चीन, इंडोनेशिया, नेपाल, वियतनाम से आने वाले पॉलिएस्टर धागे की डंपिंग की जांच शुरू !    नीरज चोपड़ा, हिमा दास ने पटियाला साई सेंटर में शुरु की आउटडोर ट्रेनिंग !    भारत-चीन सीमा विवाद में मध्यस्थता को तैयार : ट्रंप !    लॉकडाउन के दौरान जहां हैं , अब वहीं दे सकते हैं 10वीं, 12वीं के बचे पेपर! !    राजनीतिक गतिविधियां : उद्धव ठाकरे ने महाविकास अघाड़ी के प्रमुख नेताओं से की बैठक !    असम में गैस कुंए में विस्फोट, इलाका करवाया खाली !    100 करोड़ की धोखाधड़ी : सीबीआई ने चावल मिल के 3 निदेशकों पर किया केस दर्ज !    वित्तीय अनियमितताएं : जेपी ग्रुप की प्रमुख कंपनियों की जांच के आदेश !    पाक की फायरिंग के डर के बीच बीएसएफ ने पूरा किया रणबीर नहर से गाद निकालने का काम !    अपने मालिक को कश्मीर से राजौरी तक लाने वाला घोड़ा भी होम क्वारंटाइन! !    

स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने की जरुरत

Posted On June - 10 - 2017

     नयी दिल्ली :भारतीय खाद्य एवं कृषि परिषद (आईसीएफए) ने देश के विभिन्न राज्यों में कृषि संबंधी मांगों को लेकर हो रहे आन्दोलनों के मद्देनजर सरकार से स्वामीनाथन आयोग की अनुशंसाओं को लागू करने का अनुरोध किया है ताकि किसानों को उनकी फसलों का उचित मूल्य मिल सके ।
आईसीएफए के अध्यक्ष एम जे खान , कार्यपालक निदेशक एन एस रणधावा और निदेशक ममता जैन ने किसानों की समस्याओं को लेकर आज यहां ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र तोमर से मुलाकात की और सम्स्याओं के समाधान के उपाय बताये जिससे वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का उद्देश्य प्राप्त किया जा सके । उन्होंने कहा कि किसानों को कृषि लागत के अलावा पचास प्रतिशत उपज मूल्य दिया जाना चाहिये ।
उन्होंने कहा कि बाजार मूल्य में स्थिरता लाने तथा प्रभावशाली खरीद प्रक्रिया को सुनिश्चित करने के लिए ब्लाक स्तर पर अनाज और दलहन भंडारगृह बनाया जाना चाहिये । इसके साथ ही बाजार हस्तक्षेप की योजना के तहत किसानों के खेत में पैदावार के सटीक आंकडे प्राप्त करने के लिए खेतों का‘ जीओ टैगिंग‘ किया जाना चाहिये । वार्ता


Comments Off on स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने की जरुरत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 1.00 out of 5)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.