किशोर ने 6 वर्षीय बच्चे के साथ किया कुकर्म !    स्थानांतरण नीति को लेकर अध्यापक संघ का प्रदर्शन !    सड़क सुरक्षा समिति बैठक में छाया रहा पार्किंग का मुद्दा !    इनेलो, कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल !    शहीदों के जीवन पर प्रदर्शनी लगायेगी कांबोज सभा !    इंडिया कबड्डी टीम का कैप्टन बना अमरजीत !    एकदा !    खेड़ी गंडिया में 2 बच्चे अगवा! !    प्रशासन ने सुखना लेक को घोषित किया वैटलैंड !    सीबीआई कोर्ट का पंजाब सरकार को क्लोजर रिपोर्ट देने से इनकार !    

अंबाला सेंट्रल जेल में गैंगवार, बजाना पड़ा आपातकालीन सायरन

Posted On July - 12 - 2019

जितेंद्र अग्रवाल/हप्र
अंबाला शहर, 12 जुलाई 
 केंद्रीय कारागार अंबाला में उस समय आपातकालीन परिस्थितियां उत्पन्न हो गई जब जेल में बंद दो गैंगों में आपस में भिड़ंत हो गई। गैंगों के लोगों ने जेल कर्मचारियों व अधिकारियों को धक्के मार, दीवारें फांद कर एक दूसरे पर हमला बोल दिया। इस दौरान इंटों, पत्थरों व पेड़ों की टहनियों से बने डंडों का खुलकर प्रयोग किया गया। घटनाक्रम से स्पष्ट है कि यह सब सुनियोजित षड्यंत्र के तहत किया गया। आपातकालीन की स्थिति को देखते हुए जेल में इमरजेंसी अलार्म करवाया गया। परे प्रकरण में एक जेल अधिकारी सहित कई कर्मचारी और दर्जनों बंदियों के घायल होने की जानकारी मिली है। 
जानकारी के अनुसार जेल में उत्पात मचाने से पहले दोनों गैंगों के बीच अदालत में पेशी पर जाने के दौरान किसी बात को लेकर झड़प हो गई थी लेकिन उसकी जानकारी संबंधित स्टाफ ने जेल प्रशासन को नहीं दी। इसके बाद जेल पहुंचने के बाद एक गैंग ने दूसरे गैंग पर हमला बोल दिया। बंदियों का उत्पात इतना ज्यादा था कि बंदी जेल अधिकारियों, वार्डरों व स्टाफ के काबू भी नहीं आए, इस पर बाहर से पुलिस को जेल में बुलाना पड़ा। फिर उत्पाती बंदियों की अच्छी खासी धुनाई भी करनी पड़ी। इस दौरान एक जेल उपाधीक्षक सहित कई वार्डर घायल हो गए जबकि घायल हुए कैदियों की संख्या कई दर्जन बताई जा रही है। पुलिस ने दोनों गैंगों के 84 बंदियों को नामजद करके मामला दर्ज किया है। फिलहाल भिड़ंत का कोई स्पष्ट कारण समझ नहीं आया है। जानकारी के अनुसर जेल में आपातकालीन स्थिति पैदा करने वालों में लौरेंश गैंग के बंदियों द्वारा भूपी राणा गैंग के बंदियों पर हमला करना रहा। इस गैंगवार को संभालने में आधी रात बीत गई और मामला आज दर्ज किया गया। जानकारी के अनुसार जेल की बंदी की जा रही थी तो लौरेंश गैंग के 40-45 बंदी सुरक्षा वार्ड पर तैनात वार्डर सुरेंद्र व जेल विजिलेंस टीम के तैनात वार्डर अजीत राणा व वार्डर गजे सिंह को धक्के देकर गेट से बाहर निकल आए। यह सभी बंदी 24-सेंटर की तरफ  जाने लगे और 24-सेंटर पर तैनात हैडवार्डर सुरेश पाल व विजिलेंस टीम के तैनात हैडवार्डर बलजीत, वार्डर गुरमेज को धक्के मारकर दीवारें फांदकर 24-सेंटर में बंद भूपी राणा गैंग के बंदियों पर इंटें, पत्थरों व पेड़ों की टहनियों से बने डंडों से हमला कर दिया। इस पर 24 सेंटर से भूपी राणा गैंग ने भी गेट व दीवारें फांदकर बाहर आकर आपस में एक दूसरे से मार-पिटाई शुरू कर दी। मामले की जानकारी एसपी अंबाला, एसएचओ बलदेव नगर व अधीक्षक जेल को दी गई। जब तक बाहरी पुलिस जेल पर नहीं पहुंची तो जेल गार्द, कर्मचारियों व आफिसरों सहायक अधीक्षक भुपेन्द्र सिंह, उपसहायक अधीक्षक अजीत सिंह व सहायक अधीक्षक नीलम एवं उपाधीक्षक द्वारा दोनों पक्षों में बीच बचाव करने की कोशिश की जिसके दौरान जेल मुलाजमान को चोटें आई। दोनों गैंगों का झगड़ा बाहरी पुलिस द्वारा आकर कंट्रोल किया गया। जेल प्रशासन की ओर से जेल उपाधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने आरोपियों के नाम पुलिस को बताकर सभी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की आग्रह किया है। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू की है। 
बाक्स..
दोनों गैंगों के इन 84 बंदियों पर मामला हुआ दर्ज
जेल में मचे उत्पात के सिलसिजे में कैदी बंदी दीपक, हरमनप्रीत, जोगिंद्र,्र सतबीर, प्रशांत, अंकूर, दमन, गुरविन्द,्र साहिलपुत्र ओम प्रकाश, अमित, निसार, देविंद्र, दीपक  पुत्र सुशील, पियूश, अनुज, हरप्रीत, हरविंद,्र रवि, तलविंद्र, मनीष, जसटीन, मरणजीत, बुथा गिरी, सुरेंद्र पाल, मनप्रीत, अजय पाल, गगनदीप, गुरविंद्र, मनदीप, विक्रम, संदीप, जसप्रीत, मोहम्मद ईरफान, विक्रम पुत्र कृष्ण, गरजैंट, प्रिंस, शिरी पाल, गोल्डी, जोनी, सुरेंद्र, मो.अजमल, शिवम, अमन,  ऐकेस, विशाल, कुलदीप, मुनीष पुत्र चरणपाल, चरणजीत, विरेंद्र, राजीव, गौरव, विरेंद्र पुत्र सुखराम, विरेंद्र पुत्र शिवकुमार, जसमीर, गुलशन, अनुप, रवि, मोहित, मुकेश, अमित, विक्रमजीत, गुरप्रीत, गुरजेंट, हरसिमरन, गुरचरण, आनंद, प्रिंस पुत्र गोपाल, शुभम, राहुल, निशांत, प्रदीप, दीपक, सागर, राकेश, पप्पू, राकेश पुत्र सुखराम, बिट्टू, असलम, अश्वनी, राहुल पुत्र गोकुल, प्रदीप, साहिल पुत्र विक्रम, भूपेंद्र पुत्र कर्ण सिंह व अरणव के खिलाफ विभिन्न आपराधिक धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।
करता बोले जेल अधीक्षक
लीरेंश गैंग के बंदियों ने भूपी राणा गैंग के बंदियों पर उनके ब्लॉक में जाकर झगड़ा किया। इस दौरान दोनों पक्षों का झगड़ा छुड़वाने में जेल कर्मचारी, वार्डर जरनैल, वार्डर सुरेंद्र व चक्कर हैडवार्डर सुरेंद्र व भूपेंद्र सिंह उपाधीक्षक जेल को भी चोटें आई। घटनाक्रम की जांच की जा रही है। स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।
-लखबीर सिंह, जेल अधीक्षक अंबाला


Comments Off on अंबाला सेंट्रल जेल में गैंगवार, बजाना पड़ा आपातकालीन सायरन
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.