टालमटोल की आदत बुरी !    सच बोलने का इनाम !    बच्चों को भी बनाएं जागरूक !    आई दीवाली !    मन की भी हो मरम्मत !    इस दिवाली पुराने को नया बनाएं, खुशियां फैलाएं !    पर्सनल ट्रेनर का काम करेगा स्मार्ट मिरर !    मिठाई-फल डाल कर घर लायें नया बर्तन !    पढ़ाई में मददगार एप्स !    संतान की मंगलकामना का व्रत अहोई अष्टमी !    

नगर के कालेजों को शीघ्र मिलेगा स्थायी स्टाफ

Posted On July - 11 - 2019

जोगिंद्र सिंह/ट्रिन्यू
चंडीगढ़, 10 जुलाई
पंजाब विश्वविद्यालय में अंडरग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सों की एफिलिएशन को लेकर आज का पूरा दिन डिस्कशन और बहसबाजी में ही निकल गया। बैठक में उपस्थित सदस्य कालेजों को लेकर अधिकतर समय अनुपयोगी बहस ही करते रहे। डीन कालेज डेवलपमेंट काउंसिल (डीसीडीसी) कार्यालय में हुई बैठक में यूटी और पंजाब के कालेजों में एडमिशन के लिये एफिलिएशन शर्तों के पालन पर सख्ती को लेकर पीयू इस बार काफी गंभीर दिखायी दे रही है। डीसीडीसी प्रो. संजय कौशिक ने बताया कि आज ही उन्हें यूटी के डायरेक्टर हायर एजुकेशन (डीएचई) की ओर से एक पत्र मिला है, जिसमें यूटी के कालेजों में फैकल्टी की भर्ती किये जाने का वादा किया है। स्टाफ भर्ती के लिये काम जोरों पर चल रहा है, जल्द ही कालेजों को रेगुलर स्टाफ मिल जायेगा। शहर के अधिकतर सरकारी कालेजों में फैकल्टी और रेगुलर प्रिंसिपलों की भारी कमी है, एकाध कालेज को छोड़कर लगभग सभी में आफिशिएटिंग प्रिंसिपल काम रहे हैं जिनमें से कुछ को तो 10-10 साल भी हो गये हैं।
स्टाफ की भारी कमी
बताया जाता है कि गवर्नमेंट कालेज सेक्टर-46 में बीबीए और बीसीए के दाखिलों पर अभी कुछ स्थिति अभी तक साफ नहीं है। गवर्नमेंट कालेज-46 में स्टाफ की भारी कमी है जिस कारण बीबीए और बीसीए के दाखिलों पर प्रश्नचिन्ह लग सकता है। शहर के एफिलिएटिड एडिड कालेजों गुरु गोबिंद सिंह खालसा कालेज और गुरु गोबिंद सिंह खालसा कालेज फार वूमेन और देव समाज कालेज-45 में भी फैकल्टी के मुद्दे को लेकर दाखिलों पर सवालिया निशान लग रहा है।


Comments Off on नगर के कालेजों को शीघ्र मिलेगा स्थायी स्टाफ
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.