चैनल चर्चा !    सुकून और सेहत का संगम !    गुमनाम हुए जो गायक !    फ्लैशबैक !    'एवरेज' कहकर रकुल को किया रिजेक्ट! !    बदलते मौसम में त्वचा रोग और सफेद दाग !    सिल्वर स्क्रीन !    तुतलाहट से मुक्ति के घरेलू नुस्खे !    हेलो हाॅलीवुड !    वर्तमान डगर और कर्म निरंतर !    

नेताओं के व्यक्तिगत लांछन, कड़वाहट से भरा रहा प्रचार

Posted On May - 10 - 2014

नयी दिल्ली 10 मई (वार्ता)
16वीं लोकसभा के लिये पिछले 2 महीने से चले आ रहे चुनाव प्रचार का शोर शनिवार शाम थम गया लेकिन इस दौरान विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने एक दूसरे पर जिस तरह के तीखे और व्यक्तिगत हमले किये उसकी टीस लंबे समय तक सालती रहेगी।
नेताओं के व्यक्तिगत हमले और लांछनों के चलते इस बार का चुनाव प्रचार का स्तर काफी गिर गया और राजनीतिक माहौल कड़वाहट से भर गया है। इन चुनावों के बाद जो भी दल सत्ता में आयेगा उसे इस कड़वाहट को दूर करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।
लोकतंत्र के इस महाकुंभ में चुनाव प्रचार में शायद ही कोई ऐसा दिन गया, जब किसी न किसी दल ने अपनी तरफ से या प्रतिक्रिया स्वरूप कोई टिप्पणी नहीं की जिससे राजनीतिक माहौल का तापमान गर्मी के तापमान को पार करता रहा।
यह आम चुनाव अभी तक के सबसे लंबे चले चुनावों के लिये याद किया जायेगा। चुनाव में विभिन्न राजनीतिक दलों तथा निर्दलीय के रूप में 8230 उम्मीदवारों ने अपनी राजनीतिक पारी खेली है। इस दौरान कभी कभी तो इतने कड़वे बयान सामने आये कि आयोग को कई बार चेतावनी देनी पड़ी और ऐसे नेताओं को संयमित भाषा का इस्तेमाल करने का आदेश देना पड़ा। समाजवादी पार्टी के आजम खान तथा भाजपा के अमित शाह के बयानों पर तो आयोग को कड़े कदम उठाते हुए उनके चुनाव प्रचार पर ही रोक लगानी पड़ी। अमित शाह ने तो आयोग से खेद व्यक्त किया और उसके बाद उन्हें प्रचार शुरू करने की इजाजत मिल गयी लेकिन आजम खान आयोग को ही निशाना बनाते रहे।


Comments Off on नेताओं के व्यक्तिगत लांछन, कड़वाहट से भरा रहा प्रचार
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.