गौमांस तस्करी के शक में 2 लोगों को पीटा !    चौपाल निर्माण में घटिया सामग्री लगाने का आरोप !    नकदी नहीं मिली तो बंदूक ले गये चोर !    पीजीआई में कोरोनरी एंजियोप्लास्टी का लाइव ट्रांसमिशन !    गंगा स्नान कर लौट रहे युवक की चाकू मारकर हत्या !    यमुना प्रदूषण के मामले में 5 विभागों को नोटिस !    लिव-इन से जुड़वां बच्चों को जन्म देकर मां चल बसी !    हर्बल नेचर पार्क में लगी आग, 5 एकड़ क्षेत्र जला !    ड्रेन की आधी अधूरी सफाई से किसानों में रोष !    राहगीरों की राह में रोड़ा 3 एकड़ जमीन का टुकड़ा !    

शहर में गंभीर जल संकट

Posted On June - 12 - 2019

रंजू ऐरी डडवाल/ट्रिन्यू
चंडीगढ़, 11 जून
चंडीगढ़ शहर इन दिनों पानी के संकट से जूझ रहा है। पानी की कमी का अंदाजा यहीं से लगाया जा सकता है कि निगम के शिकायत केन्द्र पर मंगलवार शाम तक करीब 500 शिकायतें दर्ज हो गयीं। लोगों ने टैंकरों से पानी पहुंचाये जाने की मांग की। शहर में निजी टैकरों से लोगों के घरों तक पानी पहुंचाने वालों के पास भी करीब 400 टैंकरों की डिमांड आज दिनभर में आई।
निगम के शिकायत केन्द्र पर बैठे जेई विनोद कुमार का कहना था कि निगम के पास अपने 13 टैंकर हैं व इन दिनों लोगों की डिमांड पूरी करने के लिए कुछ निजी टैंकर भी किराये पर लिए गए हैं। चंडीगढ़ में कुछ सेक्टर तो एेसे हैं, जहां पहली और दूसरी मंजिल पर अप्रैल के बाद से पानी नहीं पहुंच पाया है। ओवरहैड टैंक भी इन सेक्टरों में टैंकरों से ही भरवाने पड़ते हैं।
ऊपरी मंजिल पर रहने वाले लोग भूतल से पानी की बाल्टियां ले जा रहे हैं। हल्लोमाजरा के दीप कांपलेक्स में 2 ट्यूबवेल पिछले 15 से दिनों से खराब हैं। यहां के लोगों को कुछ दिन पहले ही पानी के कनेक्शन दिए गए हैं पर पानी की आपूर्ति शुरू नहीं हुई। खुड्डा अलीशेर में भी लोग पानी के लिए तरस रहे हैं। पानी की आपूर्ति को सामान्य बनाने में लगे एसडीओ जगदीश ने कहा कि उनका प्रयास रहता है कि जहां से भी टैंकर की डिमांड आये उसे तुरन्त पूरा किया जाये।
नगर निगम के आयुक्त केके यादव ने बताया कि कजौली वॉटर सप्लाई स्कीम के फेज 5 व 6 का काम पूरा होने के कगार पर है। इससे 35 एमजेडी अतिरिक्त पानी मिलेगा इसमें से 29 एमजीडी पानी चंडीगढ़ के हिस्से में आयेगा। इसके अतिरिक्त पंचकूला व चंडी मंदिर कैंटोनमेंट को 3-3 एमजीडी अतिरिक्त पानी मिलेगा। इससे पानी की कमी पूरी हो जायेगी।
मांग 110-115, आपूर्ति 85 एमजीडी
निगम के संबंधित अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि शहर में करीब 250 से ज्यादा ट्यूबवेल हैं। इनमें से करीब 50 ट्यूबवेल खराब पड़े हैं। कई ट्यूबवेल की पानी खींचने की क्षमता भी कम हो गई है क्योकि भूजल स्तर कम हो रहा है। शहर में इस समय 110-115 एमजीडी की मांग है, लेकिन आपूर्ति केवल 85 एमजीडी की हो रही है।
अवैध मोटरों ने भी बढ़ाई दिक्कत
निगम ने कुछ माह पूर्व गांवों व कालोनियों में लोगों द्वारा अवैध रूप से लगाई गई मोटरों को हटाने का अभियान शुरू किया था पर वह बीच में ही बंद कर दिया। निगम के संबंधित अधिकारी का कहना था कि अधिकतर गांवों में तो मेन पाइप लाइनों पर लगाई गयी मोटरों के कारण भी समस्या आ रही है।
महापौर खुद कर रहे मानिटरिंग
महापौर राजेश कालिया का कहना था कि पानी की कमी कि वह स्वयं मानिटरिंग कर रहे हैं। पिछले दिनों भी वह एक गांव में स्वयं टैंकर लेकर गए थे। उनका कहना था कि शहर में पानी की कमी नहीं होने दी जायेगी।


Comments Off on शहर में गंभीर जल संकट
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.