चुनाव आयोग की हिदायतों का असर : खट्टर सरकार ने बदले 14 शहरों के एसडीएम !    अस्पताल में भ्रूण लिंग जांच का भंडाफोड़ !    यमुना का सीना चीर नदी के बीचोंबीच हो रहा अवैध खनन !    जाकिर हुसैन समेत 4 हस्तियों को संगीत नाटक अकादमी फेलोशिप !    स्टोक्स को मिल सकती है ‘नाइटहुड’ की उपाधि !    ब्रिटेन में पहली बार 2 आदिवासी नृत्य !    मानहानि का मुकदमा जीते गेल !    शिमला में असुरक्षित भवनों का निरीक्षण शुरू !    पीओके में बाढ़ का कहर, 28 की मौत !    कांग्रेस ने लोकसभा से किया वाकआउट !    

कर्मचारी ने एरियर का पैसा निकलवाकर किया हजम

Posted On July - 12 - 2019

बाबैन,11 जुलाई (निस)
शिक्षा विभाग कुरुक्षेत्र के एक कर्मचारी द्वारा एरियर का पैसा निकलवाकर हजम करने का मामला राज्य चौकसी ब्यूरो के पास पहुंच गया है। पीड़ित कैलाश चंद्र ने राज्य चौकसी ब्यूरो के महानिदेशक को भेजी शिकायत में शिक्षा विभाग के 2 कर्मचारियों पर एरियर का पैसा निकलवाकर हजम करने का आरोप लगाया है।
शिक्षा विभाग में कार्यरत कैलाश चंद्र ने राज्य चौकसी ब्यूरो के महानिदेशक को भेजी शिकायत में कहा है कि वह शहीद संजीव कुमार मिडल स्कूल कौलापुर में पार्टटाइम स्वीपर था। पूर्व सरकार की पॉलिसी के तहत वर्ष 2014 में उसे पक्का कर दिया गया था। हाईकोर्ट के दिशानिर्देश के अनुसार उसे वर्ष 2003 से नियमित माना गया था। बकाया एरियर लेने के लिए कुरुक्षेत्र के 22 कर्मचारियों ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर की हुई थी। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कर्मचारियों के पक्ष में फैसला सुनाते हुए साथ कर्मचारियों को वर्ष 2011 से लेकर वर्ष 2014 तक 38 महीने का एरियर दिलवाने के निर्देश दिए थे। कैलाश चंद्र का आरोप है कि मुख्य आरोपी कर्मचारी ने प्रति कर्मचारी के हिसाब से 16 हजार रुपये वकील को फीस देने की बात की थी, जिसके बाद आरोपी ने उससे 4 खाली चेक व 10 हजार रुपये नकद राशि ले ली थी। कैलाश चंद्र ने बताया की एरियर के पैसे खाते में आने के बाद जब मैने बैंक से अपने खाते की स्टेटमेंट निकलवाई तो पता चला कि आरोपी की शह पर दूसरे कर्मचारी ने उसके खाते से खाली दिए गए चेक को भरकर बैंक से 22 अप्रैल, 2019 को एक लाख 10 हजार रुपये की राशि पिपली स्थित स्टेट बैंक आफ इंडिया की शाखा से निकलवा ली। पता चलने पर जब उसने रुपए निलवाने वाले कर्मचारी से पूछा तो उसने बताया कि उसने ये पैसे निकलवा कर दूसरे कर्मचारी को दे दिए।

आरोपी कर्मचारियों का कहना है
इस बारे में जब दोनों आरोपी कर्मचारियों से बातचीत की गई तो उन्होंने कैलाश चंद्र द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को नकारते हुए झूठे व निराधार बताते हुए कहा कि कर्मचारियों की कमेटी में लिए गए फैसले के अनुसार ही वकील को पैसे देने पर सहमति बनी थी। इस सहमति में शिकायतकर्ता कैलाश चंद्र भी शामिल था। उन्होंने कहा कि कैलाश चंद्र ने भी कमेटी के फैसले के अनुसार उन्हें वकील की फीस दी थी और कैलाश चंद्र ने बैंक से ही खुद पैसे निकलवाए थे।

 


Comments Off on कर्मचारी ने एरियर का पैसा निकलवाकर किया हजम
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.