दोस्ती में समझदारी भी ज़रूरी !    सहयोगियों की कार्यक्षमता को समझें !    आज का एकलव्य !    सुडोकू से बढ़ाएं बच्चों की एकाग्रता !    विद्यालय जाने की खुशी !    तंग नज़रिये की फूहड़ता !    इनसान से एक कदम आगे टेक्नोलॉजी !    महिलाएं भी कर सकती हैं श्राद्ध! !    आध्यात्मिक यात्रा में सहायक मुद्राएं !    उपवास के लिए साबूदाना व्यंजन !    

सूचना देने से आयोग ने किया इनकार

Posted On June - 11 - 2019

नयी दिल्ली, 10 जून (एजेंसी)
निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनाव प्रचार अभियान के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेताओं द्वारा आचार संहिता के कथित उल्लंघनों और उसके बाद उन्हें मिली क्लीन चिट पर जानकारियां साझा करने से इनकार कर दिया है। आयोग ने कहा कि इसकी जानकारी अलग-अलग स्रोतों से एकत्रित करनी होगी और इसमें उसके गलत तरीके से पेश किए जाने का खतरा हो सकता है। एक आरटीआई के जवाब में चुनाव आयोग ने प्रधानमंत्री के आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले पर जानकारी देने से इनकार करते हुए दो चुनाव आयुक्तों में से एक द्वारा की असहमति में की गई फाइल नोटिंग की प्रति मुहैया कराने से भी मना कर दिया। निर्वाचन आयोग ने अपने जवाब में कहा, ‘यह सूचित किया जाता है कि आदर्श आचार संहिता की शिकायतें संबंधित क्षेत्रों के कार्यालयों में निपटायी जाती हैं। आपकी ओर से मांगी गई सूचना संकलित रूप में उपलब्ध नहीं है…इस संबंध में आप आरटीआई कानून, 2005 की धारा 7 (9) का उल्लेख कर सकते हैं।’
ईसी से उसके इस निष्कर्ष के बारे में सूचना उपलब्ध कराने को कहा गया था कि प्रधानमंत्री ने अपने विभिन्न चुनावी भाषणों के दौरान आदर्श आचार संहिता का कोई उल्लंघन नहीं किया। आयोग से प्रत्येक शिकायतों की जानकारियां, बैठकों के ब्यौरे की प्रति देने के लिए भी कहा गया जिसमें शिकायतों पर अंतिम निर्णय लिए गए। साथ ही किसी भी चुनाव आयुक्त द्वारा असहमति पत्र की जानकारियां देने के लिए भी कहा गया। दो चुनाव आयुक्तों में से एक ने अप्रैल में महाराष्ट्र में प्रधानमंत्री के दो भाषणों के लिए उन्हें क्लीन चिट देने के ‘पूर्ण चुनाव आयोग’ के फैसले पर असंतोष जताया था। कांग्रेस ने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए मोदी के खिलाफ कई शिकायतें दी थी जिस पर आयोग ने अपना फैसला लिया। सूत्रों के अनुसार, एक चुनाव आयुक्त ने प्रधानमंत्री के एक अप्रैल को वर्धा में दिए भाषण और नौ अप्रैल को लातूर में दिए भाषण पर उन्हें क्लीन चिट दिए जाने के आयोग के फैसले पर असहमति जताई थी। सुनील अरोड़ा मुख्य चुनाव आयुक्त हैं जबकि सुशील चंद्रा और अशोक लवासा दो चुनाव आयुक्त हैं।


Comments Off on सूचना देने से आयोग ने किया इनकार
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.