशासन, स्थानीय निकाय व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों के साथ रूबरू थे। शहर की सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि भी बैठक में शामिल हुए।
उन्होंने कहा कि जिस मकसद को लेकर तीन साल पहले सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट रूल बनाये गए थे, उनकी आवश्यकता अनुसार अनुपालना नहीं हुई, लेकिन अब पिछले कई महीनों की लगातार मॉनीटरिंग से कुछ कार्य हो रहा है। उन्होंने कि आज देश में वातावरण को लेकर गम्भीर समस्या बन गई है, जिससे जल और वायु दोनों दूषित हो गए हैं। इससे निपटने के लिए अब सख्त कदम उठाने पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि जो उद्योग नियमों का उल्लंघन करेंगे, उनके साथ सख्ती से निपटेंगे और भारी जुर्माना लगाएंगे।
उन्होंने कहा कि हरियाणा स्वच्छता की दिशा में तेजी से अग्रसर हो रहा है। प्रदेश के करनाल, पानीपत, कुरुक्षेत्र, जींद, गुरुग्राम, फरीदाबाद व पंचकूला सहित 7 शहरों को मॉडल सिटी बनाने की मुहिम चल रही है। करनाल चूंकि पिछले 3 सालों से प्रदेश का सबसे स्वच्छ शहर बनकर उभरा है। अब इसे देश का नम्बर-वन शहर बनाएं। उन्होंने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की कार्यप्रणाली का जिक्र करते हुए चेतावनी दी कि जो अधिकारी अपना कर्तव्य ठीक से नहीं निभाएंगे, उनके खिलाफ भी एक्शन होगा। एनजीटी की तरफ से स्पष्टï निर्देश हैं कि किसी भी व्यक्ति की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने बोर्ड के अधिकारियों से यह भी कहा कि पोल्ट्री फार्मों से उत्पन्न गंदगी या मक्ख्यिों की जो भी शिकायत मिले, उस पर भी तुरंत कार्रवाई अमल में लाएं। इस दौरान उपायुक्त करनाल विनय प्रताप सिंह, नगर निगम निगम आयुक्त राजीव मेहता भी मौजूद रहे।

सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट का किया दौरा
बैठक के उपरांत पूर्व जस्टिस प्रीतमपाल ने शेखपुरा स्थित सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट का दौरा कर वहां की कारगुजारी देखी। उन्होंने सेग्रीगेशन मशीनें, आरडीएफ सेक्शन, कम्पोस्ट यूनिट में तैयार कम्पोस्ट खाद को देखने में रुचि दिखाई। प्लांट में प्लास्टिक वेस्ट को रिसाइकल कर उसे तैयार ब्रिकेट्स को भी देखा, जिससे कई तरह की वस्तुएं बनाई जा सकती हैं।


Comments Off on प्रदूषण नियंत्रण के लिए कड़ा रुख अपनाने के निर्देश
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.