लघु सचिवालय में खुला बेबी डे-केयर सेंटर !    बुजुर्ग कार चालकों से होने वाले हादसे रोकने के विशेष उपाय !    कुत्तों ने सीख लिया है भौंहें मटकाना! !    शांत क्षेत्र में सैन्य अफसरों को फिर से मुफ्त राशन !    योगी के भाषण, संदेश संस्कृत में भी !    फर्जी फर्म बनाकर किया 50 करोड़ से ज्यादा जीएसटी का फर्जीवाड़ा !    जादू दिखाने हुगली में उतरा जादूगर डूबा !    प्राकृतिक स्वच्छता के लिए यज्ञ जरूरी : आचार्य देवव्रत !    मानवाधिकार आयोग का स्वास्थ्य मंत्रालय, बिहार सरकार को नोटिस !    बांग्लादेश ने विंडीज़ को 7 विकेट से रौंदा, साकिब का शतक !    

मोहाली अब होगा अजीतगढ़

Posted On February - 13 - 2012

नयी दिल्ली, 12 फरवरी (भाषा)। शेक्सपीयर ने भले ही कहा हो कि नाम में क्या रखा है लेकिन अपने केन्द्रीय गृह मंत्रालय के लिए यह लाखों लोगों की भावनाओं से जुड़ा मामला है। मंत्रालय ने पिछले एक दशक के दौरान देश भर के 25 से अधिक कस्बों के नाम बदलने के प्रस्ताव मंजूर किए। सबसे अधिक 17 कस्बों के नाम केरल में बदले गए। उसके बाद पंजाब के चार कस्बों के नाम बदले गए जबकि ओडिशा के दो कस्बों के नाम बदलने के प्रस्ताव मंजूर किए गए। गृह मंत्रालय ने मध्य प्रदेश में हालांकि दो कस्बों के नाम बदलने का प्रस्ताव मंजूर किया लेकिन राजधानी भोपाल का नाम बदलकर भोजपाल करने के प्रस्ताव को नामंजूर कर दिया। पंजाब के मोहाली (साहिबजादा अजीत सिंह नगर) को अब अजीतगढ़ के नाम से जाना जायेगा जबकि सुनाम कस्बे को सुनाम ऊधम सिंह वाला कहा जाएगा।
नवांशहर का नाम बदलकर शहीद भगत सिंह नगर किया गया है जबकि मुक्तसर कस्बे को अब श्री मुक्तसर साहिब के नाम से जाना जाएगा। ओडिशा के फूलबनी को बौध कौधमाल के नाम से जाना जाएगा जबकि सोनापुर का नाम बदलकर सुबर्णपुर किया गया है। केरल में त्रिचूर को त्रिसूर, क्विलोन को कोल्लम, अलेप्पी को अलपुझा, पालघाट को पालक्कड़, कोन्नानोर को कन्नूर, तेलीचेरी को थालासेरी, बडागरे को वडाकरा, परूर को परावूर और अलवाए को अलूवा नाम दिया गया है। केरल में जिन अन्य कस्बों के नाम बदले गए हैं, उनमें देवी कोलम को देवीकुलम,नाम दिया गया है।


Comments Off on मोहाली अब होगा अजीतगढ़
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.