केंद्र तमिलनाडु में हिंदी नहीं थोप रहा : सीतारमण !    तेज रफ्तार का कहर, 9 विद्यार्थियों की मौत !    बिहार-असम में बाढ़ का कहर, अब तक 144 की मौत !    बच्चों को सिखाएं पार्टी मैनर्स !    नर को नारायण से जोड़ते नारद !    लॉर्ड्स पर जीते क्रिकेट के गॉड !    शिवतुल्य जो बोलता है, वही जप है !    हरियाली अमावस पर पंच महायोग !    पेंसिल-कॉपी का आनंद !    स्वादिष्ट भी पौष्टिक भी !    

महिला टीम ने फाइनल में जापान को 3-1 से पीटा

Posted On June - 24 - 2019

हिरोशिमा, 23 जून (भाषा)

हिरोशिमा में रविवार को भारतीय महिला हाकी टीम की खिलाड़ी जापान के विरुद्ध जीत का जश्न मनाते हुए। -एजेंसी

कप्तान रानी रामपाल के गोल के बाद ड्रैग फ्लिकर गुरजीत कौर के 2 गोल की बदौलत भारत ने रविवार को यहां फाइनल में मेजबान जापान को 3-1 से हराकर महिला एफआईएच सीरीज फाइनल्स हाकी टूर्नामेंट अपने नाम किया। भारतीय महिला टीम ने हिरोशिमा हाकी स्टेडियम में एशियाई चैम्पियन पर शानदार जीत हासिल की। कप्तान रानी ने तीसरे ही मिनट में ही भारत को बढ़त दिला दी लेकिन कानोन मोरी ने जापान के लिये 11वें मिनट में गोल कर बराबरी दिला दी। इसके बाद गुरजीत ने 45वें और 60वें मिनट में गोल कर टीम की जीत सुनिश्वित की। दुनिया की नौंवे नंबर की भारतीय टीम इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचकर पहले ही 2020 ओलंपिक क्वालीफायर के अंतिम दौर के लिये क्वालीफाई कर चुकी थी। रानी टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनी गयी जबकि गुरजीत शीर्ष स्कोरर रहीं। भारतीय कप्तान ने जापानी गोलकीपर अकियो टनाका को दायीं ओर से पछाड़कर गोल दागकर टीम को आगे कर दिया। भारत ने दबदबा बरकरार रखते हुए नौंवे मिनट मे दूसरा पेनल्टी कार्नर हासिल किया लेकिन फाउल कर बैठी। जापान की टीम मौके नहीं बना पा रही थी और उसने पहले 15 मिनट में केवल दो बार ही भारतीय सर्कल में प्रवेश किया। पर दूसरी बार जब टीम सर्कल के अंदर पहुंची तो जापानी फारवर्ड पंक्ति ने मिलकर गोल में पहले शाट पर ही बराबरी गोल दाग दिया। कानोन मोरी के डिफ्लेक्शन शाट का भारतीय गोलकीपर सविता बचाव नहीं कर सकी। दूसरे क्वार्टर में वंदना कटारिया ने 18वें मिनट में गोल करने का शानदार मौका गंवा दिया जिनका शाट गोल से बाहर चला गया। जापान ने लय में आना शुरू कर दिया और उसने कई मौके भी बनाये। पर भारतीय रक्षापंक्ति ने सुनिश्चित किया कि विपक्षी टीम का कोई प्रयास सफल नहीं हो। दोनों टीमें बढ़त बनाने की होड़ में लगी रहीं, इसी दौरान जापान ने दो बार सर्कल में प्रवेश किया और दो शाट लगाये जबकि भारत ने आठ बार सर्कल में सेंध लगायी और पांच शाट लगाये। भारत को तीसरे क्वार्टर में एक और पेनल्टी कार्नर मिला। ड्रैग फ्लिकर गुरजीत फिर तारणहार निकली, उन्होंने जापानी गोल के बायीं ओर से शाट लगाया और टीम को 2-1 से बढ़त दिला दी। चौथे क्वार्टर में भी गोल करने के लिये मशक्कत जारी रही और अंतिम मिनट में गुरजीत ने पेनल्टी कार्नर पर मैच में दूसरा गोल दागकर स्कोर 3-1 कर दिया और भारतीय टीम को जीत दिलायी।

प्रधानमंत्री ने दी बधाई
नयी दिल्ली (भाषा) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को भारतीय महिला हाकी टीम को एफआईएच सीरीज फाइनल्स टूर्नामेंट जीतने पर बधाई दी और कहा कि यह जीत युवा खिलाड़ियों को इस खेल में अच्छा खेलने के लिये प्रेरित करेगी। मोदी ने ट्वीट किया, ‘असाधारण खेल, शानदार नतीजा। हमारी टीम को महिला एफआईएच सीरीज फाइनल्स हाकी टूर्नामेंट जीतने के लिये बधाई।’


Comments Off on महिला टीम ने फाइनल में जापान को 3-1 से पीटा
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.