हुवावेई को 5जी नेटवर्क से अलग रखने के ब्रिटेन के फैसले से अमेरिका खुश! !    भारतीय-अमेरिकी दंपति 4 लाख डॉलर की धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार !    प्राइमरी जीतने वाली दूसरी भारतीय-अमेरिकी बनीं सारा गिडियन! !    देहरादून में मकान ढहा, एक बच्ची, गर्भवती महिला समेत 3 की मौत !    पायलट, 18 अन्य बागी विधायकों को अयोग्य ठहराने की कार्यवाही शुरु, दिये गये नोटिस! !    सोना तस्करी मामला : केरल के आईएएस अधिकारी से 9 घंटे तक पूछताछ ! !    बैगन-आर और बलेनो के ईंधन पंप खराब, 1.35 लाख कारें वापस मंगाई !    कोरोना : देश में एक दिन में रिकार्ड 29,429 नये मामले! !    सीबीएसई ने घोषित किया 10वीं कक्षा का परिणाम, 91.46 विद्यार्थी पास! !    संयुक्त राष्ट्र के उच्च स्तरीय सत्र को संबोधित करेंगे मोदी !    

असुरक्षा की भावना दूर करे पाक : भारत

Posted On June - 15 - 2010

नयी दिल्ली, 14 जून (भाषा)। पाकिस्तान के साथ ‘विश्वास की कमी’ को दूर करने की प्रक्रिया के तहत होने वाली बातचीत के पूर्व भारत ने इस पड़ोसी देश से कहा है कि वह दोनों देशों के आकार और क्षमताओं जैसी विषमताओं को लेकर अपनी ‘असुरक्षा की भावना दूर करे।’
भारत ने कहा कि वह भारत-अमेरिका परमाणु करार से प्राप्त रणनीतिक लाभ सहित आकार और क्षमताओं जैसी विषमताओं को लेकर चिंतित नहीं हो क्योंकि इन सबका निशाना उसकी ओर नहीं है। विदेश सचिव निरूपमा राव ने कहा कि भारत स्थिर, शांतिपूर्ण और आर्थिक रूप से प्रगतिशील पाकिस्तान चाहता है। उन्होंने कहा कि दोनों देश अपने संबंधों को बेहतर बनाना चाहते हैं और इसके लिए कई मुद्दों की ओर ध्यान दिए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा-हम गंभीरता से पाकिस्तान के साथ शांति चाहते हैं। इसके अलावा हमें अपने आकार और क्षमता संबंधी विषमताओं के साथ रहना सीखना होगा। ऐसे अंतर हमें मिलकर काम करने से नहीं रोक सकते। पाकिस्तान को इन सब मुद्दों से संबंधित असुरक्षा की भावना को दूर करना चाहिए। विदेश सचिव निरूपमा राव ने पाकिस्तान से धर्म के दायरे में कट्टरपंथी विचारधारा के प्रवेश पर रोक लगाने को कहा क्योंकि इसका असर दोनों देशों के बीच शांति और सुरक्षा पर हो सकता है और कश्मीर पर मतभेद को और मुश्किल बना सकते हैं।
विदेश सचिव ने कहा कि कट्टरपंथी और आतंकवादी ताकतें पाकिस्तानी सिविल सोसाइटी में लोकतांत्रिक और उदारवादी शक्तियों को परास्त करने का प्रयास कर रही हैं। उन्होंने कहा कि युद्ध के अन्य तरीके के रूप में आतंकवाद का जारी रहना और सामरिक हथियार के रूप में भारत के खिलाफ इसके उपयोग की इजाजत नहीं दी जा सकती। दिल्ली पॉलिसी ग्रुप द्वारा आयोजित ‘अफगास्तिान-इंंडिया-पाकिस्तान ट्राइलॉग’ में निरूपमा ने कहा कि भारत के साथ बेहतर संबंधों को ध्यान में रखते हुए पाकिस्तान को उन आतंकवादी समूहों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करनी चाहिए जो दोनों देशों के बीच सहयोग और शांति की संभावनाओं को प्रभावित करना चाहते हैं। विदेश सचिव निरूपमा राव की यह टिप्पणी ऐसे वक्त आई है जब इसी महीने दोनों देशों के विदेश सचिवों की बैठक होने वाली है। इसके अलावा अगले महीने दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक होने वाली है।


Comments Off on असुरक्षा की भावना दूर करे पाक : भारत
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.