दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन !    5 मिनट में फिट !    बीमारियां भी लाता है मानसून !    तापसी की 'सस्ती पब्लिसिटी' !    सिल्वर स्क्रीन !    फ्लैशबैक !    सर्वश्रेष्ठ देने के लिए तैयार !    खबर है !    हेलो हाॅलीवुड !    हरप्रीत सिद्धू फिर एसटीएफ प्रमुख नियुक्त !    

कांग्रेस, आप, जजपा साथ लड़ें तो हरा सकते हैं भाजपा को : केजरीवाल

Posted On March - 14 - 2019

चंडीगढ़, 13 मार्च (ट्रिन्यू)
यूटर्न की राजनीति के लिए मशहूर आम आदमी पार्टी के संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को एक ट्वीट करके हरियाणा की राजनीति को गरमा दिया है। केजरीवाल ने हरियाणा में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस व जजपा को अपने साथ आने का आह्वान किया है। केजरीवाल के इस ट्वीट के बाद सभी दलों ने अपने-अपने ढंग से प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी।
हरियाणा में आप और व जजपा के बीच गठबंधन को लेकर अटकलों का दौर चल रहा है। जजपा हरियाणा में आप को 2 सीटें देना चाहती है, जबकि आप 5-5 सीटों पर समझौता चाहती है। दोनों दलों में सीटों पर सहमति नहीं बनने से गठबंधन की बातचीत लगभग खत्म हो चुकी है।
कई दिनों की चुप्पी के बाद केजरीवाल आज केजरीवाल का यह ट्वीट आया है। हालांकि, उनके टवीट् को शिगूफे की राजनीति का हिस्सा माना जा रहा है, लेकिन उनके टवीट् ने कांग्रेस और जजपा को भी मैदान में आने को मजबूर कर दिया है।
केजरीवाल ने बुधवार दोपहर टवीट् किया, ‘देश के लोग अमित शाह और मोदी जी की जोड़ी को हराना चाहते हैं। मैं राहुल गांधी को एक प्रस्ताव देना चाहता हूं। हरियाणा में अगर आप, जजपा और कांग्रेस साथ आकर चुनाव लड़ते हैं तो हरियाणा की सभी सीटों पर भाजपा को हराया जा सकता है। राहुल गांधी जी इस पर विचार करें।’
अरविंद केजरीवाल के इस टवीट् के साथ ही हरियाणा में चर्चाओं और अफवाहों का दौर शुरू हो गया। केजरीवाल ने यह टवीट् एक रणनीति के तहत किया है। जिसके माध्यम से वह कांग्रेस और जजपा को साधने का काम कर गए। इस टवीट् के बाद अगर तीनों दल एक मंच पर आते हैं तो वह महागठबंधन का रूप ले सकता है और अगर नहीं आते हैं तो केजरीवाल को हरियाणा में होने वाली जनसभाओं के दौरान कांग्रेस व जजपा को इस मुद्दे पर घेरने और पर्दे के पीछे के कथित गठबंधन पर बोलने का मौका मिलेगा।
कांग्रेस से गठबंधन की न सोची है न सोचेंगे : जजपा
जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव केसी बांगड़ ने कहा कि जजपा हरियाणा में मजबूत पार्टी है और सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने में सक्षम है। उन्होंने कहा कि जजपा ने न तो कांग्रेस के साथ गठबंधन की संभावना पर विचार किया और न ही आगे करेगी। जजपा ऐसे गठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगी, जिसमें कांग्रेस शामिल हो। हम समान विचारधारा वाले किसी दल से गठबंधन पर विचार कर सकते हैं और कांग्रेस के साथ हमारी विचारधारा नहीं मिलती।
आप के साथ नहीं जाएंगे : कांग्रेस
कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता तरुण भंडारी ने कहा, ‘कांग्रेस किसी भी सूरत में आम आदमी पार्टी के साथ नहीं जाएगी। दिल्ली में आप द्वारा गठबंधन का प्रस्ताव रखा गया था, जिसे कांग्रेस हाईकमान ने खारिज कर दिया। आप का इस समय कोई राजनीतिक वजूद नहीं है। केजरीवाल का बयान आधारहीन और गैरजिम्मेदार राजनीति का नमूना है। कांग्रेस अपने स्तर पर चुनाव लड़ने में सक्षम है। पार्टी सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी कर रही है।’
एक मंच पर लाने की पहल : जयहिंद
आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने कहा, ‘भारतीय जनता पार्टी देश को धर्म व जाति के नाम पर तोड़ने का काम कर रही है। आज देश में भाजपा को हराने वाले सियासी दल बहुत हैं, लेकिन वह सभी बिखरे हुए हैं। ये सभी राजनीतिक दल एकजुट होकर मैदान में उतरें तो मोदी व शाह की जोड़ी को हराना बड़ा काम नहीं है। केजरीवाल ने सभी को एक मंच पर लाने की पहल की है और इसकी शुरुआत हरियाणा से की जा रही है।’


Comments Off on कांग्रेस, आप, जजपा साथ लड़ें तो हरा सकते हैं भाजपा को : केजरीवाल
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.