गौमांस तस्करी के शक में 2 लोगों को पीटा !    चौपाल निर्माण में घटिया सामग्री लगाने का आरोप !    नकदी नहीं मिली तो बंदूक ले गये चोर !    पीजीआई में कोरोनरी एंजियोप्लास्टी का लाइव ट्रांसमिशन !    गंगा स्नान कर लौट रहे युवक की चाकू मारकर हत्या !    यमुना प्रदूषण के मामले में 5 विभागों को नोटिस !    लिव-इन से जुड़वां बच्चों को जन्म देकर मां चल बसी !    हर्बल नेचर पार्क में लगी आग, 5 एकड़ क्षेत्र जला !    ड्रेन की आधी अधूरी सफाई से किसानों में रोष !    राहगीरों की राह में रोड़ा 3 एकड़ जमीन का टुकड़ा !    

तेज आंधी में उखड़े पेड़, बिजली-पानी आपूर्ति ठप

Posted On June - 13 - 2019

लुधियाना की फिरोज गांधी मार्केट में बुधवार को आंधी के कारण पेड़ गिरने से कई वाहन दब गये वहीं एक ट्रांसफार्मर पास खड़ी कारों पर गिर जाने से कारें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं। -हिमांशु महाजन

चंडीगढ़/शिमला, 12 जून (ट्रिन्यू/निस)
पंजाब तथा हिमाचल में आज देर सायं तेज हवाएं चलने और कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी तथा बारिश के चलते लोगों को गर्मी से राहत तो मिली लेकिन तेज हवाओं के कारण सड़कों पर बड़ी संख्या में पेड़ गिरने से जहां यातायात में बाधा आई वहीं कई जगह वाहनों पर पेड़ गिर जाने से कई वाहन भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गये। लुधियाना में देर सायं पेड़ गिरने से कई वाहन बुरी तरह पिचक गये वहीं बठिंडा के रामपुराफूल में भी पेड़ गिरने से कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। उधर, हिमाचल प्रदेश में आज लगातार दूसरे दिन कई स्थानों पर झमाझम वर्षा हुई जिससे लोगों को चिलचिलाती गर्मी से राहत मिली है। जनजातीय जिला लाहौल स्पिति में दूसरे दिन भी बर्फबारी का दौर जारी रहा जिससे घाटी में लोगों को कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ रहा है। बर्फबारी के कारण बारालाचा में मनाली-लेह मार्ग पर यातायात अवरुद्ध हो गया है।
राजधानी शिमला में आज दूसरे दिन भी तेज हवाओं के साथ वर्षा हुई और ओले भी पड़े। जिले के ऊपरी हिस्सों में भी व्यापक वर्षा हुई है जिससे किसानों और बागवानों ने राहत की सांस ली है। सोलन, सिरमौर, चंबा, कुल्लू, बिलासपुर और मंडी जिलों में भी कई स्थानों पर तेज हवाओं के साथ व्यापक वर्षा हुई। ताजा वर्षा मक्की की बिजाई के लिए बेहतर मानी जा रही है। मौसम विभाग के मुताबिक बीते 24 घंटों के दौरान बिजाही में 24, केलांग में 21, गोहर में 16, भूंतर में 14, जंजैहली में 12 और शिमला में 9 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई। इसके अलावा मंडी, चंबा, सुंदरनगर, जोगेंद्रनगर, झंडूता, सराहन, धर्मशाला और अन्य स्थानों पर भी व्यापक वर्षा हुई।
लाहौल स्पिति में हो रही बर्फबारी और वर्षा से तापमान में जोरदार गिरावट दर्ज की गई है। केलांग में आज न्यूनतम तापमान 5.2 डिग्री तक गिर गया। रोहतांग दर्रे पर भी आज दूसरे दिन बर्फबारी हुई जिसका पर्यटकों ने खूब आनंद लिया। बर्फबारी के कारण जहां बारालाचा दर्रे पर यातायात अवरुद्ध हो गया है वहीं ग्राम्फू-काजा मार्ग से बर्फ हटाने का काम भी प्रभावित हुआ है। ताजा बर्फबारी से इस मार्ग को बहाल करने में अब और देर होगी। उधर चंबा जिला के भरमौर के बतोट गांव में आसमानी बिजली गिरने से रौशन बीबी नामक एक युवती झुलस गई। इस युवती को उपचार के लिए चंबा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में भी प्रदेश में वर्षा और बर्फबारी का सिलसिला जारी रहने की संभावना जताई है।

बठिंडा जिले के रामपुराफूल में बुधवार को तूफान के चलते थाने के बाहर खड़ा एक बड़ा पेड़ गिर गया जिससे वहां खड़े कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। -निस

लुधियाना (निस) : आज शाम तेज आंधी और बारिश से यहां सैकड़ों पेड़ उखड़ गये और घरों की छतों पर रखे सामान और छज्जों को नुकसान पहुंचा। दुकानों और अन्य व्यापारिक संस्थानों के छज्जे और बोर्ड उड़ गए। बारिश के कारण तापमान गिरने से लोगों को गर्मी से राहत तो जरूर मिली लेकिन आंधी के चलते समाचार लिखे जाने तक शहर के सभी क्षेत्रों में बिजली बंद थी और शहर पूरी तरह अंधेरे में डूबा हुआ था। राज्य बिजली निगम के अधिकारियों का कहना है कि पेड़ गिरने से बिजली की तारें टूट गई और कई जगह खंभे गिर गए हैं। इन्हें ठीक कर बिजली सप्लाई बहाल करने के लिए युद्ध स्तर पर व्यवस्था हो रही है। शहर के अंदर कई मुख्य सड़कों पर वृक्षो के गिरने से यातायात बुरी तरह से प्रभावित हो गया है। बिजली न होने के कारण लुधियाना नगर निगम के ट्यूबवेल भी शाम को नहीं चले, परिणामस्वरूप शाम को घरों को पीने के पानी की आपूर्ति भी नहीं हो सकी।
स्कूलों में 15 और 22 को छुट्टी
शिमला (निस) : शिमला शहर में मुख्य रूप से सड़क के किनारे स्थित विभिन्न विद्यालयों से संबंधित यातायात प्रबंधन के विषय में आज शिमला में उपायुक्त अमित कश्यप की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। उपायुक्त ने कहा कि सड़क किनारे स्थित विद्यालयों के समीप यातायात व्यवस्था का जायजा लेने के लिए उन्होंने स्वयं आज प्रातः क्षेत्र का सघन दौरा किया। अमित कश्यप ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि पर्यटन सीजन में शिमला शहर में वाहनों की संख्या में काफी बढ़ोतरी होने से यातायात व्यवस्था पर प्रभाव पड़ता है। उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित विभिन्न विद्यालय प्रबंधन प्रतिनिधियों से विचार-विमर्श के उपरांत यह निर्णय लिया कि 15 तथा 22 जून को शनिवार के दिन शिमला शहर के विभिन्न विद्यालयों में अवकाश रहेगा। यह निर्णय सप्ताहांत में पर्यटकों की बढ़ती संख्या के दृष्टिगत लिया गया है। उन्होंने कहा कि पर्यटन सीजन में कुछ विद्यालयों के प्रात:काल के समय में भी परिवर्तन किया गया है। इस दौरान ताराहॉल विद्यालय प्रातः 8 बजे तथा ऑकलैंड हाउस विद्यालय के दोनों खंड प्रातः 8.30 बजे आरंभ होंगे। उन्होंने इस संबंध में पथ परिवहन निगम को आवश्यक प्रबंध सुनिश्चित बनाने के निर्देश भी दिए। अमित कश्यप ने पुलिस प्रशासन एवं जिला खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति नियंत्रक को निर्देश दिए कि विभिन्न मालवाहक वाहनों को शिमला शहर में केवल निर्धारित समय में ही प्रवेश करने दिया जाए।


Comments Off on तेज आंधी में उखड़े पेड़, बिजली-पानी आपूर्ति ठप
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.