1100 नंबर पर शिकायत का हुआ उलटा असर! !    चैनल चर्चा !    सुकून और सेहत का संगम !    गुमनाम हुए जो गायक !    फ्लैशबैक !    'एवरेज' कहकर रकुल को किया रिजेक्ट! !    बदलते मौसम में त्वचा रोग और सफेद दाग !    सिल्वर स्क्रीन !    तुतलाहट से मुक्ति के घरेलू नुस्खे !    हेलो हाॅलीवुड !    

चुनाव प्रचार में बारिश, तेज हवाओं ने डाला खलल

Posted On May - 4 - 2014

शिमला, 4 मई (निस)
हिमाचल प्रदेश में अंतिम दौर में चल रहे लोकसभा चुनाव प्रचार में रविवार को मौसम ने अनेक स्थानों पर खलल डाला। नतीजतन पहले से ही धीमे चल रहे चुनाव प्रचार की गति  और भी कम हो गई। राजधानी शिमला सहित राज्य के कई हिस्सों में दोपहर बाद से ही रुक-रुक कर वर्षा और तेज हवाएं चल रही हैं। मौसम में आए इस बदलाव का हालांकि बड़े नेताओं की चुनाव रैलियों पर कोई खास असर नहीं पड़ा लेकिन मौसम के मिजाज ऐसे ही बने रहे तो सक्रिय चुनाव प्रचार के अंतिम दिन सोमवार को प्रदेश में बड़े नेताओं का चुनाव प्रचार प्रभवित हो सकता है। इनमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह भी शामिल हैं जिन्हें सोमवार को किन्नौर के रिकांगपिओ में एक चुनावी रैली को संबोधित करना है। खराब मौसम के चलते राजधानी शिमला सहित जिले के ऊपरी हिस्सों में चुनाव प्रचार लगभग ठप रहा।
जिले के ऊपरी हिस्सों में दोपहर से ही रुक-रुक कर तेज वर्षा हो रही है। इस कारण जहां तापमान में जोरदार गिरावट आई है वहीं किसानों और बागवानों की चिंता फिर से बढ़ गई है। क्योंकि ऐसे मौसम में ओलावृष्टि की संभावनाएं ज्यादा प्रबल हो जाती हैं।

अधिकतम तापमान में 1 से 2 डिग्री की कमी
मौसम विभाग के अनुसार बीते 24 घंटों के दौरान राज्य के अधिकतम तापमान में एक से 2 डिग्री सेल्सियस तक की कमी आई है। राज्य के निचले हिस्सों के लोगों को मौसम के इस बदलाव से तेज गर्मी से राहत भी मिली है। ऊना सहित कई इलाकों में इन दिनों अधिकतम तापमान 40 डिग्री तक पहुंच गया है जिस कारण लोगों को जोरदार गर्मी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि मध्यम और अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में मौसम सुहावना बना हुआ है।
यह है पूर्वानुमान मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को भी प्रदेश में कुछ स्थानों पर वर्षा और तेज हवाओं का सिलसिला जारी रहने की संभावना है। राज्य के जनजातीय इलाकों में मौसम विभाग ने 7 मई तक वर्षा और बर्फबारी की संभावना जताई है।


Comments Off on चुनाव प्रचार में बारिश, तेज हवाओं ने डाला खलल
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.