सिल्वर स्क्रीन !    हेलो हाॅलीवुड !    साहित्यिक सिनेमा से मोहभंग !    एक्यूट इंसेफेलाइिटस सिंड्रोम से बच्चों को बचाएं !    चैनल चर्चा !    बेदम न कर दे दमा !    दिल को दुरुस्त रखेंगे ये योग !    कंट्रोवर्सी !    दुबला पतला रहना पसंद !    हिंदी फीचर फिल्म : फर्ज़ !    

एंड्रॉयड के अल्फाबेटिकल नाम

Posted On July - 21 - 2019

कुमार गौरव अजीतेन्दु
गूगल का एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम अपने सफर के ग्यारहवें साल में है। फिलहाल, इसका लेटेस्ट वर्जन ‘पाई’ मार्केट में है, जिसे पिछले साल छह अगस्त को लॉन्च किया गया था। उल्लेखनीय है कि एंड्रॉयड के हर वर्जन का नामकरण अल्फाबेटिकल ऑर्डर के अनुसार किया गया है।
स्मार्टफोन यूजर्स में 88 फीसदी एंड्रॉयड
एंड्रॉयड, दुनिया के सबसे पॉपुलर स्मार्टफोन ऑपरेटिंग सिस्टम्स में से एक है।
रिपोर्ट्स के अनुसार दुनियाभर के स्मार्टफोन यूजर्स का 88 प्रतिशत एंड्रॉयड यूजर्स हैं। गूगल का यह ऑपरेटिंग सिस्टम पिछले साल 23 सितंबर को 10 साल का हो चुका है। किसी जमाने में बंद होने के मुहाने पर खड़े एंड्रॉयड ने आज गूगल के सबसे बड़े प्रोजेक्ट्स में अपना नाम दर्ज करा लिया है।
गूगल ने एंड्रॉयड को डेवलेप नहीं किया है। यह एक घाटे में चल रहा स्टार्टअप था, जिसे इन्वेस्टमेंट्स की ज़रूरत थी। उस समय यह एंड्रॉयड इंक के नाम से जाना जाता था और इसे एंडी रुबिन, रिच मिनर, निक सिअर्स और क्रिस व्हाइट ने मिलकर पालो आल्टो, कैलिफोर्निया में स्थापित किया था।
रोचक तथ्य
जब एंड्रॉयड शुरुआत में बनाया जा रहा था तो इसे डिजिटल कैमरा के लिए एक एडवांस ऑपरेटिंग सिस्टम के तौर पर सोचा गया था। लेकिन बाद में इसको सिम्बियन ऑपरेटिंग सिस्टम को टक्कर देने के लिए तैयार किया गया। वर्ष 2005 में गूगल ने एंड्रॉयड को खरीद लिया। उस समय यह बात भी चली थी कि सैमसंग इसे खरीदेगी, लेकिन सैमसंग को एंड्रॉयड में कोई खास संभावनाएं नहीं दिखीं। इसलिए उसने अपने हाथ वापस खींच लिए। पहला एंड्रॉयड वर्जन टी-मोबाइल जी1/एचटीसी ड्रीम मोबाइल के ऑपरेटिंग सिस्टम के रूप में लॉन्च हुआ था और इस तरह टी-मोबाइल जी1/एचटीसी ड्रीम दुनिया का पहला एंड्रॉयड फोन बना।
इसमें एंड्रॉयड का पहला वर्जन एंड्रॉयड 1.0 था और यह फोन एप्पल के आईफोन ओएस 2 की प्रतिस्पर्धा में उतारा गया। अब दुनिया एंड्रॉयड 9.0 ‘पाई’ की ओर कदम बढ़ा चुकी है। अब तक के सभी एंड्रॉयड वर्जन्स के नामों पर ध्यान दें तो पाते हैं कि एंड्रॉयड 1.0 और 1.1 के अलावा अन्य सभी के नाम अल्फाबेटिकल ऑर्डर में होने के साथ-साथ किसी न किसी स्वीट्स के नाम पर रखे गये हैं। अल्फाबेटिकल ऑर्डर के हिसाब से देखें तो कहा जा सकता है कि एंड्रॉयड 9.0 ‘पाई’ के बाद का जो वर्जन आएगा, उसका नामकरण ‘क्यू’ लेटर से होगा।
एंड्रॉयड वर्जन्स और नाम
एंड्रॉयड 1.5 : एंड्रॉयड कपकेक, एंड्रॉयड 1.6 : एंड्रॉयड डोनट, एंड्रॉयड 2.0 : एंड्रॉयड इक्लेयर, एंड्रॉयड 2.2 : एंड्रॉयड फ्रोयो, एंड्रॉयड 2.3 : एंड्रॉयड जिंजरब्रेड, एंड्रॉयड 3.0 : एंड्रॉयड हनीकॉम्ब, एंड्रॉयड 4.0 : एंड्रॉयड आइस क्रीम सैंडविच, एंड्रॉयड 4.1 से 4.3.1 : एंड्रॉयड जैलीबीन, एंड्रॉयड 4.4 से 4.4.4: एंड्रॉयड किटकैट, एंड्रॉयड 5.0 से 5.1.1 : एंड्रॉयड लॉलीपॉप, एंड्रॉयड 6.0 से 6.0.1 : एंड्रॉयड मार्शमैलो, एंड्रॉयड 7.0 से 7.1 : एंड्रॉयड नौगाट, एंड्रॉयड 8.0 से एंड्रॉयड 8.1 : एंड्रॉयड ओरेओ, एंड्रॉयड 9.0 : एंड्रॉयड पाई।
इस तरह से गूगल ने एंड्रॉयड के सभी वर्जन्स का नामकरण किया है।


Comments Off on एंड्रॉयड के अल्फाबेटिकल नाम
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.