किशोर ने 6 वर्षीय बच्चे के साथ किया कुकर्म !    स्थानांतरण नीति को लेकर अध्यापक संघ का प्रदर्शन !    सड़क सुरक्षा समिति बैठक में छाया रहा पार्किंग का मुद्दा !    इनेलो, कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल !    शहीदों के जीवन पर प्रदर्शनी लगायेगी कांबोज सभा !    इंडिया कबड्डी टीम का कैप्टन बना अमरजीत !    एकदा !    खेड़ी गंडिया में 2 बच्चे अगवा! !    प्रशासन ने सुखना लेक को घोषित किया वैटलैंड !    सीबीआई कोर्ट का पंजाब सरकार को क्लोजर रिपोर्ट देने से इनकार !    

गांवों में हो रही पानी की भारी किल्लत

Posted On July - 12 - 2019

भिवानी, 11 जुलाई (हप्र)

भिवानी के साथ सटे गांव उमरावत के जलघर की दयनीय स्थिति। -हप्र

शहर के साथ सटे आधा दर्जन गांव ढाणा लाडनपुर, ढाणा नरसान, कोंट, उमरावत, पूर्णपुरा व नांगल आदि में पानी की भारी किल्लत बनी हुई है। ग्रामीणों को पेयजल के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। दिन को पुरुषों और रात को गृहणियों को पानी का इंतजाम करना पड़ता है। न तो जोहड़ों में पानी है और न ही नलकूपों में। पानी की किल्लत पशुओं का बुरा हाल हो गया है। जन-स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी बे-खबर हैं।
राजेश, विनोद, संदीप, राजू, देवदत्त, गजानंद ने कहा कि उनके गांव में 15 से 20 दिन में जलघर से सप्लाई का पानी आता है कभी-कभी तो महीना भी गुजर जाता है मगर पानी के दर्शन नहीं होते हैं। उन्हें पानी के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। गांवों में आबादी के हिसाब से पानी के टैंकर, कैंपर आते हैं। इस समय टैंकर, कैंपर वाले ही चांदी कूट रहे हैं। जन स्वास्थ्य विभाग कुम्भकर्णी नींद में सोया हुआ है।
प्रत्येक व्यक्ति की आधे से ज्यादा कमाई तो पानी में लग जाती है जबकि और जरूरत की चीजों के लिए उसे उधार में ही काम चलाना पड़ता है। अब तो कुओं व नलकूपों का पानी खारा हो गया है। उन्होंने कहा कि वे बार-बार जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के चक्कर काट कर थक चुके हैं लेकिन पानी की समस्या हल नहीं हो रही है।
एक माह से पेयजल किल्लत से जूझ रहे ठाकुरवाड़ा वासी
फरीदाबाद (हप्र) : फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ठाकुरवाड़ा के लोग बूंद-बूंद पानी को तरस गए हैं। धरने प्रदर्शन के बावजूद भी क्षेत्र के लोगों को निगम प्रशासन पेयजल उपलब्ध कराने में नाकाम साबित हुआ है। ठाकुरवाड़ा में पिछले करीब एक महीने से पेयजल उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। पानी की आपूर्ति न होने से क्षेत्र के लोग बूंद-बूंद पानी को तरस रहे है। ऐसा नहीं है कि क्षेत्र के लोगों ने निगम अधिकारियों को शिकायत न की हो या फिर धरने प्रदर्शन कर किए हो, बावजूद इसके निगम अधिकारी अभी तक क्षेत्रवासियों को पेयजल उपलब्ध नहीं करवा पाए हैं।

वार्ड 10 में सप्ताह से नहीं आ रहा पानी
नारनौल (निस) : कस्बा के वार्ड न. 10 में एक सप्ताह से पानी की सप्लाई नहीं आ रही है जिससे वार्ड में पानी का संकट पैदा हो गया है। वार्ड के लोग टैंकरों से पानी मंगवा कर अपना काम चला रहे हैं। वार्ड की नगर पार्षद सरोज देवी ने बताया कि पानी की समस्या से उन्होंने अधिकारियों को अवगत करवाया है लेकिन आज करेंगे कल करेंगे की बात कह कर टरका रहे है और वार्ड में पानी की हां-हां कार मच रहा है। लोग पानी की पूर्ति के लिए दर बदर की ठोकर खा रहे हैं। वार्ड न. 5 में गंदा पानी की सप्लाई की शिकायत लोग कर रहे हैं।

गंदे पानी के विरोध में सड़क पर उतरे राजली के ग्रामीण

हिसार लघु सचिवालय में बृहस्पतिवार को प्रदर्शन करते राजली गांव के ग्रामीण। -हप्र

हिसार (हप्र) : राजली गांव की विभिन्न गलियों से बहकर गांव की दलित बस्ती में जमा होने वाले गंदे पानी के विरोध में ग्रामीणों ने बृहस्पतिवार को उपायुक्त कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शन की अगुवाई समिति राजली के कन्वीनर ऋषिकेश राजली, रमलु, रवि, पंच आरके राजेंद्र, मास्टर रोशनलाल ने की। प्रदर्शन में दलित बस्ती की महिलाओं और बड़े-बुजुर्गों ने भारी संख्या में हिस्सा लिया। समिति कनवीनर ऋषिकेश राजली और रमलु ने बताया कि गांव की लगभग 30-40 गलियों का गंदा पानी कई वर्षों से गांव की दलित बस्ती में जमा हो रहा है। इन नालियों का लेवल जानबूझ कर दलित बस्ती से ऊंचा किया गया है ताकि सारा गंदा पानी यहां पर जमा हो सके। इस गंदे पानी की निकासी गांव से बाहर करने की जिम्मेदारी पंचायत की है। उन्होंने बताया कि गंदा पानी जमा होने से बस्ती में बीमारियां फैल रही है और यहां रहने वाले लोगों का घर से बाहर निकलना दूभर हो गया है। इस गंदे पानी के कारण बस्ती में मच्छरों का इतना अधिक प्रकोप है कि यहां के लोगों को पूरी रात जागकर काटनी पड़ती है। प्रदर्शन के बाद ग्रामीणों ने उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा। डीसी ने संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों को मौके पर ही फोन करके जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान करने के आदेश दिए।


Comments Off on गांवों में हो रही पानी की भारी किल्लत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.