वर्तमान डगर और कर्म निरंतर !    लिमिट से ज्यादा रखा प्याज तो गिरेगी गाज !    फिर उठा यमुना नदी पर पुल बनाने का मुद्दा !    कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से बहाल होगी इंटरनेट सेवा !    बर्फबारी ने कई जगह तोड़ी तारबंदी !    सुजानपुर में क्रिकेट सब सेंटर जल्द : अरुण धूमल !    पंजाब में नदी जल के गैर-कृषि इस्तेमाल पर लगेगा शुल्क !    जनजातीय क्षेत्रों में ठंड का प्रकोप जारी !    कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या !    सेना का 'सिंधु सुदर्शन' अभ्यास पूरा !    

चुनाव प्रचार के आखिरी दौर में भाजपा-कांग्रेस ने ताकत झोंकी

Posted On May - 4 - 2014

देहरादून: उत्तराखंड की 5 लोकसभा सीटों के लिए 7 मई को होने वाले मतदान से पहले चुनाव प्रचार के आखिरी दौर में दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों कांग्रेस और भाजपा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है और यहां सीधा मुकाबला मुख्यमंत्री हरीश रावत और राजग के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के बीच नजर आ रहा है।  चुनाव प्रचार सोमवार शाम शाम बंद हो जाएगा। यहां 5 सीटों पौडी, टिहरी, अल्मोड़ा, नैनीताल और हरिद्वार पर कांग्रेस व भाजपा में सीधी टक्कर है।
सबसे रोचक मुकाबला हरिद्वार सीट पर हो रहा है जहां मुख्यमंत्री रावत की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। यहां से उनकी पत्नी रेणुका रावत भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को कड़ी टक्कर दे रही हैं। हालांकि इस सीट से आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार और भारत की पहली महिला पुलिस महानिदेशक कंचन चौधरी भट्टाचार्य भी ताल ठोंक रही हैं।  हरिद्वार लोकसभा सीट जनसंख्या की दृष्टि से उत्तराखंड का सबसे बड़ा संसदीय क्षेत्र है, यहां 16 लाख से भी अधिक मतदाता प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे। बीते दिन रुड़की क्षेत्र में मोदी ने रैली करके भाजपा के पक्ष में माहौल बनाने का प्रयास किया तो रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने हालात को कांग्रेस के पक्ष में मोडऩे की कोशिश की।

हरिद्वार सबसे हॉट सीट
मेरी सरकार गिरी तो भाजपा अगले 20-25 साल प्रदेश में नहीं जीत पाएगी: रावत
हरिद्वार इस वक्त उत्तराखंड का सबसे महत्वपूर्ण संसदीय क्षेत्र है जहां दोनों पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक कर मुकाबले को रोचक बना दिया है। हालांकि मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रचार की पूरी कमान अपने हाथों में ली हुई है और वे ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं।  रावत ने यह कहकर माहौल और गरमा दिया कि भाजपा उनकी सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है। उन्होंने अपने अंदाज में भाजपा को चेतावनी दी कि अगर उनकी सरकार गिरती है तो भाजपा अगले 20 से 25 साल तक यहां जीत नहीं पाएगी।

टिहरी सीट
एक अन्य रोचक मुकाबले में टिहरी लोकसभा सीट पर भाजपा की मौजूदा सांसद और टिहरी राजवंश की महारानी माला राज्यलक्ष्मी शाह पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के पुत्र साकेत के खिलाफ कड़े संघर्ष में हैं। प्रचार का पूरा जिम्मा स्वयं विजय बहुगुणा ने अपने कंधों पर उठाया हुआ है।

पौड़ी सीट
पौड़ी क्षेत्र से पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता भुवन चंद्र खंडूरी राज्य के कृषि मंत्री हरक सिंह रावत के खिलाफ खड़े हैं। खंडूरी पहले भी यहां से लगातार 4 बार चुनाव जीत चुके हैं और प्रदेश में  कद्दावर नेता की हैसियत होने के कारण कांग्रेस प्रत्याशी पर पलड़ा भारी दिख रहा है।

24 किमी. पैदल चलकर पहुंचेंगे पोलिंग कर्मचारी
पौड़ी लोकसभा सीट के तहत चमोली जिले के बद्रीनाथ क्षेत्र में राज्य के दूरस्थ मतदान केन्द्रों डूमक, कलगोठ तथा ईराणी मौजूद हैं, जिनके लिए मतदान कर्मियों को क्रमश: 24, 21 और 22 किलोमीटर पैदल चलकर मतदान कराना होगा। इनके अलावा राज्य में 0 से 3 किलोमीटर की पैदल दूरी के 8777 मतदान केन्द्र, 3 से 5 किमी तक के 640 मतदान केन्द्र, 5 से 10 किमी तक की दूरी के 594 मतदान केन्द्र, 10 से 15 किमी तक के 68 मतदान केन्द्र तथा 15 से 20 किमी के 15 मतदान केन्द्र शामिल हैं।


Comments Off on चुनाव प्रचार के आखिरी दौर में भाजपा-कांग्रेस ने ताकत झोंकी
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.