1100 नंबर पर शिकायत का हुआ उलटा असर! !    चैनल चर्चा !    सुकून और सेहत का संगम !    गुमनाम हुए जो गायक !    फ्लैशबैक !    'एवरेज' कहकर रकुल को किया रिजेक्ट! !    बदलते मौसम में त्वचा रोग और सफेद दाग !    सिल्वर स्क्रीन !    तुतलाहट से मुक्ति के घरेलू नुस्खे !    हेलो हाॅलीवुड !    

गांधी की भूमि पर बाहुबल

Posted On April - 25 - 2014

मानस दासगुप्ता
पोरबंदर, 25 अप्रैल
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जन्मस्थली पोरबंदर पूरे गुजरात में ऐसी सीट है जिसे कांग्रेस ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के लिए छोड़ दिया ताकि भाजपा विरोधी वोटों का बंटवारा न हो। यहां राकांपा के उम्मीदवार कंधाल जडेजा भाजपा उम्मीदवार विट्ठल राडाडिया के खिलाफ उतरे हैं और पार्टी के रणनीतिकार जानते हैं कि कंधाल के आने से राडाडिया की राह इतनी आसान नहीं रही है। गौरतलब है कि दोनों नेता बाहुबली हैं, जडेजा पूर्व ‘गॉडमदर’ संतोखबेन जडेजा के बेटे हैं। वहीं राडाडिया के खिलाफ भी कई मामले दर्ज हैं। दोनों राज्य विधानसभा में विधायक हैं।

अपराध भरा अतीत
भाजपा उम्मीदवार विट्ठल राडाडिया के खिलाफ हमले, दंगा फैलाने, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने आदि के 10 मामले लंबित हैं तो राकांपा उम्मीदवार कंधाल जडेजा के खिलाफ भी 9 मामले दर्ज हैं।

मोदी नहीं कुल के नाम पर लड़ाई
पोरबंदर सीट पूरे देश में शायद ऐसी सीट है जहां पर गुजरात के मुख्यमंत्री और भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी कहीं नहीं हैं। मोदी के अपने ही प्रदेश में उनके नाम पर चुनाव नहीं लड़ा जा रहा बल्कि कुल के नाम पर यहां राजनीतिक लड़ाई हो रही है। हैरानी हो सकती है लेकिन यह सच है, यहां दोनों उम्मीदवार अपने परिवार और प्रतिष्ठा के नाम पर उतरे हैं।

बदलते रहे हैं पार्टियां
राडाडिया धुराजी विधानसभा सीट से मौजूदा विधायक हैं, वे इस सीट को दो बार जीत चुके हैं। एक बार भाजपा उम्मीदवार के नाते और दूसरी बार कांग्रेस उम्मीदवार रहते हुए। वहीं पोरबंदर लोकसभा सीट पर भी उन्होंने 3 बार जीत हासिल की है। 2 बार कांग्रेस की टिकट पर और एक बार 2013 में उपचुनाव के दौरान भाजपा की टिकट पर। वर्ष 2012 में उन्होंने सांसद पद से इस्तीफा देकर विधानसभा चुनाव लड़ा था लेकिन विपक्ष के नेता का पद देने से इंकार के बाद उन्होंने कांग्रेस को छोड़ दिया और भाजपा में आ गए। भाजपा ने उन्हें पोरबंदर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के दौरान फिर से उम्मीदवार बनाया और वे जीत गए।

कब-कौन जीता
1977 धर्मासिंहभाई पटेल जनता पार्टी
1980 मलदेवजी आडेडरा कांग्रेस
1984 पुरुषोत्तमभाई वी. भालोदिया कांग्रेस
1989 बलवंतभाई मनवर जनता दल
1991 हरिलाल पटेल भाजपा
1996 गोरधनभाई जाविया भाजपा
1998 गोरधनभाई जाविया भाजपा
1999 गोरधनभाई जाविया भाजपा
2004 हरिलाल पटेल भाजपा
2009 विट्ठल राडाडिया कांग्रेस
2013 विट्ठल राडाडिया भाजपा (उपचुनाव)

7 विधानसभा सीटें आती हैं क्षेत्र में
गोंदल, जेतपुर, धुराजी, पोरबंदर, कुटियाना, मानवादर, कसोड


Comments Off on गांधी की भूमि पर बाहुबल
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.