दोस्ती में समझदारी भी ज़रूरी !    सहयोगियों की कार्यक्षमता को समझें !    आज का एकलव्य !    सुडोकू से बढ़ाएं बच्चों की एकाग्रता !    विद्यालय जाने की खुशी !    तंग नज़रिये की फूहड़ता !    इनसान से एक कदम आगे टेक्नोलॉजी !    महिलाएं भी कर सकती हैं श्राद्ध! !    आध्यात्मिक यात्रा में सहायक मुद्राएं !    उपवास के लिए साबूदाना व्यंजन !    

पश्चिमी कमान के साथ प्रशासन की कई मुद्दों पर बनी सहमति

Posted On July - 11 - 2019

चंडीगढ़/पंचकूला, 10 जुलाई (नस)
चंडीगढ़ एयरपोर्ट के बाहर अवैध ढांचों को हटाने में विफल रहे प्रशासन ने अब पश्चिमी कमान से इन ढांचों पर कार्रवाई करने की मदद मांगी है। बुधवार को चंडीगढ़ के सेक्टर 10 में पंजाब के राज्यपाल एवं यूटी के प्रशासक वीपी सिंह बदनोर की अध्यक्षता में हुई 9वीं सिविल संपर्क वार्ता के दौरान पश्चिमी कमान के साथ प्रशासन की कई मुद्दों पर सहमति बनी। सैन्य बलों और नागरिक अधिकारियों के बीच विभिन्न मामलों पर चर्चा हुई। बैठक में सलाहकार मनोज परिदा ने सबका स्वागत किया। इस अवसर पर सेना के कमांडर, हेडक्वार्टर वेस्टर्न कमान लेफ्टिनेंट जनरल सुरिंदर सिंह, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएसएम उपस्थित हुए। प्रशासक द्वारा बैठक में वायु सेना स्टेशन के आसपास अनधिकृत निर्माण को हटाने और चंडीगढ. से अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे तक की कनेक्टिविटी और वायु सेना स्टेशन चंडीगढ़ आदि के बहलाना फाटक के पास जल निकासी और ड्रेनेज क्लीयरेंस पर विचार-विमर्श किया गया। एयर फोर्स स्टेशन प्राधिकरण के साथ सहयोग करने की भी बात कही गई। इसके अलावा प्रशासक ने प्रशासन द्वारा सेक्टर 44-ए में वेल्फेयर हाउसिंग ऑर्गेनाइजेशन की जमीन को लीज होल्ड से फ्री होल्ड में बदलने, पूर्व सैनिकों और सामान्य रखरखाव के लिए आरक्षित पदों की पहचान के लिए की गई कार्रवाई पर संतोष व्यक्त किया गया। पश्चिमी कमान द्वारा वार्ता में रखे गए प्रस्तावों में चंडीगढ़ पुलिस में भर्ती के लिए पंजाब एक्स सर्विसमैन रूल्स 1982 का अनुपालन करने, जिला सैनिक कल्याण बोर्ड को फिर से नामित करने की मांग की गई जिन पर प्रशासक ने आश्वासन दिया कि इन मामलों की जांच की जाएगी और प्राथमिकता के आधार पर इन मुद्दों पर विचार किया जायेगा।


Comments Off on पश्चिमी कमान के साथ प्रशासन की कई मुद्दों पर बनी सहमति
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.