फिरोजपुर-झिरका में एक भी हेडमास्टर नहीं !    इससे अच्छी सफाई और खाना तो जेल का है !    सूने घर का ताला तोड़कर नकदी, आभूषण चोरी !    ‘बजट की कमी के चलते 6 माह से नहीं मिला वेतन’ !    स्कूलों को बंद करने पर प्रदर्शन !    विकास पर खर्च होंगे 2.79 करोड़ रुपये !    बढ़ा बस किराया जनता पर बोझ !    चीन में 150 की मौत, संसद सत्र स्थगित !    जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट के लिये 3 जजों की सिफारिश !    देहरादून-दिल्ली की दूरी घटाएगा एक्सप्रेस-वे !    

टेक्नोलॉजी के आंगन में हिंदी के ठाठ

Posted On September - 13 - 2014

चित्रांकन: संदीप जोशी

हिंदी भाषी टेक्नोलाॅजी प्रेमियों के वाकई अच्छे दिन आ गए हैं। मोबाइल और सॉफ्टवेयर कंपनियां पलक-पांवड़े बिछाकर उनका स्वागत कर रही हैं। बाजार में नए-नए सॉफ्टवेयर ला रही हैं। सोशल मीडिया में तकनीक से हिंदी की अभिव्यक्ित आसान हुई है। एक वजह यह भी है िक दुनिया में सबसे ज्यादा युवाओं के देश में बाजार की अपार संभावनाएं हैं। कंपनियां हिंदी यूजर के साथ कदमताल करने को आतुर हैं। हिंदी दिवस के मौके पर तकनीक में िहंदी की दखल बढ़ाने के गुर बता रहे हैं हरेंद्र चौधरी

हिन्दी और टेक्नोलॉजी के बीच की दूरियां लगातार सिमटती जा रही हैं और अब बारी है साथ चलने की। फेसबुक समेत सेलेब्रिटीज की फेवरेट सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर भी ठेठ देसी हो गई है। यहां पर भी हिन्दी में ट्विट्स और स्टेटस अपडेट किया जा सकता है। यहां तक कि स्मार्टफोन और टैबलेट्स भी अब हिन्दी में बतियाने लगे हैं। व्हाट्सअप पर हिन्दी में टाइपिंग करने वालों की तादाद लगातार बढ़ती जा रही है। मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम डेवलप करने वाली कंपनियां हिन्दी यूजर्स के साथ कदमताल करती नजर आ रही हैं। चाहे एंड्रॉयड हो या एपल का आईओएस, हिन्दी प्रेमियों को सभी लुभाने की कोशिश में लगे हैं। हिन्दी यूजर्स के लिए तकनीक की दुनिया में क्या है खास, आइए जानते हैं…
विंडोज 7 और 8 में इंस्टॉल करें हिन्दी कीबोर्ड
विंडोज 7 और 8 में हिन्दी इंस्टॉल करने बेहद आसान है। इन दोनों ओएस को हिन्दी यूजर्स की सुविधाओं को देखते हुए ही डेवलप किया गया है।
विंडोज 7 के लिए
स्टेप-1–पीसी के कंट्रोल पैनल में Regional and Language Options पर क्लिक करें।
स्टेप-2–इसके बाद Keyboards and Languages पर क्लिक करें। उसके बाद Change Keyboards पर क्लिक करने के बाद Add पर क्लिक करें। हिन्दी इंडिया सर्च करने के बाद + पर क्लिक करने बाद उसे एक्सपेंड करें। इसमें आपको देवनागरी इनस्क्रिप्ट का ऑप्शन दिखाई देगा।
स्टेप-3–अब हिन्दी सलेक्ट करके Keyboard Layout को सलेक्ट करें और Devanagari- INSCRIPT पर चेक करें। ओके पर क्लिक करने के बाद अप्लाई बटन पर क्लिक करें।
नोट–फोनेटिक यूजर देवनागरी इनस्क्रिप्ट पर क्लिक करें, वहीं अगर आप रेमिंग्टन यूजर हैं, तो हिन्दी ट्रैडिशनल को सलेक्ट करें।
स्टेप-4–अब वर्ड प्रोसेसर में जाकर alt + shift keys को एक साथ दबाएं, जिसके बाद यह हिन्दी पर शिफ्ट हो जाएगा। इंग्लिश कीबोर्ड पर जाने के लिए दोबारा alt + shift को एक साथ दबाएं।
विंडोज 8 के लिए
स्टेप-1–पीसी के कंट्रोल पैनल में Language Options पर क्लिक करें।
स्टेप-2–इसके बाद Add Languages पर क्लिक करें। माउस को स्क्रॉल करके नीचे एच सेक्शन में आएं और हिन्दी पर क्लिक करें।
स्टेप-3–लैंग्वेज सेक्शन में वापस जाएं और हिन्दी में Options पर क्लिक करें। यहां पर आपको Add an input method का ऑप्शन दिखाई देगा।
स्टेप-4–अगर फोनेटिक यूज करते हैं, तो Hindi (india) – Devanagari–Inscript पर क्लिक करें और वहीं अगर रेमिंग्टन यूजर हैं, तो हिन्दी ट्रैडिशनल को सलेक्ट करें। अब ADD बटन पर क्लिक करें।
स्टेप-5–वर्ड प्रोसेसर में जाकर alt + shift keys को एक साथ दबाने पर हिन्दी में टाइपिंग शुरू कर सकते हैं।
हिन्दी कीबोर्ड को सीधे एक्टिवेट करने के लिए
अगर आपको ऊपर वाले मेथड से करना थोड़ा कठिन लगता है, तो कुछ सिंपल उपाय भी है। इसके लिए http://bhashaindia.com/ilit/ की वेबसाइट पर सीधे जाकर हिन्दी टैब पर क्लिक करें। वहां आपको Install Desktop Version टैब दिखाई देगा, उस टैब पर क्लिक करने के बाद Install Now पर क्लिक करें और एप्लीकेशन को अपनी पीसी में सेव करें। ध्यान रखें कि यह एप्लीकेशन विंडोज 7, विस्टा और विंडोज एक्सपी को ही सपोर्ट करती है। एप्लीकेशन को रन करें। अब वर्ड प्रोसेसर में जाकर alt + shift keys को एक साथ दबाने पर हिन्दी में टाइपिंग शुरू कर सकते हैं।
स्मार्टफोन में हिन्दी टाइपिंग
अब अपने पीसी की तरह आप स्मार्टफोन और टैबलेट पर भी फटाफट टाइपिंग कर सकते हैं। हिन्दी को लेकर स्मार्टफोन ओएस डेवलप करने वाली कंपनियां कुछ न कुछ क्रिएटिव कर रही है। ऑपरेटिंग सिस्टम्स के नए वर्जंस में हिन्दी टाइपिंग को काफी इजी बनाया गया है।
एंड्रॉयड
एंड्रॉयड के लेटेस्ट वर्जन किटकैट को नेटिव सपोर्ट करता है। इसका मतलब है कि बिना किसी बाहरी एप्लीकेशन की मदद से डिवाइस पर हिन्दी में काम किया जा सकता है। गूगल हिन्दी इनपुट टूल की मदद से डिवाइस पर हिन्दी में काम कर सकते हैं।
एंड्रॉयड में हिन्दी को एक्टिवेट करने के लिए
1.अपनी डिवाइस में गूगल प्ले स्टोर पर Google Hindi Input सर्च करें।
2.एप्लीकेशन को अपनी डिवाइस में डाउनलोड करें।
3.Settings>Language And Input>Keyboard में जाकर Google Hindi Input को सलेक्ट करें।
4. हिन्दी टाइपिंग को एक्टिवेट करने के लिए डिवाइस में Settings>Language And Input पर जाएं।
5. इसके बाद Keyboard and Input Methods पर टैप करें।
6. हिन्दी (देवनागरी) की-बोर्ड चुनें और अपनी सेटिंग्स सेव कर लें।
7. कुछ फोंस में स्पेसबार बटन पर थोड़ा प्रेस करके हिन्दी से इंग्लिश और इंग्लिश से हिन्दी लैंग्वेज में स्विचओवर किया जा सकता है।
आईओएस
एपल ने आईफोन के नए वर्जन में आईओएस 8 देने का ऐलान किया है, जिसमें फुल हिन्दी सपोर्ट होगा। वहीं, इससे करंट वर्जन आईओएस 7 भी हिन्दी को सपोर्ट करता है। इसमें आसानी से हिन्दी टाइपिंग को एक्टिवेट किया जा सकता है। इसमें हिन्दी सपोर्ट डिस्प्ले लेवल पर न हो कर टाइपिंग भी की जा सकती है।
आईओएस में हिन्दी को एक्टिवेट करने के लिए
1.फोन में Settings>General>International पर टैप करें।
2.इसके बाद नीचे जाकर Keyboards पर टैप करें।
3.अब Add New Keyboard को टैप करें।
4. लिस्ट में हिन्दी को सलेक्ट करें।
अब आपको जब भी टाइप करना हो, की-बोर्ड पर नीचे दिखने वाले ग्लोब बटन को दबाएं, और हिन्दी में टाइप कर सकेंगे। ग्लोब बटन को फिर से दबाने पर अब अंग्रेजी में स्विचओवर किया जा सकता है।
ब्लैकबेरी के पुराने वर्जंस में हिन्दी में टाइपिंग करना बेहद मुश्किल रहा है। लेकिन ब्लैकबेरी ने हिन्दी यूजर्स में अपनी पॉपुलैरिटी बढ़ाने के लिए नए वर्जन ब्लैकबेरी 10 में हिन्दी यूनिकोड सपोर्ट दिया है। इसके अलावा ब्लैकबेरी 10.2 में हिंगलिश को भी जोड़ा गया है। वहीं 10.2.1 में हिन्दी कीबोर्ड इनपुट भी दिया गया है। साथ ही पुराने फोनों में मोजो हिन्दी एप को फोन में इंस्टॉल करके इसमें आसानी से हिन्दी टाइपिंग की जा सकती है।
ब्लैकबेरी में हिन्दी को एक्टिवेट करने के लिए
1.हैंडसेट के Settings>Language and Input>Input Languages पर जाएं।
2.यहां Add/Remove Languages पर टैप करें।
3. अब India (Hindi) को सलेक्ट करें।
4. अगर पुराना वर्जन यूज कर रहे हैं, तो मोजो हिन्दी टाइपिंग एप्लीकेशन को BlackBerry World>Apps> Utilities> Utilities> Mojo Hindi से डाउनलोड करें।
विंडोज मोबाइल
विंडोज मोबाइल 8.1 में हिन्दी टाइपिंग बेहद आसानी से की जा सकती है। हालांकि विंडोज इससे पहले भी अपने डेस्कटॉप पर हिन्दी सपोर्ट देता रहा है। लेकिन टैबलेट और स्मार्टफोन में यह नया है।

विंडोज 8.1 में हिन्दी को एक्टिवेट करने के लिए
1.हैंडसेट के सर्च बॉक्स में Languages टाइप करें।
2.अब Region and Language Settings पर क्लिक करें।
3.इसके बाद Add a Language पर टैप करें। हिन्दी को सलेक्ट करें।
4. कीबोर्ड सलेक्ट करने के लिए दोबारा Language पेज पर जाएं, जहां हिन्दी लिखा है। उस पर क्लिक करें।
5. Options>Add A keyboard पर क्लिक करके इनस्क्रिप्ट हिन्दी की-बोर्ड या कोई भी और आईएमई को सलेक्ट करें।
कुछ ऑनलाइन-ऑफलाइन टूल्स हिन्दी में ईमेल टाइप करने के लिए
अगर आप सॉफ्टवेयर इंस्टॉल किए बिना ही अपना ईमेल हिन्दी में भेजना चाहते हैं, तो आपको बस अपने जीमेल अकाउंट में कुछ मामूली सेटिंग्स करनी भर होंगी। गूगल ने जीमेल में इनबिल्ट गूगल इनपुट टूल दिया है, जो ट्रांसलिट्रेशन मेथड की मदद से आपकी भावनाओं को हिन्दी में इजहार कर सकता है। इसके लिए आपको अपने जीमेल की Settings में जाकर General को टैप करना होगा। इसमें Enable Input Tools के चेकबॉक्स पर राइट क्लिक करके इनपुट टूल को एक्टिवेट कर सकते हैं। सेटिंग के बगल में कीबोर्ड का आइकन दिखाई देगा, जहां पर आप हिन्दी- इनस्क्रिप्ट को सलेक्ट कर सकते हैं।
गूगल इनपुट टूल को करें डाउनलोड
गूगल इनपुट टूल को पीसी में भी इंस्टॉल किया जा सकता है। यूजर www.google.co.in/inputtools/ पर जाकर विंडोज टैब पर क्लिक करके टूल को अपने पीसी में इंस्टॉल कर सकते हैं। वहीं www.google.co.in/inputtools/tr/ पर क्लिक करके सीधे ऑनलाइन की हिन्दी टाइपिंग कर सकते हैं।
माइक्रोसॉफ्ट इंडिक लैंग्वेज इनपुट टूल
माइक्रोसॉफ्ट ने भी हिन्दी यूजर्स को ध्यान में रखते हुए अपना ऑनलाइन और ऑफलाइन उपलब्ध कराया हुआ है। ऑनलाइन टूल की मदद से यूजर वेब ब्राउजर में ही टाइपिंग कर सकते हैं। इसे गूगल क्रोम, इंटरनेट एक्सप्लोरर, मोजिला और सफारी ब्राउजर में इंस्टॉल किया जा सकता है। वहीं www. bhashaindia.com/ilit/HindiPreInstall.aspx पर जाकर अपनी पीसी में माइक्रोसॉफ्ट इंडिक लैंग्वेज इनपुट टूल को सीधे डाउनलोड कर सकते हैं।
हैंडराइटिंग रिकग्निशन
अगर आप एंड्रॉयड या आईओएस यूज करते हैं, तो इस सुविधा का फायदा उठा सकते हैं। यह एप आपको फोन में पहले से ही इंस्टॉल्ड है। अपने फोन की स्क्रीन पर आप हिन्दी में जो कुछ लिखेंगे, उसे यह टाइप किए हुए अक्षरों में बदल देगा। इससे आपको कीबोर्ड के बटन याद नहीं करने पड़ेंगे और फास्ट टाइपिंग कर सकेंगे। स्मार्टफोन या टैब के ब्राउजर में google.co.in खोलें। अब सेटिंग्स पर क्लिक करके search settings पर जाएं और handwrite ऑप्शन को टैप करें। Settings > Languages and Input में जाकर गूगल की लैंग्वेज भी हिन्दी कर कर लें। गूगल सर्च में इसका आप बेहतरीन इस्तेमाल कर सकते हैं।
गूगल ट्रांसलेट
अपने एंड्रॉयड फोन पर यूजर गूगल ट्रांसलेट को डाउनलोड करके इंग्लिश से हिन्दी और हिन्दी से इंग्लिश में ट्रांसलेट कर सकते हैं। इसके अलावा यह ट्रांसलेट किए हुए टेक्स्ट को बोल कर भी सुनाता है। गूगल प्ले स्टोर पर जाकर Google Translate टाइप करें और एप को फोन में इंस्टॉल कर लें। इसमें 80 भाषाओं को एक-दूसरे में ट्रांसलेट कर सकते हैं। इसके अलावा ऑनलाइन ट्रांसलेशन के लिए translate.google.com का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
बिंग ट्रांसलेटर
गूगल की तरह माइक्रोसॉफ्ट ने भी ऑनलाइन ट्रांसलेशन सर्विस शुरू की है। इसे भी आप अपने फोन में इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि यह गूगल जितनी शुद्ध ट्रांसलेशन नहीं करता है। इसके सर्च इंजन में भी ऑनलाइन ट्रांसलेशन की जा सकती है।http://www.bing.com/translator/ पर जाकर इसका फायदा उठा सकते हैं। यह वेब पेजेज का भी ट्रांसलेशन कर सकता है, साथ ही विंडोज 8 पर इसे ऑफलाइन यूज किया जा सकता है।
हिंदी में डोमेन नेम
किसी भी वेबसाइट के अड्रेस बार में जो यूआरएल दिखाई देता है, उसे तकनीकी भाषा में डोमेन नेम कहा जाता है। भारत सरकार पिछले कई सालों से इस पर काम कर रही है और उम्मीद है जल्द ही हिन्दी नामों में डोमेन नेम रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएंगे। जिसके बाद यूजर हिन्दी में नामों को रजिस्टर्ड करा सकेंगे। नाम के आखिर में .भारत लिखा आएगा। जैसे प्रधानमंत्री. भारत, सरकार. भारत, शिक्षा. भारत की तरह रजिस्ट्रेशन कराना संभव होगा।
सॉफ्टवेयर्स में हिन्दी
कोरल-ड्रा, अडोबी फोटोशॉप जैसे तमाम ऐसे सॉफ्टवेयर हैं, जहां हिन्दी टाइपिंग करना मुश्किल भरा रहा है और इसके लिए बड़ी मेहनत करनी पड़ती थी। लेकिन बदलते वक्त के साथ कई सॉफ्टवेयर्स के नए वर्जन में यूनिकोड के जरिए हिंदी में टेक्स्ट इनपुट करना, पेज डिजाइन करना, ग्राफिक्स और एनिमेशन आदि में यूनिकोड फॉन्ट्स का इस्तेमाल आसान हो गया है। इन डिजाइन सीएस 6, फोटोशॉप सीएस 6, क्वॉर्क एक्सप्रेस 9 और कोरल ड्रॉ एक्स 6 में हिंदी में यूनिकोड टेक्स्ट टाइपिंग की जा सकती है।


Comments Off on टेक्नोलॉजी के आंगन में हिंदी के ठाठ
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.