पीजीआई में अलग से वार्ड, डाक्टरों के लिए एंटी डॉट तक नहीं !    फर्जी निकला लूट मामला, फाइनेंसर ले गये थे गाड़ी !    टूटी सड़कों के लोगों ने खुद ही भरे गड्ढे !    जिनपिंग बोले कोरोना सबसे बड़ा आपातकाल !    अयोध्या में मस्जिद के लिए जमीन पर फैसला आज !    बठिंडा के सनी हिंदुस्तानी बने इंडियन आइडल !    डीएसजीएमएस के स्कूलों में रोबोट भी पढ़ायेंगे !    मिग-29 के विमान क्रैश, पायलट सुरक्षित !    अपने दम पर चीन से जीत लाए मेडल !    अर्थव्यवस्था की राह रोक रहा कोरोना : आईएमएफ !    

तेजस के लिए करना पड़ेगा और इंतजार

Posted On May - 15 - 2019

नगर संवाददाता
चंडीगढ़/पंचकूला, 14 मई
भारत सरकार के मेक इंडिया प्रोजेक्ट के अंतर्गत देश में भारतीय रेलवे में आए तकनीकी बदलाव से न सिर्फ रेल यात्रियों में बल्कि रेलवे से जुड़े हर मध्यम एवं लघु उद्योगों में एक नया विश्वास पैदा हुआ है। मंगलवार को चंडीगढ़ मे उत्तर रेलवे के जीएम टीपी सिंह ने यह जानकारी सीआईआई उत्तरी क्षेत्र मुख्यालय में वेंडर डेवलपमेंट मीट के उद‌्घाटन समारोह के आयोजन पर दी। भारतीय उद्योग परिसंघ और उत्तर रेलवे द्वारारेल कोच फैक्ट्री कपूरथला और डीजल आधुनिकीकरण वर्कशॉप पटियाला के सहयोग से कार्यक्रम आयोजित किया गया। समारोह से पूर्व टीपी सिंह ने चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन का औचक निरीक्षण किया। चंडीगढ़ से दिल्ली के बीच रेल यात्रियों को तेजस की शक्ल में हाई स्पीड देने का इंतजार और लंबा होता जा रहा है। जीएम सिंह ने बताया कि बुलेट ट्रेन इस समय सिर्फ मुम्बई से अहमदाबाद में चल रही है। वंदे भारत ट्रेन नार्थ इंडिया में दिल्ली से वाराणसी के बीच चल रही है। इसका एक रेक जल्द आ रहा है। जहां तक चंडीगढ़ में तेजस का सवाल है फिलहाल शैड‌्यूल नहीं दे सकते हैं। गौरतलब यह है कि तेजस ट्रेन का शहरवासी पिछले डेढ साल से इंतजार कर रहे हैं। वेंडर डेवलपमेंट मीट में सिंह ने कहा कि भारतीय रेलवे आज यात्रियों को विश्वस्तरीय सुविधाएं प्रदान करने में रेलवे उद्योग पर निर्भर है। टीपी सिंह ने कहा कि डिजिटलीकरण भारतीय रेलवे की खरीद प्रणाली का नया चेहरा है। उन्होंने कहा कि जीएसटी से रेलवे वेंडरों को काफी मदद मिली है। वेंडर में नया विश्वास पैदा किया है।
विस्टाडोम 10 नए कोच
कालका-शिमला रूट पर विस्टाडोम कोच को पॉपुलर बनाने के लिए रेलवे ने हाल ही में हॉप ऑन-हॉप ऑफ सर्विस भी शुरू की है। यानी इस रूट पर मिलने वाले किसी भी स्टेशन पर पैसेंजर्स उतरकर कुछ वक्त बिता सकते हैं। रेलवे की तरफ से इसकी लोकप्रियता को देखते हुए दस नए रेक बनवा रहा है।
रेलवे स्टेशन पर किया औचक निरीक्षण
चंडीगढ़/पंचकूला (नस) : चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर फैली गंदगी और स्टेशन के परिसरों में सफाई व्यवस्था में लापरवाही की जांच के लिए आज उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक (जीएम) टीपी सिंह ने स्टेशन का औचक निरीक्षण किया। टीपी सिंह वेंडर डेवेलपमेेंट मीट के लिए आज चंडीगढ़ आए थे। मीट से पहले टीम के साथ स्टेशन पर गए। उनके साथ डीआरएम डीसी शर्मा, पीईडी/आरएस (सी) रेलवे बोर्ड, एके पांडे व अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। सीनियर डिविनल ओपरेशन मैनेजर (डीओएम) के मुताबिक जीएम ने निरीक्षण के दौरान स्टेशन पर सफाई व्यवस्था को जल्द दुरुस्त करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने स्टेशन पर टायलेट, वॉशरूम का जायजा लिया। उन्होंने सफाई कर्मचारियों व अधिकारियों को स्टेशन पर नीले व हरे डिब्बों का इस्तेमाल गीले व सूखे कचरे को अलग अलग कर करने के लिए कहा। उन्होंने स्टेशन पर डस्टबीन रखने पर खास ध्यान देने के आदेश दिए।


Comments Off on तेजस के लिए करना पड़ेगा और इंतजार
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.