सिल्वर स्क्रीन !    हेलो हाॅलीवुड !    साहित्यिक सिनेमा से मोहभंग !    एक्यूट इंसेफेलाइिटस सिंड्रोम से बच्चों को बचाएं !    चैनल चर्चा !    बेदम न कर दे दमा !    दिल को दुरुस्त रखेंगे ये योग !    कंट्रोवर्सी !    दुबला पतला रहना पसंद !    हिंदी फीचर फिल्म : फर्ज़ !    

गुरु का प्रताप

Posted On May - 4 - 2017

10405cd _4 may 3गुरु का प्रताप

हरियाणा के सीमएम मनोहर लाल खट्टर को कोई बड़े गुरु मिले गये हैं। इन गुरुजी का ही प्रताप है, जिसके चलते उन्होंने एक नई अदा सीख ली है। ‘मनो काका’ को मिले इस ‘गुरु ज्ञान’ से उनको मिलने वाले पाटी नेता, मंत्री और विधायक तक दुखी हैं। गुरुज्ञान के मुताबिक काका सबकी सुनते जरूर हैं, लेकिन करते वहीं है जो उनकी खुद की प्राथमिकता है। हालात से दुखी एक मंत्री ने गुरु ज्ञान का चित्रण करते हुए कहा कि सीएम को समझा दिया गया है कि आने वालों का अपना एजेंडा है और सीएम का अपना। ऐसे में कोई कुछ एजेंडा लाता रहे, काका अपना एजेंडा क्यों बदलें? इसी कड़ी में काका ने एक नया जुमला भी सीखा है। वह यह कि – ये विषय मेरे संज्ञान में है। जब बॉस यह कह दे तो सामने वाले के लिए कहने को कुछ बचता ही नहीं और वह मन-मसोस कर वहां से निकल लेता है। यह अलग बात है कि विषय उनके संज्ञान में होने के बावजूद कार्रवाई कुछ नहीं होती। रहते हैं तो ठाक के वही तीन पात।
पंडितजी कोप भवन में
अपने महेंद्रगढ़ वाले पंडिजी को इस बार जोर का झटका पूरे जोर से दिया गया है। झटके का ही परिणाम है कि खुद को ‘फील्ड मार्शल’ कहने वाले पंडितजी इन दिनों कोप भवन में हैं। हो भी क्यों ना। पिछले साल जिस व्यक्ति की हरियाणा लोकसेवा आयोग में पलक झपकते ही सदस्य के रूप में शपथ उन्होंने रुकवाई थी, राव नरवीर सिंह के ‘आशीर्वाद’ से वह अब मुख्य सचिव रैंक के पद पर सुशोभित हो गये हैं। राज्य सूचना आयुक्त के पद पर राव साहब के खासमखास की हुई ताजपोशी के बाद अब पंडितजी को जानने वाले भी मान गए हैं कि उनके परशुराम वाले फरसे को ‘हालात का जंग’ लग चुका है।

वीडियो क्लिप वाले साहब
हरियाणा के एक आईएएस अधिकारी की हरकत इन दिनों पूरे सचिवालय व ब्यूरोक्रेसी में चर्चाओं का विषय है। दरअसल, विभाग के अधिकारियों का व्हट्सएप पर एक ग्रुप बनाया हुआ है। इन साहब ने देर रात एक अश्लील वीडियो ग्रुप में डाल दिया। ग्रुप में महिला अधिकारी भी हैं। साहब को जल्द ही गलती का अहसास हो गया और ग्रुप पर लिखा कि गलती से यह वीडियो डल गया। लेकिन तब तक तीर कमान से निकल कर बहुत दूर जा चुका था। तीन-चार दिनों से अधिकारी चटकारे लेकर इसकी चर्चा कर रहे हैं।

पान खाये मंत्री हमारो
सदैव जोश में रहने वाले ओमप्रकाश धनखड़ हल्के मूड में रहने वाले नेताओं में शुमार हैं। मंत्री बनने के बावजूद न तो फिल्मों का शौक छोड़ते हैं और न ही स्वादिष्ट खान-पान का। मौका लगे तो वे अपने प्रिय पान का स्वाद चखने के लिए खुद पनवाड़ी की दुकान पर बड़ी तबीयत से गिलोरियां चबाने पहुंच जाते हैं। पिछले सप्ताह रोहतक दौरे के दौरान सुभाष चौक पर कार्नर वाले पनवाड़ी के पास पान खाने पहुंचे। धनखड़ की यह अदा राहगीरों को काफी रास आई।

वीआईपी धौंस
केंद्र सरकार लाल बत्ती व वीआईपी संस्कृति खत्म करने की ओर बढ़ रही है, लेकिन हिमाचल की राजधानी शिमला में प्रतिबंधित और वर्जित सड़कों पर बत्तियों के बिना भी बड़े बाबू, विधायक और मंत्री अपना रुतबा दिखाने से खुद को नहीं रोक पा रहे हैं। ऐसा हो रहा है शिमला की उन सड़कों पर जिस पर कुछ लोगों को ही गाड़ी चलाने की अनुमति है। लेकिन यहां ‘नेताजी’और बाबू फर्राटे से गाड़ी दौड़ा रहे हैं। शिमला के माल रोड तक आने वाली शेलेडे-लिफ्ट सड़क पर अक्सर इन वीआईपी लोगों की गाड़ियों का तांता लगा रहता है। शहर में चर्चा है कि चाहे सरकार जो कर ले, वीआईपी धौंस बरकरार है।

केजरीवाल एपिसोड
दिल्ली में सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी में मचे घमासान से पार्टी के दो फाड़ होने की नौबत आ गयी थी। काफी मान-मनौव्वल के बाद कुमार विश्वास मुख्यमंत्री के घर पार्टी के राजनीतिक मामलों की समिति की बैठक में शामिल हुए। बैठक लंबी चली। मीडिया में खुसुर-फुसुर होने लगी। पता यह चला कि असल में उसी समय पीएम केदारनाथ के दर्शन कर रहे थे और सारे चैनलों पर लाइव थे। ऐसे में बैठक खत्म होने के बावजूद आप के रणनीतिकारों को टीआरपी की चिंता थी। उन्हें डर था कि मोदी लाइव के बीच कलह खतम होने की खबर दे दी जाएगी तो टीवी पर मनचाही फुटेज नहीं मिल पाएगी। जब उन्हें लगा कि अब हर चैनल पर आम आदमी पार्टी की खबर चल जाएगी तो कलह खत्म करने का ऐलान किया गया।


Comments Off on गुरु का प्रताप
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.