फिर उठा यमुना नदी पर पुल बनाने का मुद्दा !    कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से बहाल होगी इंटरनेट सेवा !    बर्फबारी ने कई जगह तोड़ी तारबंदी !    सुजानपुर में क्रिकेट सब सेंटर जल्द : अरुण धूमल !    पंजाब में नदी जल के गैर-कृषि इस्तेमाल पर लगेगा शुल्क !    जनजातीय क्षेत्रों में ठंड का प्रकोप जारी !    कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या !    सेना का 'सिंधु सुदर्शन' अभ्यास पूरा !    कलाई काटने वाले विधायक ने माफी मांगी !    तेजाखेड़ा फार्म हाउस अटैच !    

मनो काका के तेवर

Posted On April - 27 - 2017

12704cd _27 april 2चंडीगढ़। जब भी ‘मनो काका’ पर नमो की छाया पड़ती है, उनके तेवर एकाएक गरम दिखने लगते हैं। स्वर्ण जयंती पर गुरुग्राम में नमो का सान्निध्य मिलने के बाद मनो के तेवर प्रदेश की अफसरशाही ने कई दिन महसूस किये। ताजा मामला करनाल में हुई प्रदेश कार्यसमिति की बैठक का है। इसमें ‘मनो काका’ ने जहां फिर ‘हैड मास्टर’ वाले तेवर अपनाने के संकेत दिये। कुछ दिन पहले ही पीएम नरेंद्र मोदी से मिलकर लौटे काका उत्साह से लबरेज दिखे। इसे मनो की थपकी का ही असर माना जा रहा है कि काका ने करनाल में कह दिया कि अब गाड़ी को दूसरे गियर में डाला जाएगा। इससे पहले ओडिशा में हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी से लौटने के बाद भी ‘मनो काका’ तेवर बदल चुके हैं। जहां से लौटते ही नमो ने पहली बार क्रीज से बाहर निकल कर खेलने की कोशिश की। एक ही झटके में सिरदर्द बनते जा रहे उमेश अग्रवाल के परिजनों को थाने का रास्ता दिखा दिया। अग्रवाल भी पीछे हटने वालों में कहां हैं। वे भी रोजाना मनो के सिपाहसलारों पर गुगली फेंक रहे हैं। अब देखना यह है कि फ्रंट फुट पर बैटिंग करके मनो काका, अग्रवाल को मैदान से बाहर करते हैं या फिर…!
ऐसी दीवानगी
हरियाणा के एक सशक्त कांग्रेस खेमे के मन में इतने लड्डू फूट रहे हैं कि कुछ की बूंदी तो समय से पहले ही आधे हरियाणा ने सोशल मीडिया पर ही खा ली। ये उत्साही समर्थक अपने कद्दावर नेता को प्रदेशाध्यक्ष बनवाने के लिए इतने बेचैन हो रहे हैं कि उन्होंने सोशल मीडिया पर मंगलवार को ही बधाइयों की फूलझड़ी-पटाखे एक साथ छोड़ दिये। लेकिन नेताजी का अंदाज कुछ जुदा है। उनका दाया हाथ क्या करता है, बाये को भी पता नहीं होता, इसलिए वे अपनी खुशी को दिल के कोने में समेटे हुए अाधिकारिक घोषणा का इंतजार कर रहे हैं। वैसे पड़ोसी पंजाब का प्रयोग कांग्रेस जल्दी ही हरियाणा में दोहराने की तैयारी में तो दिखती है।
टॉप गियर में बाबा
अपने दाढ़ी वाले बाबा का भी जवाब नहीं है। मीडिया फ्रेंडली बाबा हर छोटी-बड़ी बात पर चुटकी लेते हैं। अपने मनो काका ने सरकार की गाड़ी को दूसरे गियर में डालने की बात क्या कही, दाढ़ी वाले बाबा ने टका-सा जवाब दे दिया। साहब, हम तो चलते ही टॉप गियर में हैं। बाबा से जब पूछा गया कि आपकी सरकार ढाई वर्षों तक तो पहले ही गियर में चलती रही। इससे तो गाड़ी का गियर बॉक्स, ब्रेक सहित सब फेल हो गया होगा? बाबा ने तुरंत जवाब दिया, अपनी गाड़ी ठीक है, दूसरों की हमें चिंता नहीं।
ब्यूरोक्रेसी का गुस्सा
प्रदेश की ब्यूरोक्रेसी इन दिनों पूरे गुस्से में है। गुस्सा इस बात को लेकर अधिक है कि आईएएस लॉबी पर आईपीएस लाॅबी हावी पड़ रही है। मुख्य सूचना आयुक्त पद पर पूर्व डीजीपी यशपाल सिंघल की नियुक्ति के बाद तो यह अंदरूनी विवाद और गहरा गया है। यूं तो मुख्य सूचना आयुक्त और सूचना आयुक्तों के पद ब्यूरोक्रेसी की
नकेल कसने वाले सिस्टम के गर्वनर की भूमिका के लिए बनाए गये थे। कई राज्यों में राजनीतिजक गलियारों में अपनी पकड़ के बल पर ब्यूरोक्रेसी खुद सूचना नियंता तंत्र पर काबिज हो गई, लेकिन हरियाणा में आईपीएस लाबी आईएएस लाबी से भी ज्यादा स्मार्ट निकली। यह लगातार तीसरा झटका है, जो राज्य की अफसरशाही को मनो सरकार ने दिया है। इससे पहले आईपीएस शत्रुजीत कपूर को बिजली निगमों का चेयरमैन लगाकर मनो काका ब्यूरोक्रेसी को समझा चुके हैं कि हर पद पर आईएएस का अधिकार हो, ऐसा नहीं हो सकता।एक वरिष्ठ आईएएस इस बात को लेकर भी आहत हैं कि उनके ‘कर्ता-धर्ता’ भी कमजोर हैं।
कद की सियासत
नेताओं का ही राजनीतिक कद बड़ा या कम होता है। प्रदेश सरकार में इस कद को लेकर भी अलग ही तरह की सियासत हुई है। दरअसल, पिछले दिनों मंत्रिमंडल की बैठक में पुलिस कांस्टेबलों की हाइट कम की गयी। हाइट कम करने के पीछे जो तर्क दिया गया, वह बड़ा रोचक था। मीटिंग में चुटकी लेते हुए कहा गया, दक्षिण हरियाणा के लोगों की हाइट ज्यादा है, जैसे अपने पंडित रामबिलास जी की। धनखड़जी के इलाके के लोगों की हाइट भी सही है लेकिन उत्तरी हरियाणा के लोगों की हाइट कम है।


Comments Off on मनो काका के तेवर
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.