जमींदोज किये 7 बंगले !    राज्य महिला आयोग में पेश नहीं हुए दिग्विजय चौटाला, मांगी 15 दिन की मोहलत !    ओवर-थ्रो पर 6 रन देना था गलत, आईसीसी चुप !    सुनवाई पूरी करने के लिये विशेष जज ने कोर्ट से मांगे 6 महीने !    कलराज मिश्र हिमाचल, आचार्य देवव्रत होंगे गुजरात के राज्यपाल !    विश्वविद्यालय कर्मचारी ने लगाया फंदा !    बिहार और असम में बाढ़ की मार !    राजीव सक्सेना की जमानत रद्द कराना चाहता है ईडी !    डेमोक्रेट ‘महिला' सांसदों पर ट्रंप की टिप्पणी की निंदा !    आस्ट्रेलिया में लापता भारतीय छात्र का शव मिला !    

कांग्रेस हुई अाक्रामक, ईवीएम की सुरक्षा सेना के हवाले करने की मांग

Posted On March - 14 - 2019

शिमला, 13 मार्च (निस)
शिमला जिले के चौपाल के एसडीएम को चुनाव आयोग द्वारा बिना इजाजत स्ट्रांग रूम खोलने के मामले में ट्रांसफर करने के बाद विपक्षी दल कांग्रेस ने अाक्रामक रुख अपना लिया है। पार्टी महासचिव रजनीश किमटा ने आज शिमला में एक पत्रकार वार्ता में कहा कि प्रदेश में सभी स्ट्रांग रूम की सुरक्षा सेना के हवाले की जाए और चौपाल मामले में बदले गए एसडीएम को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की जाए। गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने केंद्रीय चुनाव आयोग के कड़े रुख और सिफारिश के बाद बीती देर रात चौपाल के एसडीएम को पद से हटा दिया था और उन्हें विशेष सचिव शिक्षा लगाया गया है। हटाए गए अधिकारी मुकेश रेपस्वाल भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। रजनीश किमटा ने कहा कि मामले से जुड़े एसडीएम को बदलकर दूसरे स्थान पर लगाना कोई सजा नहीं है। उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारी के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज होना चाहिए और उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की जानी चाहिए।
क्यों दबा रहा मामला
किमटा ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर मामला है और इसकी गहनता से जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि निर्वाचन आयोग ने यह कार्रवाई पांच माह बाद तब की, जब लोकसभा चुनाव को लेकर आदर्श चुनाव आचार संहिता लगी। उन्होंने जानना चाहा कि आज तक मामला क्यों दबा रहा? इसके पीछे कौन-कौन थे, जिनके कारण समय पर कार्रवाई नहीं हुई। किमटा ने कहा कि उन्हें अंदेशा है कि सरकार के इशारे पर यह सब किया गया है। उन्होंने कहा कि ऐसे में निर्वाचन आयोग को आपराधिक मामला दर्ज कर अधिकारी को हिरासत में लेना चाहिए ताकि खुलासा हो सके कि पूरे मामले के पीछे कौन-कौन हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी ने निर्वाचन आयोग में आज शिकायत दी है और इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के भाजपा की कोर कमेटी की बैठक में हिस्सा लेने पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष पार्टी से ऊपर होते हैं और उन्हें इस पद की गरिमा को बनाए रखना चाहिए।


Comments Off on कांग्रेस हुई अाक्रामक, ईवीएम की सुरक्षा सेना के हवाले करने की मांग
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.