दो गुरुओं के चरणों से पावन अमर यादगार !    व्रत-पर्व !    ऊंचा आशियाना... आएंगी ढेर सारी खुशियां !    आत्मज्ञान की डगर !    झूठ से कर लें तौबा !    इस समोसे में आलू नहीं !    पुस्तकों से करें प्रेम !    बिना पानी के स्प्रे से नहाएंगे अंतरिक्ष यात्री !    मास्टर जी की मुस्कान !    अविस्मरणीय सबक !    

ईरान यूरेनियम संवर्धन बढ़ाने को तैयार

Posted On July - 7 - 2019

तेहरान, 6 जुलाई (एजेंसी)
ईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्ला अली खामेनेई के एक शीर्ष सहयोगी ने कहा कि इस्लामी गणराज्य 2015 परमाणु सौदे में निर्धारित सीमा से अधिक यूरोनियम संवर्धन करने को तैयार है। ईरान ने यह ऐलान ऐसे समय में किया है जब उसने यूरोप को रविवार तक समझौते के लिए नयी शर्तें प्रस्तुत करने को कहा है। शीर्ष नेता अली अकबर विलायती ने एक वीडियो संदेश में कहा, ‘अमेरिका ने प्रत्यक्ष और यूरोप ने अप्रत्यक्ष रूप से समझौते का उल्लंघन किया है।’ यूरोपीय पक्षों ने अभी ईरान को अमेरिका प्रतिबंधों से बचने के तरीका नहीं सुझाया है।
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने करीब एक साल पहले ईरान पर प्रतिबंध लगाए थे, जो विशेषतौर पर उसकी महत्वपूर्ण तेल बिक्री को निशाना बनाते हैं। खामेनेइ की वेबसाइट पर मौजूद वीडियो में उन्होंने कहा कि हम उतनी ही तेजी से प्रतिक्रिया देंगे, जितना वे इसका उल्लंघन करेंगे। हम उतनी ही अपनी प्रतिबद्धताओं से पीछे हटेंगे, जितना वे हटेंगे। उन्होंने कहा, ‘अगर वे अपनी प्रतिबद्धताएं पूरी करते हैं, तो हम भी करेंगे।’ परमाणु समझौते के तहत ईरान यूरेनियम का संवर्धन 3.67 प्रतिशत से अधिक ना करने पर राजी हुआ था। लेकिन विलायती ने यूरेनियम के संवर्धन को पांच प्रतिशत तक बढ़ाने की ओर संकेत देते हुए कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि ईरान यूनेनियम का संवर्धन कितना बढ़ाएगा। उन्होंने कहा, ‘बुशहर परमाणु रिएक्टर के लिए हमें पांच प्रतिशत तक बढ़ोतरी करने की जरूरत है और यह बिल्कुल शांतिपूर्ण लक्ष्य है।’
ईरान का एकलौता परमाणु ऊर्जा संयंत्र बशहर अभी रूस द्वारा आयात किए गए ईंधन पर चल रहा है, जिस पर संयुक्त राष्ट्र की अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी नजर रखती है। गौरतलब है कि ईरान ने जनवरी 2014 में परमाणु समझौते पर बातचीत के दौरान यूरोनियम का संवर्धन पांच प्रतिशत से अधिक करना बंद कर दिया था।


Comments Off on ईरान यूरेनियम संवर्धन बढ़ाने को तैयार
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.