हुवावेई को 5जी नेटवर्क से अलग रखने के ब्रिटेन के फैसले से अमेरिका खुश! !    भारतीय-अमेरिकी दंपति 4 लाख डॉलर की धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार !    प्राइमरी जीतने वाली दूसरी भारतीय-अमेरिकी बनीं सारा गिडियन! !    देहरादून में मकान ढहा, एक बच्ची, गर्भवती महिला समेत 3 की मौत !    पायलट, 18 अन्य बागी विधायकों को अयोग्य ठहराने की कार्यवाही शुरु, दिये गये नोटिस! !    सोना तस्करी मामला : केरल के आईएएस अधिकारी से 9 घंटे तक पूछताछ ! !    बैगन-आर और बलेनो के ईंधन पंप खराब, 1.35 लाख कारें वापस मंगाई !    कोरोना : देश में एक दिन में रिकार्ड 29,429 नये मामले! !    सीबीएसई ने घोषित किया 10वीं कक्षा का परिणाम, 91.46 विद्यार्थी पास! !    संयुक्त राष्ट्र के उच्च स्तरीय सत्र को संबोधित करेंगे मोदी !    

अपने ही जज के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में शिकायत की कर्नाटक हाईकोर्ट ने

Posted On June - 15 - 2010

नयी दिल्ली, 14 जून (भाषा)। कर्नाटक हाई कोर्ट ने एक असामान्य कार्रवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट में अपने ही न्यायाधीश डीवी शैलेंद्र कुमार के खिलाफ शिकायत कर उन पर मुख्य न्यायाधीश पीडी दिनाकरन को ‘असंयमित’ भाषा का इस्तेमाल कर ‘फटकारने’ का आरोप लगाया है।
याचिका में न्यायमूर्ति शैलेंद्र कुमार की अध्यक्षता वाली एक पीठ के कुछ फैसलों को भी रद्द करने की मांग की है, जिनमें उन्होंने न्यायमूर्ति दिनाकरन के कुछ प्रशासनिक फैसलों पर आपत्ति जताई थी। न्यायमूर्ति शैलेंद्र कुमार पहले भी अपने ब्लाग में न्यायमूर्ति दिनाकरन पर निशाना साध चुके हैं।
न्यायमूर्ति दीपक वर्मा और न्यायमूर्ति केएस राधाकृष्णन की अवकाशकालीन पीठ के समक्ष उच्च न्यायालय के महापंजीयक के माध्यम से दाखिल याचिका पर कल सुनवाई होगी।
सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने न्यायमूर्ति दिनाकरन के खिलाफ भ्रष्टाचार और जमीन हड़पने के आरोपों के मद्देनजर किसी अन्य हाई कोर्ट में उनके तबादले की सिफारिश की थी। वह तब से न्यायमूर्ति शैलेंद्र कुमार के निशाने पर हैं।
हाई कोर्ट ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि न्यायमूर्ति शैलेंद्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ प्रचार के लिए मुख्य न्यायाधीश दिनाकरन के खिलाफ ‘असंयमित’ भाषा का इस्तेमाल कर रही है और यहां तक कि उन्होंने आदेशों का पालन नहीं होने की स्थिति में मौखिक तौर पर रजिस्ट्री के खिलाफ अवमानना कार्यवाही शुरू करने की धमकी दी।


Comments Off on अपने ही जज के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में शिकायत की कर्नाटक हाईकोर्ट ने
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.