बिहार में लू से अब तक 61 की मौत !    पंकज सांगवान की पार्थिव देह आज पहुंचने की उम्मीद !    टीचर का स्नेह भरा स्पर्श !    बाथरूम इस्तेमाल के तरीके !    मेरे पापा जी !    सुपरफूड सोया !    कार्यस्थल पर सुरक्षित माहौल !    काम का रैप ... !    पापा का प्यार !    कोने-कोने में टेक्नोलॉजी !    

तंदुरुस्ती का फंडा जल्दी उठना

Posted On June - 1 - 2019

खुशी जोशी

दीप्ति

एक चॉकलेट के विज्ञापन में खुशी जोशी का इमोशन दिखाने वाला भोला चेहरा निर्माता व निर्देशक विकास गुप्ता को इतना पसंद आया कि उन्हें ऑल्ट वेबसीरीज ‘पंच बीट’ में पद्मिनी का किरदार दे दिया। खुशी से उनकी फिटनेस के राज़ जानते हैं…

जल्दी उठना
फिट रहने के लिए हेल्दी खान-पान से लेकर अनुशासित वर्कआउट पर फोकस करती हूं। इसमें किसी भी तरह की कोताही नहीं बरतती। हां, कभी-कभार अपने हेल्थ रूटीन को फॉलो करने में आलसी हो जाती हूं। मेरे लिए हेल्दी लाइफ स्टाइल का पहला फंडा है सुबह जल्दी उठना। इसका फायदा है कि आपके अंदर ऑक्सीजन छनी हुई और ज्यादा मात्रा में जाती है। सूर्योदय के बाद वायुमंडल में इसकी मात्रा कम होने लगती है। मानती हूं कि सुबह उठना मुश्किल लगता है, पर जब एक सप्ताह तक जल्दी उठेंगे तो यह आदत बन जाएगी। मेरा ट्रेनर मुझे जल्दी सोने की भी सलाह देता है। वैसे मुझे वेटलॉस की जरूरत नहीं है, पर ट्रेनर कहता है कि शरीर को जितना आराम देंगे, उसके लिए कैलोरी बर्न करना उतना ही आसान होगा। साथ ही दूसरे दिन जल्दी उठने के लिए भी तो जल्दी सोना जरूरी है। मैं ट्रेनर का यह फिटनेस फंडा अपनाने की पूरी कोशिश करती हूं।

वर्कआउट
कोशिश करती हूं कि रोज़ाना वर्कआउट करूं। सप्ताह में दो दिन कार्डियो, एक दिन पॉवर योग, 4 दिन स्ट्रेंथ ट्रेनिंग, वेट ट्रेनिंग, जुम्बा डांस और मार्शल आर्ट्स करती हूं। कोशिश करती हूं कि एक दिन में एक बॉडी पार्ट का वर्कआउट करूं। वॉटर वर्कआउट भी करती हूं। सप्ताह में एक बार 40 मिनट के लिए स्विमिंग करती हूं। रोजाना 30 मिनट कि जॉगिंग करती हूं। दिनभर की भागदौड़ के लिए बॉडी के हर पार्ट को चालू करने के लिए ज़रूरी है कि आप ईमानदारी से वर्कआउट करें। केवल वेटलॉस के लिए ही नहीं, स्वस्थ शरीर और शांत मन के लिए भी व्यायाम जरूरी है।

हेल्दी डाइट ज़रूरी
ब्रेकफास्ट कभी भी छोड़ती नहीं हूं। ब्रेकफास्ट में कार्ब्स, प्रोटीन और फैट्स लेती हूं। अंडे से लेकर फलों तक और अनाज से लेकर स्मूदीज तक लेती हूं। असल में दिन का पहला मील शरीर के लिए पेट्रोल का काम करता है। डाइट में हेल्दी पेट्रोल बहुत जरूरी है। लेकिन तली-भुनी या पैकेज्ड चीज़ें नहीं खाएं, वर्ना आप सुस्त महसूस करेंगे।

शूटिंग के बीच ब्रेक
शूटिंग के बीच-बीच में छोटे ब्रेक लेती रहती हूं। कोई भी एक जगह चिपका रहेगा तो मोटा ज़रूर हो जाएगा। मोटापे के बाद पसरती हैं बीमारियां। इससे बचने के लिए हर घंटे पांच से दस मिनट के लिए ब्रेक लेती हूं। ब्रेक में टहलती हूं।

टाइम पर लंच
मानती हूं कि हमारा पेट कूड़ेदान नहीं है। इसलिए इसमें ठूंस-ठूंस कर खाना नहीं भरें। शूटिंग में घर से टिफिन लेकर आती हूं। बाहर के खाने से परहेज़ करती हूं। सूप और सब्जि़यों को तरजीह देती हूं। भूलकर भी लंच स्किप नहीं करती, क्योंकि बाद में जब भूख लगेगी तो मेरा दिमाग काम करना बंद कर देता है। टाइम पर लंच करने से शरीर का मेटाबॉलिस्म दुरुस्त रहता है। मेरा कोई चीज़ खाने का बड़ा मन करता है तो उसे ज़रूर खाती हूं। न खाने से बेहतर है थोड़ा खाना। ऐसा इसलिए क्योंकि अगर आप अपनी क्रेविंग को नजरअंदाज़ करेंगे तो हो सकता है आप अपना कंट्रोल खो दें और उस पर टूट पड़ें। इससे तो अच्छा है न कि आप थोड़ी-सी चीटिंग करें और जो खाने के मन करे, उसकी एक-दो बाइट लेकर अपनी क्रेविंग शांत कर लें।


Comments Off on तंदुरुस्ती का फंडा जल्दी उठना
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.